--Advertisement--

सुमेरपुर-शिवगंज भास्कर

अहसास के साथ आप जो कुछ भी यकीन करते हैं वही आपकी हकीक़त बन जाती है। -ब्रायन ट्रेसी सांडेराव तखतगढ़...

Danik Bhaskar | Feb 12, 2018, 07:20 AM IST
अहसास के साथ आप जो कुछ भी यकीन करते हैं वही आपकी हकीक़त बन जाती है।

-ब्रायन ट्रेसी

सांडेराव
सोमवार 12 फरवरी, 2018 फाल्गुन कृष्ण पक्ष- 12, 2074

सुरेश-महेश को रास्ते में दो बम मिले। सुरेश (महेश से)- चल पुलिस को देकर आते हैं। महेश(सुरेश)- अगर कोई बम रास्ते में फट गया तो?

सुरेश- झूठ बोल देंगे कि एक ही मिला था..