--Advertisement--

अवैध वसूली करने वाले दोनों आरएसी जवानों को हटाया

पाली | सुप्रीम कोर्ट की बजरी खनन पर रोक लगाने के बाद खनिज विभाग द्वारा मॉनिटरिंग के लिए पूरे जिले में तैनात विभागीय...

Danik Bhaskar | Jan 29, 2018, 06:00 AM IST
पाली | सुप्रीम कोर्ट की बजरी खनन पर रोक लगाने के बाद खनिज विभाग द्वारा मॉनिटरिंग के लिए पूरे जिले में तैनात विभागीय अधिकारियों की टीमों की सुरक्षा में लगाए गए आरएसी के जवान ही बाली इलाके में अवैध वसूली कर रहे थे। शनिवार को इसका खुलासा होने के बाद रविवार को दोनों जवानों को उड़नदस्ते से हटाकर उनकी रवानगी दर्ज कर दी है। शिकायत के बाद दोनों जवानों को पुलिस ने पकड़ा था। इसके बाद उनको चेतावनी देकर छोड़ा गया था। जानकारी के अनुसार खनिज विभाग ने अवैध खनन रोकने के लिए अलग-अलग स्थानों पर उड़नदस्ते गठित कर रखे हैं। इन दस्तों में शामिल सहायक खनिज अभियंता व फोरमैन समेत अन्य अधिकारियों की सुरक्षा के लिए पुलिस से आरएसी, पुलिस व होमगार्ड के जवान भी लगा रखे हैं। गणतंत्र दिवस के बाद शनिवार व रविवार की छुट्टियां होने के कारण उड़नदस्तों में शामिल अधिकारी तो अपने घर या अन्य स्थानों पर गए थे, मगर सुमेरपुर उड़नदस्ता के अधीन सुरक्षा में लगे आरएसी के दो जवान पीराराम तथा बलदेवराम अपने स्तर पर ही बाली इलाके में पहुंचकर ट्रैक्टर, ट्रोला तथा डंपर चालकों को रोककर उनसे वसूली कर रहे थे।

भास्कर की खबर के बाद खनिज विभाग ने की जांच

इस बारे में दैनिक भास्कर में समाचार प्रकाशित होने के बाद रविवार को खनिज विभाग के अधिकारी हरकत में आ गए। सुमेरपुर में आरएसी के कुल 5 जवानों को सुरक्षा के लिए लगा रखा है। 3 जवानों से उक्त दोनों आरएसी के जवानों के बारे में रिपोर्ट ली गई, जिसमें उनके खिलाफ आरोप पुष्ट हो गए। इस पर सुमेरपुर के एएमई महेंद्र दवे ने उच्चाधिकारियों से बात कर पूरे मामले की जानकारी दी। इसकेे बाद एमई ने एसपी से बात कर दोनों जवानों को अपने यहां से रवाना कर दिया।

28 जनवरी को प्रकाशित समाचार।