• Home
  • Rajasthan News
  • Sumerpur News
  • गौरव पथ पर बने नाले में तकनीकी खामी से एक इंच भी पानी आगे नहीं सरकता
--Advertisement--

गौरव पथ पर बने नाले में तकनीकी खामी से एक इंच भी पानी आगे नहीं सरकता

सुमेरपुर रोड पर गौरव पथ को लेकर तैयार किए गए नालों में तकनीकी खामी होने से गंदा पानी आगे नहीं जा रहा है। इसको लेकर...

Danik Bhaskar | Mar 11, 2018, 07:50 AM IST
सुमेरपुर रोड पर गौरव पथ को लेकर तैयार किए गए नालों में तकनीकी खामी होने से गंदा पानी आगे नहीं जा रहा है। इसको लेकर आसपास के लोगों ने पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों व ठेकेदारों को अवगत करवाया, लेकिन समस्या का समाधान नहीं हो पाया है। तकनीकी खामी के कारण नालों में गंदा पानी जमा होने से परेशानी हो रही है। यह हाल रहा तो बारिश के दिनों में सुमेरपुर रोड पर पानी निकासी की समस्या बनी रहेगी। गौरतलब है कि गौरव पथ पर पहले संकरे नाले बनाने के साथ ही लोगों को विरोध शुरू हुआ था। संकरे नालों को चौड़ा करने के बाद अब तकनीकी खामी रखने से अभी से समस्या आना शुरू हो चुकी है। इधर, डिवाइडर का निर्माण भी पूरा नहीं कराया जा रहा है।

भास्कर अलर्ट : खामियां दूर नहीं की तो बारिश के दिनाें में सुमेरपुर मार्ग पर फिर होगा जल भराव

एक तरफ बनाकर नाले का निर्माण बंद किया

सुमेरपुर रोड पर पीडब्ल्यूडी की ओर से एक तरफ नाले का निर्माण कार्य पूर्ण कर दूसरी तरफ नाले का निर्माण अधूरा छोड़ दिया है। पहले संकरा नाला बनाने पर लोगों ने विरोध किया था। इसके बाद काम बंद कर दूसरी तरफ नाले का निर्माण किया गया। ऐसे में बारिश से सड़क के दोनों ओर पहले सही तरीके नाले का निर्माण नहीं हुआ तो बड़ी समस्या खड़ी होगी।

नाला निर्माण पूरा होते ही दुकानदारों व होटल मालिकों ने शुरू किया अतिक्रमण

सुमेरपुर रोड पर गौरव पथ पर नाला निर्माण कार्य पूर्ण होते ही कई जगहों पर अतिक्रमण भी शुरू हो गया है। नालों को पूरी तरह ढंक दिए गए हैं, जिससे भविष्य में नालों की सफाई को लेकर भी समस्या बनी रहेगी। इसको लेकर न तो नगर परिषद की आेर से कार्रवाई की जा रही है और न ही पीडब्ल्यूडी के अधिकारी इस पर ध्यान दे रहे हैं।

20 से अधिक कॉलोनियां जुड़ी हैं इस मार्ग से

सुमेरपुर रोड पर तैयार हो रहे गौरव पथ से करीब 20 कॉलोनियां जुड़ी हुई हैं। इन कॉलोनियों की छोटी नालियों का पानी भी मुख्य नाले होकर आगे की तरफ जाएगा। नालों का निर्माण पूरा नहीं होने से गंदा पानी भी कॉलोनी की नालियों में जमा होगा।