भक्त लिखमीदास महाराज के मेले में माली समाज ने मृत्युभोज बंद करने का लिया निर्णय

Sumerpur News - शहर के गोकुलवाड़ी मोहल्ले में शुक्रवार को भक्त लिखमीदास महाराज का वार्षिक मेला भरा एवं स्वामी चेतन गिरी महाराज,...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 10:16 AM IST
Sheoganj News - rajasthan news mali society decided to stop the festivals at the festival of devotees
शहर के गोकुलवाड़ी मोहल्ले में शुक्रवार को भक्त लिखमीदास महाराज का वार्षिक मेला भरा एवं स्वामी चेतन गिरी महाराज, पंछीदास महाराज, शिवरामदास महाराज व साध्वी संतोष भारती के सानिध्य में समाज सुधार सम्मेलन का आयोजन भी किया गया। सम्मेलन में शिवगंज माली समाज ने मृत्यु भोज का विरोध कर उसे बंद करने का निर्णय लिया। इस निर्णय पर खुशी जताते हुए समाजबंधुओं ने एक-दूसरे का मुंह मीठा किया। सवेरे मंदिर पर ध्वजा चढ़ाई। तत्पश्चात हवन, पूजा-अर्चना व महाआरती का आयोजन हुआ। समाज सुधार सम्मेलन में संत चेतनगिरी महाराज ने कहा कि समाज को समय के साथ चलकर सबसे पहले अपने बच्चों के उज्जवल भविष्य बनाने की पहल करनी चाहिए ताकि वह सुखी जीवन बिता पाए। फालना माली जाति शिक्षा प्रचारक संघ के मुख्य संरक्षक शंकरलाल गहलोत ने शिक्षण के समय बच्चों पर घरेलू कार्य के लिए अधिक दबाव नहीं का आह्वान किया।

समाज के सम्मेलन में लिया निर्णय : सम्मेलन में समाजसेवी धनराज गहलोत ने मृत्यु भोज का विरोध करते हुए उसमें मिष्ठान नहीं बनाने का प्रस्ताव रखा, जिस पर पांडाल में बैठे समाज के लोगों ने हाथ खड़े कर प्रस्ताव का समर्थन किया। इसके बाद शिवगंज माली समाज के अध्यक्ष मांगीलाल टांक ने मृत्यु भोज कार्यक्रम में मीठा भोजन बंद करने की घोषणा की। सम्मेलन की शुरूआत में साधु-संतों, अतिथियों व दानदाताओं का स्वागत किया। मंच संचालन पूर्व व्याख्याता छोगाराम भाटी व प्रकाश परिहार ने किया। इस मौके महात्मा ज्योतिबा फुले संस्थान के राष्ट्रीय अध्यक्ष मोतीलाल सांखला, माली समाज के संरक्षक चुन्नीलाल परिहार, उपाध्यक्ष लक्ष्मण परिहार, कोषाध्यक्ष गणेश भाटी, पूर्व अध्यक्ष बाबूलाल गहलोत, मांगीलाल गहलोत, नारायणलाल परिहार, बाण माता मंदिर ट्रस्ट अध्यक्ष रूपाराम परिहार, सामूहिक विवाह आयोजन समिति अध्यक्ष भंवरलाल देवड़ा, नारायणलाल चौधरी, गणेशराम परिहार, नरेंद्र परिहार, डूंगाराम माली, प्रताप परमार, प्रकाश भाटी, पुखराज परिहार, हरीश परिहार, नवयुवक मंडल अध्यक्ष रविंद्र परिहार, प्रकाश टांक आदि उपस्थित थे।

शाम को निकाली शोभायात्रा, गूंजे जयकारे

शाम करीब छह बजे ज्योतिबा फुले चौक से भक्त लिखमीदास की शोभायात्रा निकाली गई। शोभायात्रा गोशाला सडक़, अग्रसेन मार्ग से होते हुए गोलबिल्ंिडग, कलापुरा, होली चौक, सब्जी मंडी, धानमंडी समेत विभिन्न मौहल्लों से होकर लिखमीदासजी मंदिर पहुंचकर विसर्जित हुई। शोभायात्रा के दौरान बाजार की सड़कों व चौराहों पर युवक-युवतियों ने डांडिया नृत्य किया। शोभायात्रा में सजाए रथ पर भक्त लिखमीदास महाराज की प्रतिमा स्थापित की गई थी।

X
Sheoganj News - rajasthan news mali society decided to stop the festivals at the festival of devotees
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना