Hindi News »Rajasthan »Sumerpur» जवाई नदी पुल पर 6 माह से टूटे पड़े हैं पिलर, हादसे की आशंका

जवाई नदी पुल पर 6 माह से टूटे पड़े हैं पिलर, हादसे की आशंका

जवाई नदी के पुल पर पिछले 6 महीने से स्पोर्ट पिलर टूटे होने से यहां से गुजरने वाले वाहन चालकों को हादसे का अंदेशा लगा...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 24, 2018, 10:05 AM IST

जवाई नदी पुल पर 6 माह से टूटे पड़े हैं पिलर, हादसे की आशंका
जवाई नदी के पुल पर पिछले 6 महीने से स्पोर्ट पिलर टूटे होने से यहां से गुजरने वाले वाहन चालकों को हादसे का अंदेशा लगा हुआ है। जुलाई महीने में जवाई बांध के गेज खोले जाने पर पानी के तेज बहाव से पुल पर सभी स्पोर्ट पिलर टूट गए। ऐसे में पुल से गुजरने वाले लोगों व वाहन चालकों को हमेशा हादसे की आशंका रहती है। अतिवृष्टि से नदी में अधिक पानी बहने पर पुल की सड़क पूरी तरह जर्जर हो जाने से पुलिस व प्रशासन ने पुल पर करीब एक सप्ताह तक वाहनों के साथ पैदल चलने वाले लोगों का आगमन बंद कर दिया था। जिला प्रभारी मंत्री राजेंद्रसिंह राठौड़ व गोपालन राज्य मंत्री ओटाराम देवासी को क्षतिग्रस्त पुल पर बंद किए यातायात की शिकायत मिलने पर वे उस समय शिवगंज आए थे तो उन्होंने लोगों की मांग पर संबंधित अधिकारियों को पुल के नए स्पोर्ट पिलरों का निर्माण एवं सड़क पर डामरीकरण कराने के निर्देश दिए थे। पुल पर डामरीकरण तो हाल ही में करवा दिया है, लेकिन स्पोर्ट पिलर अभी तक नहीं बनवाए है।

कई पिलर टूट चुके हैं : जवाई पुल पर सुमेरपुर की ओर हनुमानजी मंदिर के पास आज भी स्पोर्ट पिलर नहीं है। पुल के पास पश्चिमी दिशा की ओर गहरी खाई बनी हुई है और उसके किनारे पर भी न तो कोई संकेत बोर्ड या बेरिकेट लगाया हुआ है। ऐसे में शिवगंज की ओर आने वाले वाहन चालकों को पुल पर विशेषकर रात के समय अधिक दुविधा हो रही है। पुल पर पूर्व दिशा की ओर जो पत्थरों से स्पोर्ट पिलरों का निर्माण करवाया था, उसमें से भी कई पिलर फिर से टूट गए है।

पुल की सड़क पूरी तरह जर्जर हो जाने पर एक सप्ताह बंद रहा था आवागमन, पुल पर रहती है हादसे की आशंका

सुमेरपुर. पुल के पिलर नहीं होने से वाहन चालकों को हादसे की आशंका रहती है।

गहरी खाई, फिर भी पिलर नहीं

पुल पर जहां स्पोर्ट पिलर टूटे है, वहां पर करीब तीन महीने पहले पत्थरों से पिलर बनाने का कार्य शुरू कर कुछ पिलरों का निर्माण भी किया था, लेकिन पत्थरों के पिलर निर्माण के कुछ दिनों बाद ही टूट गए थे। पुल की पश्चिमी दिशा की ओर आज भी अधिकांश स्पोर्ट पिलर नहीं है। इस तरफ पानी बहने से पुल के पास करीब 20 फीट से अधिक गहरी खाई बनी हुई है। रात के समय वर्तमान में अंधेरा होने से पुल पर पिलर नहीं होने से परेशानी हो रही है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sumerpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×