Hindi News »Rajasthan »Sumerpur» आंगनबाड़ी केंद्र पर अवकाश के दिन भी मिलेगा पोषाहार

आंगनबाड़ी केंद्र पर अवकाश के दिन भी मिलेगा पोषाहार

महिला एवं बाल विकास के अंतर्गत चल रहे आंगनबाड़ी केंद्रों पर बच्चों को मिल रहे पोषाहार को विभाग द्वारा खाद्य...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 04, 2018, 07:40 AM IST

महिला एवं बाल विकास के अंतर्गत चल रहे आंगनबाड़ी केंद्रों पर बच्चों को मिल रहे पोषाहार को विभाग द्वारा खाद्य सुरक्षा अधिनियम से जोड़ा जा रहा है। इसके बाद समेकित बाल विकास सेवाएं द्वारा जिले के सभी आंगनबाड़ी केंद्रों को अवकाश के दिन खोलना होगा। साथ ही कार्यकर्ता, सहायिका द्वारा बच्चों को पोषाहार भी दिया जाएगा। इस संबंध में आदेश जारी करने से पहले समेकित बाल विकास सेवाएं निदेशालय जयपुर द्वारा जिलों के उपनिदेशकों से आदेश जारी कर तीन दिन में सुझाव मांगे है। साथ ही अवकाश के दिन आंगनबाड़ी केंद्रों पर बच्चों को पोषाहार वितरण के लिए किसे जिम्मेदार माना जाए इस बारे में सुझाव मांगा है ताकि केंद्र के खुले रहने पर बच्चों को पोषाहार से वंचित नहीं रहना पड़े।

समेकित बाल विकास सेवाएं विभाग के तहत जिले में चल रहे आंगनबाड़ी केंद्रों के बंद होने पर बच्चों को पोषाहार से वंचित रहना पड़ता है। इन केंद्रों के नियमित खुलने व कार्यकर्ता, आशा व सहायिकाओं को नियमित करने, केंद्र की संख्या में बढ़ौतरी करने व पोषाहार को खाद्य सुरक्षा अधिनियम से जोड़ने के लिए विभाग ने बच्चों को अवकाश के दिन भी पोषाहार देने की योजना बनाई है। इसमें आने वाली समस्याओं को दूर करने के लिए विभाग ने पहले ही उपनिदेशकों से सुझाव मांगे हैं। जिसका उपनिदेशकों को तीन दिन के भीतर जवाब देना होगा। अधिकारियों ने बताया कि केंद्र की कार्यकर्ता, आशा सहयोगिनी व सहायिकाओं के अवकाश पर होने से बच्चों को पोषाहार वितरण का कार्य गड़बड़ा जाता था। इस कारण बच्चों का केंद्र से मोह भंग हो रहा था।

अवकाश पर बच्चों को पोषाहार नहीं मिलने पर होगी कार्रवाई : अवकाश के दिन भी पोषाहार देने की योजना शुरू करने से पहले विभाग ने पोषाहार वितरण जिम्मेदारी किसे देने को लेकर भी सुझाव मांगा है। जिसमें निदेशक ने पोषाहार वितरण के लिए उपनिदेशक को सुपरवाइजर, कार्यकर्ता, स्वयं सहायता समूह, कोई कर्मचारी या फिर अधिकारी को जिम्मेदारी देने के आदेश हैं। जिम्मेदारी मिलने के बाद भोजन वितरण में किसी भी प्रकार की गड़बड़ी मिलने पर संबंधित अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

इनका कहना है

निदेशालय द्वारा आंगनबाड़ी केंद्रों पर बच्चों को अवकाश के दिन भी पोषाहार देने की योजना को लेकर सुझाव मांगा है। जिसका तीन दिन में निदेशालय को वापस सुझाव देना है। योजना के शुरू होते ही बच्चों को अवकाश के दिन भी केंद्र पर पोषाहार वितरण की जिम्मेदारी दी जाएगी। साथ ही बच्चों के मानसिक विकास को लेकर कई प्रकार के खेल भी खिलाए जाएंगे। शांता मेघवाल, उपनिदेशक, समेकित बाल विकास सेवाएं, पाली

विभाग पोषाहार योजना को जोड़ रहा अधिनियम से, आशा व सहायिका को अवकाश के दिन भी खोलना होगा आंगनबाड़ी केंद्रों

अवकाश के दिन मिलेगा केवल पोषाहार

विभाग की नई योजना के तहत केंद्र में आने वाले बच्चों को सप्ताह के सातों दिन पोषाहार दिया जाएगा। जिसकी जल्द ही आधिकारिक घोषणा विभाग द्वारा कर दी जाएगी। हालांकि अवकाश के दिनों में केंद्र पर बच्चों को पढ़ई नहीं करवाई जाएगी। पोषाहार वितरण कर कार्यकर्ताओं द्वारा बच्चों के मानसिक विकास को लेकर अलग अलग खेल खिलाए जाएंगे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sumerpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×