• Home
  • Rajasthan News
  • Sumerpur News
  • सुमेरपुर मंडी में व्यापारियों व किसानों में वजन कटौती पर बनी सहमति, आज से शुरू होगा कार्य
--Advertisement--

सुमेरपुर मंडी में व्यापारियों व किसानों में वजन कटौती पर बनी सहमति, आज से शुरू होगा कार्य

महाराजा उम्मेदसिंह कृषि उपज मंडी में किसानों से व्यापारियों द्वारा जिंसों की खरीद के दौरान प्रति बोरी 300 ग्राम...

Danik Bhaskar | Apr 09, 2018, 07:25 AM IST
महाराजा उम्मेदसिंह कृषि उपज मंडी में किसानों से व्यापारियों द्वारा जिंसों की खरीद के दौरान प्रति बोरी 300 ग्राम वजन में कटौती को लेकर किसानों व व्यापारियों में चल रहे विवाद पर दूसरे दिन शनिवार को आपसी सहमति बन गई। व्यापारियों व किसानों के बीच दो दिनों में कई दौर की वार्ता चलने के बाद वजन में कटौती नहीं करने का निर्णय लिया गया। वार्ता में मंडी प्रशासन ने किसानों व व्यापारियों मे चल रहे गतिरोध को खत्म करने में अहम भूमिका निभाईं।

शुक्रवार की तरह शनिवार को भी कच्चे आढ़तियों ने ही किसानों का माल अपने पास रखवाया। सोमवार को फिर से कृषि मंडी में किसानों की उपज की खरीद शुरू की जाएगी। किसानों की उपज खरीदने पर प्रति बोरी 300 ग्राम वजन बाद करने को लेकर किसानों व व्यापारियों में विवाद के चलते कृषि उपज मंडी में शनिवार को जिंसों की नीलामी का कार्य नहीं हुआ। दोनों पक्षों में विवाद को सुलझाने के लिए कई दौर की वार्ता हुई। जिसमें किसान संघर्ष समिति अध्यक्ष जयेंद्रसिंह गलथनी, रघुवीरसिंह बिसलपुर एवं व्यापार मंडल के प्रतिनिधि अध्यक्ष विनोद मेहता, सचिव भंवर देवड़ा, कोषाध्यक्ष नारायणलाल, सदस्य महिपाल, कनकराज मेहता, रमेशकुमार एवं व्यापार संघ के पूर्व अध्यक्ष बाबूलाल अग्रवाल सहित खरीदार व्यापारी मोहनलाल, अलकेश कुमार, चंपालाल, जीतेंद्र अग्रवाल एवं अन्य व्यापारियों से वार्ता हुई। इसके बाद सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया कि कृषि उपज मंडी में किसानों द्वारा अपनी उपज नीलामी के बाद तुलाई के दौरान व्यापारियों द्वारा किसी भी प्रकार की वजन संबंधित कटौती नहीं किए जाने का निर्णय लिया। मंडी सचिव सुरेश कुमार मंगल ने बताया कि मंडी में किसानों के हितों को ध्यान में रखते हुए किसानों की उपज की कोई भी अवैध कटौती होने पर नियमानुसार कठोर कार्रवाई की जाएगी। इस वार्ता के दौरान अवकाश के बावजूद मंडी पर्यवेक्षक मगनाराम मीणा, कृष्णकुमार गौड़, सुरेश कुमार चौहान व जेठाराम भाटी आदि मौजूद रहे।

समझौता हो गया है


किसानों के हित में लिया निर्णय


व्यापारियों ने कटौती नहीं करने का लिया निर्णय


सुमेरपुर. महाराजा श्री उम्मेदसिंह कृषि उपज मंडी।