Hindi News »Rajasthan »Sumerpur» जवाई पुनर्भरण प्रोजेक्ट : अब वैपकॉस कंपनी को कम खर्च में पानी लाने के तरीके पर रिपोर्ट बनाने के निर्देश

जवाई पुनर्भरण प्रोजेक्ट : अब वैपकॉस कंपनी को कम खर्च में पानी लाने के तरीके पर रिपोर्ट बनाने के निर्देश

भास्कर संवाददाता | पाली/सुमेरपुर जवाई पुनर्भरण योजना को लेकर सोमवार को जयपुर में जलसंसाधन विभाग के मुख्य सचिव...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 20, 2018, 07:35 AM IST

भास्कर संवाददाता | पाली/सुमेरपुर

जवाई पुनर्भरण योजना को लेकर सोमवार को जयपुर में जलसंसाधन विभाग के मुख्य सचिव शिखर अग्रवाल की मौजूदगी में बैठक हुई। बैठक में योजना को लेकर तैयार कर रही दिल्ली की वैपकॉस कंपनी के इंजीनियर्स ने पॉवर प्वाइंट के जरिए 6 प्रपोजल पेश किए।

कंपनी के इंजीनियर्स ने साबरमती बेसिन से पानी लेने के तरीके और इसमें आने वाले खर्चे के बारे में पूरी जानकारी दी। साथ ही प्रोजेक्ट को लेकर जहां-जहां बांध बनने और जहां केनाल व पाइपलाइन के जरिए पानी लेना है, उसके बारे में बताया गया। सभी प्रस्ताव देखने के बाद मुख्य सचिव अग्रवाल समेत अन्य इंजीनियर्स ने आपस में बातचीत कर दो प्रपोजल पर काम कराने का निर्णय लिया। साथ ही कंपनी को दोनों प्रपोजल पर कम लागत और सुगत तरीके से पानी लाने के बारे में प्रोजेक्ट तैयार कर भेजने के निर्देश दिए। अब आगामी दो तीन दिन में कंपनी दोनों प्रपोजल मुख्य सचिव को भेज देगी। इसके बाद मुख्य सचिव इसमें से एक की स्वीकृति देकर केंद्रीय जल आयोग को भेजेंगे। संभवतया आगामी अप्रैल माह से पहले जवाई पुनर्भरण योजना को लेकर स्वीकृति बजट मिल सकेगा।





बैठक में जलसंसाधन विभाग के अतिरिक्त मुख्य अभियंता एमआर डूडी, अतिरिक्त मुख्य अभियंता (हैडक्वार्टर एंड आईटी) असीम मार्कण्डेय, जलसंसाधन विभाग पाली वृत्त के एसई प्रतापसिंह चावड़ा, रिवर बेसिन के एक्सपर्ट मेंबर दीपक डोसी व एक्सईएन राजीव शर्मा समेत वैपकॉस कंपनी के इंजीनियर्स मौजूद थे।

कंपनी ने छह प्रस्तावों और विकल्पों पर दिया प्रजेंटेशन

जवाई पुनर्भरण योजना को लेकर दिल्ली की वैपकॉस कंपनी ने डीपीआर व डीएफआर तैयार कर जयपुर में जलसंसाधन विभाग के मुख्य सचिव के समक्ष पॉवर प्वाइंट प्रजेंटेशन दिया। प्रजेंटेशन में कंपनी द्वारा तैयार किए गए छह प्रस्तावों के बारे में बताया। इसमें पानी लेने के तरीके से लेकर आने वाला खर्च भी बताया गया।

4 बांध बनाने के साथ साबरमती बेसिन से जवाई पहुंचेगा पानी

जवाई पुनर्भरण योजना को लेकर दिल्ली की वैपकॉस कंपनी ने वाकल, पामेरी, साबरमती व सेई नदी पर बांध बनाने और तीन जगह पहाड़ों को खोदकर 113 किमी लंबी नहर के जरिए पानी लाने को लेकर प्रोजेक्ट तैयार किया था। इस सीडब्ल्यूसी ने पाइपलाइन के जरिए पानी लाने के तरीके बारे में भी विकल्प सुझाए। सीडब्ल्यूसी ने कंपनी को कम खर्चे के साथ सही तरीके से पानी लाने को लेकर डीपीआर तैयार करने के निर्देश जारी किए थे। इस पर कंपनी ने 6 प्रपोजल तैयार कर मुख्य सचिव के समक्ष पेश किए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sumerpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×