• Home
  • Rajasthan News
  • Sumerpur News
  • फरार आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर गुरुवार को फालना में किया विरोध-प्रदर्शन मेघवाल समा
--Advertisement--

फरार आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर गुरुवार को फालना में किया विरोध-प्रदर्शन मेघवाल समाज ने फालना में रेलवे ट्रैक पर जाम लगाया

फालना. गिरफ्तारी की मांग को लेकर रेलवे पटरी पर प्रदर्शन करते मेघवाल समाज के लोग एवं उन्हें हटाती पुलिस। गत 11...

Danik Bhaskar | Feb 02, 2018, 07:35 AM IST
फालना. गिरफ्तारी की मांग को लेकर रेलवे पटरी पर प्रदर्शन करते मेघवाल समाज के लोग एवं उन्हें हटाती पुलिस।

गत 11 जनवरी को दो गुटों में हुई थी मारपीट

भास्कर न्यूज | फालना/बाली

फालना कस्बे में गत 11 जनवरी को आपसी विवाद को लेकर दो छात्र गुटों के बीच हुई मारपीट के फरार आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर गुरुवार को मेघवाल समाज के लोगों ने फालना के रेलवे स्टेशन के पास ट्रैक पर धरना देकर विरोध प्रदर्शन किया। पुलिस व रेलवे अफसरों की काफी समझाइश के बाद आंदोलन कर रहे लोग शांत हुए। पुलिस ने आश्वस्त किया कि मारपीट के तीन आरोपी पूर्व में गिरफ्तार हो चुके हैं, जबकि बाकी आरोपियों की तलाश के लिए टीमें भेजी गई हैं। उल्लेखनीय हैं कि गत 24 जनवरी भी इसी मामले में मेघवाल समाज ने रैली निकाल विरोध प्रदर्शन कर आरोपियों को 31 जनवरी तक गिरफ्तार नहीं करने पर आंदोलन की चेतावनी दी थी। गुरुवार सुबह मेघवाल छात्रावास में बैठक आयोजित की गई। बैठक में गत 8 जनवरी व 14 जनवरी को मेघवाल छात्रावास की छात्रों के साथ राजपुरोहित छात्रावास के छात्रों द्वारा मारपीट की निंदा करते हुए आरोपियों को गिरफ्तार नहीं करने पर रोष जताया गया। इसके बाद सभी लोग रेलवे स्टेशन पर पहुंचे और पटरियों पर बैठ गए। इससे एक मालगाड़ी को काफी देर रुकना पड़ा। उसी दौरान भारी पुलिस बल मौके पर उपस्थित रहा पुलिस के उच्चाधिकारियों की समझाइश के बाद के बाद पुलिस ने समाज के लोगों को पटरियों से हटाया। पुलिस ने आंदोलन कर रहे लोगों को आश्वस्त किया कि फरार आरोपी यदि नहीं मिलते हैं तो पुलिस द्वारा उनकी संपत्ति कुर्क करने की कार्रवाई की जाएगी।

समझाइश से शांति, पुलिस जाप्ता रहा तैनात

मेघवाल समाज के आंदोलन को देखते हुए एएसपी अताउर रहमान,सीओ सुमेरपुर अमरसिंह चंपावत के साथ भारी पुलिस जाप्ता तैनात रहा। पुलिस व रेलवे के अफसरों ने मेघवाल समाज के गोमाराम डांगी, एडवोकेट श्रीपाल, डॉ. राम मीणा समेत मेघवाल समाज के काफी लोग भी आंदोलन में शामिल रहे।