• Home
  • Rajasthan News
  • Sumerpur News
  • Sumerpur - मंडी में ई-नाम योजना पर कार्यशाला आयोजित, व्यापार संघ ने प्रदर्शन कर किया बहिष्कार
--Advertisement--

मंडी में ई-नाम योजना पर कार्यशाला आयोजित, व्यापार संघ ने प्रदर्शन कर किया बहिष्कार

श्री महाराजा उम्मेदसिंह कृषि उपज मंडी समिति परिसर में मंगलवार को राष्ट्रीय कृषि बाजार ई-नाम योजना के अन्तर्गत एक...

Danik Bhaskar | Sep 12, 2018, 06:40 AM IST
श्री महाराजा उम्मेदसिंह कृषि उपज मंडी समिति परिसर में मंगलवार को राष्ट्रीय कृषि बाजार ई-नाम योजना के अन्तर्गत एक दिवसीय जागरूकता एवं प्रशिक्षण के लिए कार्यशाला आयोजित की गई। ई-नाम प्रभारी आशीष गुर्जर ने उपस्थित किसानों व हमालों को राष्ट्रीय कृषि बाजार ई-नाम संबंधी पीपीटी के माध्यम से प्रशिक्षण एवं जानकारी दी गई। ई-नाम योजना के तहत किसान की उपज का मंडी में प्रवेश के साथ ऑनलाइन गेट पास जारी करना व किसान की उपज की गुणवत्ता की जांच कर उसकी रिपोर्ट ई-नाम पर अपलोड करना, ई नीलामी द्वारा उपज के विक्रय की जानकारी, ई-नाम एप के संबंध में विस्तृत जानकारी दी गई। सचिव सुरेश कुमार मंगल ने बताया कि ई-नाम परियोजना के तहत मंडी में जिंसों की गुणवत्ता की जांच के लिए मंडी परिसर में आधुनिक मशीनें स्थापित की गई हैं। जिससे गुणवत्ता के आधार पर ई-नाम परियोजना में जीन्स की बिक्री होगी तथा किसान को उनकी उपज का अधिकतम मूल्य प्राप्त होगा। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार द्वारा राज्य की कृषि उपज मंडी समितियों में होने वाले कृषि उपज के व्यापार में अधिक से अधिक डिजिटल लेन-देन को प्रोत्साहित करने के लिए ई-नाम भुगतान योजना लागू की गई है। इस योजना के तहत पात्र कृषकों एवं व्यापारियों को मंडी स्तर पर, खंड स्तर पर एवं राज्य स्तर पर 15 हजार से 1 लाख रुपए तक के पुरस्कार की योजना लागू की गई है। इसी प्रकार राज्य सरकार द्वारा कृषि उत्पादन में महिला को सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए सावित्री बाई फूले महिला कृषक सशक्तिकरण योजना लागू की गई है, जिसके अंतर्गत महिला कृषक द्वारा 50 हजार तक ई-भुगतान प्राप्त करने पर पांच सौ से एक लाख रुपए तक ई-भुगतान प्राप्त करने पर एक हजार तक की प्रोत्साहन राशि सीधे बैंक में स्थानांतरित करने की योजना लागू की गई है।

व्यापार संघ ने कार्यशाला का विरोध प्रदर्शन कर बहिष्कार किया : मंडी व्यापार संघ ने ई-नाम योजना पर आयोजित कार्यशाला का विरोध प्रदर्शन करते हुए बहिष्कार किया हैं। व्यापार संघ के सचिव भंवर देवडा ने बताया कि ई-नाम योजना को लेकर मंडी परिसर प्लेटफार्म पर बैठक आयोजित कर इसका विरोध प्रदर्शन किया गया। उन्होंने बताया कि केन्द्र सरकार ई-नाम योजना के सफल क्रियान्विति के पुरे प्रयास कर रही है। लेकिन व्यापार संघ इस योजना से होने वाले नुकसान का आंकलन कर विरोध जता रही है। उन्होंने बताया कि इस संबंध मे कुछ दिन पूर्व ही राज्य भर की मंडियां बंद रखकर सरकार का ध्यान आकर्षित किया गया था।

व्यापार संघ मंडी में ई-नाम योजना पर आयोजित कार्यशाला पर जताया रोष, ई-नाम योजना की कार्यशाला में दी जानकारी

सुमेरपुर. कार्यशाला में उपस्थित किसान।

ई-नाम योजना की दी जानकारी

कृषि विपणन जोधपुर के संयुक्त निदेशक डॉ. पूरणसिंह जैतावत ने ई-नाम योजना के तहत तकनीकी रूप से होने वाले सभी लाभों के बारे बताया जानकारी देते हुए समस्याओं का तकनीकी रूप से समाधान किया। वहीं भीनमाल मंडी सचिव जयकिशन विश्नोई ने भी अपने संबोधन मे ई-नाम परियोजना, राजीव गांधी कृषक साथी योजना, महात्मा ज्योतिबा फूले श्रमिक कल्याण योजना व किसान कलेवा योजना के बारे में जानकारी दी। कार्यशाला में सुमेरपुर मण्डी क्षेत्र के व्यापारी एवं किसान, भारतीय किसान संघ, सिरोही जिला के अध्यक्ष बस्तीमल माली, हजारीमल माली, भूरसिंह, भगवतसिंह, मनोहर सिंह, गोविंद सुआरा एवं शिवगंज फल-सब्जी मण्डी के अध्यक्ष अमृतलाल माली, सदस्य मांगीलाल भाटी, छगनलाल, नारायणलाल, अशोक कुमार व मण्डी कर्मचारी एम.आर. मीणा, एफ.एम. पठान, कृष्ण कुमार गौड़, सुरेश चौहान, अशफाक अहमद सहित अन्य मौजूद रहे।