--Advertisement--

भगवान महावीर का मनाया निर्वाण महोत्सव, रोशनी से जगमगाया पावापुरी

Dainik Bhaskar

Nov 11, 2018, 09:16 AM IST

Sirohi News - सिरोही. पावापुरी में आयोजित निर्वाण महोत्सव के तहत रात को महाआरती की गई। दीपावली को लेकर पावापुरी में की रोशनी,...

Sirohi - nirvana festival celebrated by lord mahavir illuminated by jagmagaya pavpuri
सिरोही. पावापुरी में आयोजित निर्वाण महोत्सव के तहत रात को महाआरती की गई।

दीपावली को लेकर पावापुरी में की रोशनी, जल मंदिर में मनाया निर्वाण महोत्सव

भास्कर न्यूज | सिरोही

पावापुरी तीर्थ एवं जीव मैत्रीधाम में दीपावली के अवसर पर रोशनी एवं रंगोली की सजावट के साथ रात में भगवान महावीर के जल मंदिर में निर्वाण महोत्सव एवं भक्ति संगीत के साथ मनाया गया। रात में 108 दीपक की आरती के बाद 11 किलों का लड्डू नवैध के रूप में चढ़ाया गया। संगीतकार सोहनलाल ने भगवान महावीर के निर्वाण पर भक्ति संगीत से बताया कि भगवान महावीर ने जो त्याग तपस्या कर अंहिसा परमोधर्म एवं क्षमा का जो संदेश दिया है वो आज भी विश्व में प्रासंगिक है। 26 वर्ष से पावापुरी तीर्थ निर्माता केपी संघवी परिवार की प्रमुख, 26 वर्ष से वर्षीतप की तपस्या में लीन रतनबेन बाबूलाल संघवी ने इस अवसर पर अठाई तप (8 उपवास) की आराधना कर निर्वाण महोत्सव को सार्थक बनाया। संघवी ने इसी तीर्थ पर पहले लगातार 75 उपवास की कठोर तपस्या कर जैन शासन की प्रभावना की थी।

गोपूजन कर किया गायों का मुहं मीठा : तीर्थ संस्थापक परिवार के कीर्ति संघवी एवं समीर संघवी ने बताया कि नववर्ष पर यांत्रिक जुलूस के रूप मे गौशाला पहुंचे ओर वहां पर केपी संघवी परिवार के सदस्यों ने गोपूजन एवं सभी 5254 पशुओं को गुड खिलवा कर मुहं मीठा करवाया। इस मौके सभी ग्वालों एवं ग्वालिनों ने नववर्ष राम राम कर स्नेह व्यक्त किया।

सिद्धचक्र महापूजन में यात्रिकों ने लिया भाग

दोपहर में सर्वकल्याण एवं शांति के लिए श्री सिद्धचक्र महापूजन हुआ, जिसमें यात्रिकों ने भाग लिया। प्रतिवर्ष दीपावली से लाभ पंचमी तक पावापुरी तीर्थ में हजारों भक्त आते है ओर यहां पर गोपूजन का लाभ लेते है। इसलिए ट्रस्ट मंडल ने तीर्थ में विशेष सजावट की है, जो सभी के लिए आकर्षण का केंद्र बनी हुई है।

गौतम रास का किया वाचन

गुरुवार को सवेरे 5 बजे केपी संघवी परिवार एवं यात्रिक शंखेश्वर पाश्र्वनाथ एवं पावापुरी जल मंदिर पहुंचे। वहां मंत्रोच्चारण के बाद तपस्वीर| रतनबेन संघवी एवं तीर्थ प्रमुख किशोर भाई ने उद्घाटन किया ओर गुरुजी मनीष शाह ने चैत्य वंदन कर उपासरे मे गुरु गौतम स्वामी का रास वाचन किया।

X
Sirohi - nirvana festival celebrated by lord mahavir illuminated by jagmagaya pavpuri
Astrology

Recommended

Click to listen..