--Advertisement--

जोधपुर के व्यापारी ने होटल में फंदा लगाकर जान दी

शहर के सुमेरपुर मार्ग स्थित एक होटल में शनिवार देर रात को एक जेवरात व्यापारी ने कर्जे से परेशान होकर फंदा लगाकर...

Danik Bhaskar | Jan 29, 2018, 09:50 PM IST
शहर के सुमेरपुर मार्ग स्थित एक होटल में शनिवार देर रात को एक जेवरात व्यापारी ने कर्जे से परेशान होकर फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। मृतक ने आत्महत्या करने से पहले सुसाइड नोट भी लिखा कि उस पर इतना कर्जा हो गया है कि वह तो क्या उसकी औलाद भी नहीं चुका पाएगी। पुलिस ने शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम क बाद परिजनों को सौंप दिया।

पुलिस के अनुसार जोधपुर के चौपासनी हाउसिंग बोर्ड में रहने वाला राजेश पुत्र धर्मराज सोनी जेवरात का छोटा-मोटा काम करता है। शनिवार रात 9.15 बजे वह पाली पहुंचकर सुमेरपुर मार्ग स्थित एक होटल में कमरा किराए पर लेकर रुका था। रात में उसने कमरे में ही पंखे के हूक पर फंदा बांधकर आत्महत्या कर ली। रविवार सुबह 10 बजे तक उसके कमरे से कोई आवाज नहीं आने पर होटल संचालक ने खिड़की से झांककर देखा तो वह फंदे पर लटक रहा था। मामले की जानकारी मिलने पर कोतवाली प्रभारी गंगाराम खावा पुलिस दल के साथ मौके पर पहुंचकर शव को नीचे उतरवाया तथा परिजनों को सूचना देकर पाली बुलाया।

मृतक के पास मिला सुसाइड नोट- लिखा कर्ज से पूरा ही डूब गया, मकान भी किराए का

मृतक राजेश सोनी पर लाखों रुपए का कर्जा था। वह ब्याज भी समय पर नहीं चुका पा रहा था। इसके चलते वह काफी परेशान था। मृतक ने आत्महत्या करने से पहले सुसाइड नोट भी लिखा। इसमें कहा कि वह कर्जे में पूरा डूबा हुआ है। कर्जा भी इतना है कि वह तो क्या उसके बेटे भी नहीं चुका पाएंगे। मकान भी किराए का है। इसलिए हर तरफ से हार चुका हूं। पुलिस ने सुसाइड नोट अपने कब्जे में ले लिया है। शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद परिजनों को सौंप दिया। पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है।

िसर्फ वह ही नकारात्मक खबर, जो आपको जानना जरूरी है

होटल में मौका मुआयना करते पुलिसकर्मी।