आपसी मतभेद के कारण दो साल पहले अलग हुए पति-पत्नी, लोक अदालत में रजामंदी के बाद हुए एक

Sirohi News - जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सिरोही के तत्वावधान में जिले के समस्त न्यायालयों में शनिवार को राजस्थान राज्य विधिक...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 11:05 AM IST
Sirohi News - rajasthan news due to mutual differences two years ago separated husband and wife one after the resignation of lok adal
जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सिरोही के तत्वावधान में जिले के समस्त न्यायालयों में शनिवार को राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर से लोक अदालतों का आयोजन किया गया। लोक अदालत में 2553 मामलों में से 792 का निस्तारण किया गया। जिला न्यायालय में आयोजित लोक अदालत में आपसी मतभेद के कारण दो साल पहले अलग-अलग हुए पति-प|ी को समझाईश के बाद एक किया गया। जानकारी के अनुसार गोयली निवासी दिलीप कुमार और उनकी प|ी सीमा के बीच घरेलू कारणों से विवाद होने पर दोनों अलग हो गए थे तथा सीमा ने दिलीप कुमार के खिलाफ प्रताडि़त करने के आरोप में दो साल पूर्व घरेलू हिंसा एवं भरण पोषण के भत्ते का मामला दर्ज करवाया था। दंपत्ति के एडवोकेट राजेंद्र पुरी ने बताया कि शनिवार को लोक अदालत में दिलीप कुमार और सीमा के बीच आपस में समझौता होने पर दोनों ने एक दूसरे को माला पहनाई तथा राजीखुशी घर लौटे।

प्राधिकरण के सचिव गणपत लाल विश्नोई ने बताया कि लोक अदालत में 2553 मामलों को चिह्नित कर आपसी राजीनामा के आधार पर निस्तारण के लिए रखा गया। चिन्हित किए गए मामलों में न केवल न्यायालय में विचाराधीन प्रकरण बल्कि काफी संख्या में प्रि-लिटिगेशन के मामले भी रखे गये। लोक अदालत का शुभारंभ न्यायालय परिसर में पौधा लगाकर किया गया। जिला एवं सेशन न्यायाधीश रविंद्र कुमार ने बताया कि इस लोक अदालत में न्यायिक अधिकारीगण, न्यायालय के स्टाफ, अधिवक्तागण, पक्षकारान ने बडे उत्साह के साथ भाग लिया। इस कारण संपूर्ण जिले में 792 प्रकरणों के निस्तारण में सफलता प्राप्त हुई। निस्तारित प्रकरणों में चैक अनादरण के मामले, बैंक की बकाया राशि के मामले, मोटर दुर्घटना प्रकरण, पारिवारिक विवाद के मामले, विद्युत अधिनियम के मामले प्रमुख रूप से फैसले हुए। विभिन्न बैंकों के मैनेजर तथा भारत संचार निगम लिमिटेड के अधिकारियों ने भी लोक अदालत में भाग लिया। लगभग पांच करोड चौसठ लाख रुपए की राशि के संबंध में समझौता किया गया। इनमें से कई प्रकरण पुराने होकर न्यायालय में विचाराधीन थे, इनमें पक्षकारान के समझौता करने के प्रयास में उनमें सफलता मिली।

सिरोही. लोक अदालत में राजीनामे से कई मामले निबटाए गए।

41 मामलों का हुआ निस्तारण

माउंट आबू | जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सिरोही के तत्वाधान में तालुका माउंट आबू के वरिष्ठ सिविल न्यायाधीश एवं अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्टे्रट न्यायालय में शनिवार को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया। इससे पूर्व न्यायालय परिसर में पौधरोपण किया गया, जिसमें न्यायालय पीठासीन अधिकारी मोहम्मद आसिफ अंसारी समेत कर्मचारी व अधिवक्ता मौजूद थे। लोक अदालत में कुल 375 मामलों को चिन्हित कर आपसी राजीनामा के आधार पर कुल 41 प्रकरणों का निस्तारण किया गया। अध्यक्ष तालुका विधिक सेवा समिति माउंट आबू मोहम्मद आसिफ अंसारी ने बताया कि लोक अदालत में निस्तारित प्रकरणों में चैक अनादरण के मामलें, बकाया राशि के सिविल मामलें, सिविल मामलें, एवं दांडिक शमनीय प्रकरण फैसले हुए। लगभग चौबीस लाख तैंतीस हजार पांच सौ बरानवें रुपए राशि के संबंध में आपसी समझौता एवं राजीनामा करवाया गया। लोक अदालत में अधिवक्ता, बैंक मैनेजर, न्यायालय स्टाफ एवं फाइनैंस कंपनियों के प्रतिनिधियों का सहयोग रहा।

