--Advertisement--

शिविर में आए चार प्रकरण, एक का किया समाधान

राजस्व मंडल अजमेर के अध्यक्ष वी. श्रीनिवास ने वराड़ा गांव में आयोजित राजस्व लोक अदालत अभियान न्याय आपके द्वार...

Danik Bhaskar | May 17, 2018, 07:20 AM IST
राजस्व मंडल अजमेर के अध्यक्ष वी. श्रीनिवास ने वराड़ा गांव में आयोजित राजस्व लोक अदालत अभियान न्याय आपके द्वार शिविर का अवलोकन किया। इस दौरान उन्होंने शिविर लगे विभिन्न विभागों के काउंटरों को देखा तथा प्रगति की जानकारी ली। साथ ही अधिकारियों को निर्देश दिए। इसके बाद शिविर में उपस्थित ग्रामीणों से कहा राज्य सरकार का ग्रामीण जनता को त्वरित एवं सुलभ न्याय प्रदान करने की दिशा में यह महत्वपूर्ण कदम है। उन्होंने कहा कि राजस्व लोक अदालत अभियान: न्याय आपके द्वार शिविर 30 जून तक चलेगा। कलेक्टर बाबूलाल मीणा ने कहा कि इस शिविर में ग्रामीणों की समस्याओं का निराकरण मौके पर किया जा रहा है भाजपा जिलाध्यक्ष लूंबाराम चौधरी ने सरकारी योजनाओं की जानकारी देते हुए इस शिविर से लाभांवित होने का आव्हान किया। उपखंड अधिकारी नाथूसिंह ने बताया कि उपखंड न्यायालय में वराड़ा गांव के विचाराधीन 4 प्रकरणों में 1 प्रकरण का निस्तारण किया गया। इस मौके राजस्व मंडल अध्यक्ष वी श्रीनिवासन के हाथों उज्जवला योजना के तहत सिरोही गैस सर्विस की ओर से सात गैस कनेक्शन वितरित किए गए। इस दौरान डीएसओ महावीर प्रसाद व्यास, सिरोही गैस सर्विस के भवानीसिंह शेखावत व अन्य मौजूद थे।

रेवदर में 44 वर्ष बाद मिला खातेदारी भूमि में हक

इसी प्रकार पीठासीन अधिकारी पर्वत सिंह चुंडावत ने बताया कि उपखंड क्षेत्र पिंडवाड़ा की ग्राम पंचायत लौटाना में राजस्व लोक अदालत अभियान न्याय आपके द्वार शिविर में राजस्व विभाग की ओर से कोर्ट कैम्प में विभिन्न मामले निपटाए गए। इस मौके विधायक समाराम गरासिया ने ग्रामीणों से आव्हान किया आधारभूत सुविधाओं की समस्याओं का मौके पर निस्तारण करवाएं। इसी प्रकार पंचायत समिति रेवदर की ग्राम पंचायत नागणी में आयोजित शिविर में 44 वर्ष बाद दो पुत्रियों को उनके पिता के खातेदारी भूमि में हक दिलाया गया।

आज झाड़ोली व पोसितरा में होगा शिविर

राजस्व लोक अदालत : न्याय आपके द्वार अभियान के तहत गुरुवार को झाड़ोली व पोसितरा में शिविर का आयोजन किया जाएगा।

वराड़ा में न्याय आपके द्वार शिविर का आयोजन, राजस्व मंडल अजमेर के अध्यक्ष वी श्रीनिवास ने किया अवलोकन

सिरोही. उज्जवला योजना के तहत महिलाओं को गैस कनेक्शन वितरित किए गए।