• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Sirohi News
  • गोपालन मंत्री पर भारी कलेक्टर का आदेश जलापूर्ति के दौरान अब भी कट रही बिजली
--Advertisement--

गोपालन मंत्री पर भारी कलेक्टर का आदेश जलापूर्ति के दौरान अब भी कट रही बिजली

Dainik Bhaskar

May 17, 2018, 07:20 AM IST

जलदाय विभाग की मांग पर कलेक्टर ने किया था जलापूर्ति के दौरान बिजली कटौती का आदेश

भास्कर न्यूज | सिरोही

शहर में जलापूर्ति के दौरान बिजली कटौती को लेकर कलेक्टर का आदेश गोपालन राज्यमंत्री ओटाराम देवासी के आदेश पर भारी पड़ रहा है। जलदाय विभाग ने जलापूर्ति के दौरान बिजली कटौती के लिए कलेक्टर से मांग की थी, जिस पर कलेक्टर ने बिजली कटौती के आदेश किए। लेकिन, कम दबाव से हो रही जलापूर्ति के कारण बिना बूस्टर लगाए पानी मिलना मुश्किल हो रहा है।

शहरवासियों की मांग पर गोपालन राज्यमंत्री ओटाराम देवासी ने नगरपरिषद के सभापति सहित जनप्रतिनिधियों व पार्टी पदाधिकारियों की उपस्थिति में डिस्कॉम और पीएचईडी के अधिकारियों की सर्किट हाउस में बैठक लेकर जलापूर्ति के दौरान बिजली कटौती नहीं करने के निर्देश दिए थे। गोपालन राज्यमंत्री के आदेश को छह दिन हो चुके हैं, लेकिन आज भी शहर में जलापूर्ति के दौरान बिजली कटौती जारी है। डिस्कॉम का कहना है कि कलेक्टर के आदेश की पालना में बिजली कटौती की जा रही है। कटौती नहीं करने का आदेश मिलने पर बंद कर देंगे। इधर, गोपालन राज्यमंत्री का कहना है कि फिर से विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक कर इसकी पालना करवाएंगे।

गोपालन राज्यमंत्री ने बिजली नहीं काटने के दिए थे निर्देश

किसने क्या दिया आदेश और नतीजा क्या

कलेक्टर

8 मई को कलेक्टर बाबूलाल मीणा ने आदेश किया था कि शहर में बिजली आपूर्ति के दौरान बिजली आपूर्ति बंद रहेगी। इसके लिए जलदाय विभाग के एक्सईएन व एसई ने कलेक्टर को पत्र लिखा था, जिसमें जलापूर्ति के दौरान बूस्टर लगाने से कई घरों तक पानी नहीं पहुंचना इसकी वजह बताई थी।

शहर में एकांतरे जलापूर्ति के बावजूद स्थिति संतोषजनक नहीं

जिला मुख्यालय होने के बावजूद यहां एकांतरे जलापूर्ति की जा रही है। इसकी वजह जलदाय विभाग के पास पर्याप्त स्टोरेज नहीं होना है। विभाग को चाहिए कि स्टोरेज बढ़ाया जाए। एकांतरे जलापूर्ति के दौरान भी बार-बार जलापूर्ति बाधित होने से शहरवासियों के लिए गर्मी के दिनों में मुश्किलें बढ़ जाती है। इधर, गर्मी तेज होने के कारण पानी की मांग भी बढ़ गई है। शहर कई इलाकों में पर्याप्त पानी की सप्लाई नहीं होने से लोगों को पेयजल के लिए भी टैंकर मंगवाकर पानी की व्यवस्था करनी पड़ रही है। अब पेयजल सप्लाई के दौरान बिजली कटौती होने से शहरवासी भी परेशान है। मंत्री के आदेश के बाद भी बिजली कटौती बंद नहीं करने से लोगों में भी विभाग के प्रति आक्रोश है।

नहीं मिला कटौती बंद करने का आदेश


दुबारा लेंगे बैठक, कटौती बंद करवाएंगे


राज्यमंत्री

गोपालन राज्यमंत्री ओटाराम देवासी ने 10 मई को सर्किट हाउस में जलापूर्ति व्यवस्था में सुधार के लिए डिस्कॉम और पीएचईडी के अधिकारियों की बैठक ली। जिसमें पीएचईडी के अधिकारियों को पेयजल व्यवस्था बिगड़ने पर कार्रवाई की चेतावनी दी और डिस्कॉम अधिकारियों जलापूर्ति के दौरान बिजली कटौती तत्काल बंद करने के निर्देश दिए थे।


यह हो सकता है समाधान




X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..