शिवगंज में 81 मामलों का निस्तारण, 16.33 लाख का अवार्ड पारित

शिवगंज | जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सिरोही के निर्देश पर शनिवार को शिवगंज न्यायालय में राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया, जिसमें अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट एवं तालुका विधिक सेवा समिति शिवगंज के अध्यक्ष हरीश कुमार ने राजीनामा के आधार पर 81 प्रकरणों का निस्तारण कर 16 लाख 33 हजार 484 रुपए का अवार्ड पारित किया है। तालुका विधिक सेवा समिति के सचिव जितेंद्र रंगा ने बताया कि आपसी राजीनामा के आधार पर 11 प्रीलिटिगेशन मामलों का निस्तारण कर 51 हजार 300 रुपए का अवार्ड पारित किया गया। इसी प्रकार न्यायालय में लंबित 70 मामलों का आपसी राजीनामा के आधार पर निर्णय पारित किया गया, जिसमें 15 लाख 82 हजार 184 रुपए का अवार्ड पारित किया है। लोक अदालत के समापन बाद न्यायालय परिसर में पौधारोपण कार्यक्रम में अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट हरीश कुमार ने पौधा लगाकर कार्यक्रम का शुभारंभ किया।

आबूरोड. लोक अदालत में कई मामलों का निस्तारण किया गया।

पौने तीन करोड़ के अवार्ड पारित

आबूरोड | न्यायालय परिसर में आयोजित राष्ट्रीय लोक अदालत में पौने तीन करोड़ के अवार्ड पारित किए गए। विधिक तालुका के सचिव किसनाराम मीणा ने बताया कि मोटरयान दुर्घटना दावा अधिकरण संख्या एक के न्यायालय में 1 करोड 25 लाख 92 हजार राशि एवं मोटरयान दुर्घटना दावा अधिकरण संख्या दो में 69 लाख 46 हजार 500 के अवार्ड पारित किए गए। साथ ही न्यायालय अपर जिला न्यायाधीश संख्या 1 द्वारा 5 दिवानी विविध, 5 हिन्दू विवाह अधिनियम व 38 एमएसीटी के प्रकरणों समेत कुल 48 प्रकरणों जिनमें 1 प्रकरण दस वर्ष से अधिक पुराना निस्तारित किया गया। अपर जिला न्यायाधीश संख्या 2 ने 10 दिवानी प्रकरण एवं 4 हिन्दू विवाह अधिनियम व 18 एमएसीटी के प्रकरणों समेत कुल 36 प्रकरणों में 3 प्रकरण पांच वर्ष से अधिक पुराने का निस्तारण किया। सम्पत्ति विवाद के दो प्रकरणों में सगे भाईयो के बीच राजीनामा करवाया गया। वैवाहिक प्रकरण में एक दंपति को समझाईश कर साथ-साथ अपने घर भेजा। इसी प्रकार न्यायिक मजिस्ट्रेट एवं सिविल जज न्यायालय के सिविल वाद के 28, घरेलू हिंसा एवं भरण पोषण के 34 प्रकरण चैक अनादरण के 15 व भादस 33 प्रकरणों में राजीनामा के साथ कुल 110 प्रकरणों का निस्तारण किया तथा 4 लाख 86 हजार 864 रुपए चैक अनादरण व दिवानी मामलों में दिलवाए।

शिवगंज. न्यायालय परिसर में पौधरोपण किया।

Sirohi News - rajasthan news due to mutual differences two years ago separated husband and wife one after the resignation of lok adal
Sirohi News - rajasthan news due to mutual differences two years ago separated husband and wife one after the resignation of lok adal
X
Sirohi News - rajasthan news due to mutual differences two years ago separated husband and wife one after the resignation of lok adal
Sirohi News - rajasthan news due to mutual differences two years ago separated husband and wife one after the resignation of lok adal
Sirohi News - rajasthan news due to mutual differences two years ago separated husband and wife one after the resignation of lok adal
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना