तहसीलदार : मेरे पास वन विभाग के नंबर नहीं, आप ही पकड़वा लो

Sirohi News - भास्कर न्यूज | रेवदर/दांतराई रेवदर व जीरावल समेत इसके आसपास गांव में पिछले दो दिन से एक पागल कुत्ते का आतंक बढ़ता...

Bhaskar News Network

Sep 15, 2019, 06:31 AM IST
Abu road News - rajasthan news tehsildar i do not have the forest department number you get it
भास्कर न्यूज | रेवदर/दांतराई

रेवदर व जीरावल समेत इसके आसपास गांव में पिछले दो दिन से एक पागल कुत्ते का आतंक बढ़ता जा रहा है। वह अभी तक करीब 10 लोगों को काट चुका है। शुक्रवार को उसने तीन महीने के मासूम का मुंह बेरहमी से नोंच दिया, जिसके बाद मासूम की मौत हो गई। वहीं शनिवार को सात लोगों पर हमला कर उन्हें घायल कर दिया। इधर, जब इस मसले पर सरपंच से बात की तो, वे बोली की दुख की बात है, लेकिन कुत्ता काटे तो सरपंच क्या कर सकता है। वहीं तहसीलदार का यह गैर जिम्मेदाराना जवाब था कि उनके पास वन विभाग के नंबर तक नहीं हैं, यदि आपके पास है तो उसे पकड़वा दाे। कस्बे के सबसे ऊंचे अाेहदे पर बैठे एसडीएम को तो इस मुद्दे पर बात करने तक की फुर्सत नहीं मिली।

दरअसल, जीरावल गांव में शुक्रवार शाम करीब पांच बजे कालाराम भील का परिवार पानी भरने गए हुए थे। इस दौरान झाेंपड़े में उसका तीन महीने का बेटा सो रहा था, तभी पागल कुत्ते ने उस पर हमला कर बुरी तरह से मुंह नोंच लिया। उसका मुंह इस कदर नोचा कि गाल, नाक और दांयी आंख का हिस्सा भी नहीं बचा। इस पर परिजन मासूम को अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां डॉक्टर ने उसे आबूरोड ले जाने को कहा। आबूरोड जाते समय मासूम ने बीच रास्ते ही दम तोड़ दिया। शव को रेवदर अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया और शनिवार सवेरे परिजनों को सौंप दिया। वहीं शनिवार को इसी पागल श्वान ने बासन और रेवदर में भी 5 से अधिक लोगों को काट लिया।

यह फोटो आपको विचलित कर सकता है। लेकिन, इसे प्रकाशित करना इसलिए जरूरी क्योंकि जो जिम्मेदार अधिकारी व जनप्रतिनिधि संवदेनाओं और आर्थिक सहायता का मरहम लगा रहे हैं, वे देख सके कि उनकी लापरवाही किस हद तक किसी को नुकसान पहुंचा सकती है व जान ले सकती है।

जीरावल में सात लोगाें काे काटा, पहुंचे अस्पताल

पागल कुत्ते ने पिछले दो दिन में जीरावल के सात लोगों पर हमला किया। घायल लोग दांतराई अस्पताल इलाज कराने पहुंचे। दांतराई के डॉ. प्रदीप वैष्णव ने बताया कि शुक्रवार शाम अस्पताल में रतनाराम देवासी, बबी देवी, चूनी देवी मेघवाल, रूपाराम भील दांतराई, अमरापुरा गांव के राहू मेघवाल व चूनाराम गरासिया हमीरपुरा आए। शनिवार सवेरे अस्पताल के बाहर खड़े निजी स्कूल के ड्राइवर पर पागल कुत्ते ने हमला कर दिया। पागल कुत्ते का ग्रामीणों ने पीछा भी किया, लेकिन पकड़ में नहीं आया। ये कुत्ता बासन होते हुए रेवदर तक पहुंचा। शनिवार सवेरे बासन से एक वृद्धा पहुंची, जिसको कुत्ते ने पैर में काटा था। इसके बाद बासन से शंकरलाल मेघवाल पर भी कुत्ते ने हमला किया। रेवदर में भी दो-तीन लोगों पर हमला करने के बाद कुत्ता दूसरे गांव चला गया।

सरपंच : दुख की बात है, लेकिन कुत्ता काटे तो क्या कर सकते हैं?

