--Advertisement--

खली के लिए छोटा पड़ गया खेलमंत्री का दरवाजा, एकेडमी का ऑफर देने पर खिलखिलाए

खली ने कहा, ‘खेलों को बढ़ावा देने वाला इन जैसा मंत्री यदि सभी राज्यों में हो तो भारत खेलों का पावरहाउस बन जाए।

Dainik Bhaskar

Nov 18, 2017, 07:21 AM IST
डब्ल्यूडब्ल्यूई विश्व हैवीवे डब्ल्यूडब्ल्यूई विश्व हैवीवे

जयपुर. ग्रेट खली, उर्फ दिलीप सिंह राणा खेलमंत्री गजेंद्र सिंह खींवसर से मिलने एसएमएस स्टेडियम पहुंचते हैं। 7 फीट 1 इंच लंबे खली फर्स्ट फ्लोर स्थित मंत्री के कमरे में घुसने की कोशिश करते हैं तो दरवाजा छोटा पड़ जाता है। उन्हें झुककर अंदर घुसना पड़ता है। अंदर पहुंचते ही मंत्री ने जिस तरह से स्वागत किया और उन्हें जयपुर में एकेडमी खोलने का ऑफर दिया, खली का चेहरा खिलखिला गया। कहा - एेसे मंत्री यदि सभी राज्यों में हो तो भारत खेलों का पावरहाउस बन जाए...

खली ने कहा, ‘खेलों को बढ़ावा देने वाला इन जैसा मंत्री यदि सभी राज्यों में हो तो भारत खेलों का पावरहाउस बन जाए। मैं जब मिलने आ रहा था तो मन में सोच रहा था कि पता नहीं कैसे रेस्पॉन्स करेंगे, उदयपुर में टूर्नामेंट की अनुमति भी देंगे या नहीं लेकिन यहां तो डबल ऑफर मिला। एकेडमी के साथ-साथ जयपुर में भी टूर्नामेंट कराने का।’


16 विदेशी विदेशी रेसलर्स भी लेंगे हिस्सा

1972 में हिमाचल में जन्मे खली ने बताया कि उदयपुर के खेल गांव में फरवरी-मार्च में होने वाले इस वर्ल्ड रेसलिंग एंटरटेनमेंट (डब्ल्यूडब्ल्यूई) टूर्नामेंट में 16 विदेशी रेसलर्स के साथ-साथ 30 से 40 इंडियन रेसलर्स भी हिस्सा लेंगे।

बैडमिंटन हॉल में खुलेगी रेसलिंग एकेडमी

खेलमंत्री ने एसएमएस स्टेडियम स्थित वर्तमान बैडमिंटन हॉल में रेसलिंग एकेडमी खोलने का प्रस्ताव खली को दिया। उन्होंने कहा, छह महीने में बैडमिंटन का नया अंतरराष्ट्रीय हॉल बनकर तैयार हो जाएगा। उसके बाद मौजूदा बैडमिंटन हॉल में रेसलिंग एकेडमी खोली जा सकती है।

X
डब्ल्यूडब्ल्यूई विश्व हैवीवेडब्ल्यूडब्ल्यूई विश्व हैवीवे
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..