--Advertisement--

पुराना कटाण मार्ग खसरा नंबर 1077 से बायपास निकालने की मांग

सिवाना | मोकलसर के ग्रामीणों ने नेशनल हाइवे 325 पर बायपास निकालने पर विरोध किया है। किसानों का कहना है कि इस हाइवे को...

Dainik Bhaskar

May 02, 2018, 06:40 AM IST
सिवाना | मोकलसर के ग्रामीणों ने नेशनल हाइवे 325 पर बायपास निकालने पर विरोध किया है। किसानों का कहना है कि इस हाइवे को पुराना कटाण मार्ग खसरा नं. 1077 से निकाला जाए । इस पर पहले भी दो बार सर्वे हो चुका है। यह मार्ग 40 फीट चौड़ा मार्ग है। इसके लिए तीन ग्राम पंचायत के प्रस्ताव व दो बार सर्वे हो चुका हैं अगर इस जगह से हाइवे निकाला जाए तो किसी को कोई आपत्ति नहीं होगी। इस संबंध में ग्रामीणों ने एसडीएम को ज्ञापन देकर आरोप लगाया गया कि कि सिवाना विधायक ने राजनैतिक द्वेष भावना से खसरा नं. 657 सर्वे कराया जो सरासर गलत है। इसकी निष्पक्ष जांच होनी चाहिए। उन्होंने 16 अप्रैल को उपखंड अधिकारी सिवाना को भूमि अवाप्ति के संबंध में आपत्ति पेश की थी। इसमें बताया कि खसरा नं. 657 जो आबादी भूमि से मात्र 300 फीट व बायपास 380 फीट दूरी से निकल रहा है। सेटेलाइट से मात्र 100 फीट दूरी है। आबादी क्षेत्र के पास होने से करोड़ों की जमीन सरकार कौडिय़ों में अवाप्त करने का प्रस्ताव दिया है जो न्याय के विरुद्ध है। कृषि जमीन में बायपास से दो से अधिक भागों में जमीन विभाजन हो रही है। बायपास की ऊंचाई लगभग 6 फीट से निकल रही है इससे सिंचाई में समस्या होगी। नेशनल हाइवे के नए दिशा निर्देश के अनुसार मुआवजा भी आबादी भूमि के अनुसार नवीन डीएलसी दर से दिया जाए, जो अभी नोयडा में किसानों को देय मुआवजा अनुसार नियम एक सामान लागू हो।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..