लोगों पर हमला करते हुए पहुंचा रेवदर, अधिकारियों को पता ही नहीं

यह कुत्ता पिछले दो दिन से 15 किलोमीटर के दायरे में हमीरपुरा, अमरापुरा, जीरावल, बासन से होता हुआ रेवदर पहुंचा। जहां से होते हुए यह आया वहां सभी को घायल कर रहा है। यानी दो दिन से रेवदर उपखंड में इस पागल कुत्ते का आतंक है। लेकिन, हैरानी की बात यह है कि यहां के अधिकारियों को भी इसकी जानकारी नहीं है। जब उनसे फोन पर बात की तो बाद में एक-दूसरे पर जिम्मेदारी डालने लगे।

हे मां...तेरी गोद सूनी, अब न मुस्करा पाऊंगा और न तुझे देख पाऊंगा

यह है वो मासूम जिसे उसकी मां हंसता मुस्कराता घर के आंगन में छोड़ पानी लेने चली गई थी। लेकिन आप खुद ही देख लें एक श्वान ने किस कदर इस मासूम के चेहरे को नोंच दिया, जिससे इसकी मौत हो गई। यह फोटो उस समय की है जब उसे अस्पताल लाया गया। इस हालात में अपनी मां को देख शायद यही सोच रहा होगा कि अब न मुस्करा पाएंगे और न ही उसे देख पाएंगे, अब उसकी गोद सूनी हो चुकी है।

रेबीज बैक्टीरिया से कुत्ता होता है पागल, इसका इलाज नहीं, इसे मारना पड़ता है


एक्सपर्ट व्यू

मासूम की मौत पर जिम्मेदारों के गैर जिम्मेदाराना बयान और आर्थिक सहायता का मरहम

सरपंच, वीणा रावल : कुत्ते ने काटा तो सरपंच क्या करे


तहसीलदार, गोविंद सिंह: मैं मीटिंग में था, आप पकड़वा लो


बीडीओ, डॉ. दिनेश शर्मा : यह काम पंचायत का

मैंने जीरावल सरपंच को कहा कि इस कुत्ते को तुरंत पकड़वाओ, लेकिन तब तक कुत्ता जीरावल से कहीं और चला गया था इसलिए अब वन विभाग से पकडऩे का काम ग्राम पंचायत स्तर करवाया जाएगा।

एसडीएम, अश्विन के पंवार

मैं तो आज कलेक्ट्रेट में मीटिंग में था, अभी आया हूं। फ्रेश होकर आप से बात करता हूं।

सुरेंद्र कुमार सोलंकी, कलेक्टर

मुझे इसकी जानकारी नहीं है। संबंधित विभाग के अधिकािरयों से चर्चा कर कार्रवाई की जाएगी।

Abu road News - rajasthan news tehsildar i do not have the forest department number you get it
Abu road News - rajasthan news tehsildar i do not have the forest department number you get it
Abu road News - rajasthan news tehsildar i do not have the forest department number you get it
Abu road News - rajasthan news tehsildar i do not have the forest department number you get it
Abu road News - rajasthan news tehsildar i do not have the forest department number you get it
X
Abu road News - rajasthan news tehsildar i do not have the forest department number you get it
Abu road News - rajasthan news tehsildar i do not have the forest department number you get it
Abu road News - rajasthan news tehsildar i do not have the forest department number you get it
Abu road News - rajasthan news tehsildar i do not have the forest department number you get it
Abu road News - rajasthan news tehsildar i do not have the forest department number you get it
Abu road News - rajasthan news tehsildar i do not have the forest department number you get it
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना