• Hindi News
  • Rajasthan
  • Suratgarh
  • फाइनल में सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड बना चेन्नई तीसरी बार चैंपियन, हैदराबाद को 8 विकेट से मात

फाइनल में सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड बना चेन्नई तीसरी बार चैंपियन, हैदराबाद को 8 विकेट से मात / फाइनल में सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड बना चेन्नई तीसरी बार चैंपियन, हैदराबाद को 8 विकेट से मात

Bhaskar News Network

May 28, 2018, 06:20 AM IST

Suratgarh News - शेन वाटसन (117 नाबाद) की शतकीय पारी की बदौलत चेन्नई सुपरकिंग्स ने तीसरी बार आईपीएल का खिताब जीत लिया है। रविवार को...

फाइनल में सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड बना चेन्नई तीसरी बार चैंपियन, हैदराबाद को 8 विकेट से मात
शेन वाटसन (117 नाबाद) की शतकीय पारी की बदौलत चेन्नई सुपरकिंग्स ने तीसरी बार आईपीएल का खिताब जीत लिया है। रविवार को खेले गए फाइनल मुकाबले में चेन्नई ने सनराइजर्स हैदराबाद को 8 विकेट से हरा दिया। यह आईपीएल फाइनल में लक्ष्य का पीछा करते हुए सबसे बड़ी जीत है। पिछला रिकॉर्ड पांच विकेट से जीत का था। केकेआर ने 2012 के फाइनल में चेन्नई सुपरकिंग्स को इस अंतर से हराया था। सनराइजर्स हैदराबाद ने छह विकेट खोकर 178 रन बनाए। चेन्नई ने 18.3 ओवर में 2 विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया।

चेन्नई ने मुंबई की और धोनी ने रोहित की बराबरी की





शेन वाटसन

वाटसन फाइनल में शतक बनाने वाले दूसरे खिलाड़ी

शेन वाटसन (117*) फाइनल में शतक बनाने वाले दूसरे खिलाड़ी बने। वे फाइनल के हाईएस्ट स्कोरर रहे। इससे पहले, किंग्स इलेवन पंजाब के रिद्धिमान साहा ने 2014 के फाइनल में नाबाद 115 रन बनाए थे। इसके अलावा, वाटसन सीजन में दो शतक बनाने वाले चौथे खिलाड़ी बन गए हैं। उन्होंने इसी सीजन में राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ 106 रन बनाए थे।

11 सीजन में से सिर्फ एक बार स्पिनर को मिली है पर्पल कैप

एक सीजन में सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज को ‘पर्पल कैप’ से नवाजा जाता है। आईपीएल के 11 सीजन में अब तक आठ गेंदबाजों को ‘पर्पल कैप’ से सम्मानित किया जा चुका है। ड्वेन ब्रावो और भुवनेश्वर को दो-दो बार ‘पर्पल कैप’ मिला है। 11 सीजन में सिर्फ एक बार ही स्पिनर प्रज्ञान ओझा ने पर्पल कैप हासिल किया है। बाकी 9 बार तेज गेंदबाजों ने सबसे ज्यादा विकेट लेकर पर्पल कैप हासिल की। डेक्कन चार्जर्स के स्पिनर प्रज्ञान ओझा ने आईपीएल-3 में 16 मैचों में 21 विकेट लिए थे।

सनराइजर्स 178/6 (20 ओवर), चेन्नई 181/2 (18.3 ओवर)


सनराइजर्स हैदराबाद रन गेंद 4 6

गोस्वामी रन आउट (कर्ण/धोनी) 5 5 0 0

शिखर धवन बो. जडेजा 26 25 2 1

विलियम्सन स्टं. धोनी बो. कर्ण 47 36 5 2

शाकिब कै. रैना बो. ब्रावो 23 15 2 1

यूसुफ पठान नाबाद 45 25 4 2

हुड्‌डा कै सब (ध्रुव) बो. एंगिडी 3 4 0 0

ब्रैथवेट कै. रायडू बो. शार्दुल 21 11 0 3

अतिरिक्त: 8, कुल: 178/6 (20 ओवर)

विकेट पतन: 1-13, 2-64, 3-101, 4-133, 5-144, 6-178.

दीपक चाहर 4-0-25-0, लुनगी एंगिडी 4-1-26-1, शार्दुल ठाकुर 3-0-31-1, कर्ण शर्मा 3-0-25-1, ड्वेन ब्रावो 4-0-46-1, रवींद्र जडेजा 2-0-24-1

चेन्नई सुपरकिंग्स रन गेंद 4 6

शेन वाटसन नाबाद 117 57 11 8

डू प्लेसिस कै. एंड बो. संदीप 10 11 1 0

सुरेश रैना कै. गोस्वामी बो. ब्रैथवेट 32 24 3 1

अंबति रायडू नाबाद 16 19 1 1

अतिरिक्त: 6, कुल 181/2 (18.3 ओवर) विकेट पतन: 1-16, 2-133. गेंदबाजी: भुवनेश्वर 4-1-17-0, संदीप शर्मा 4-0-52-1, सिद्धार्थ कौल 3-0-43-0, राशिद खान 4-1-24-0, शाकिब अल हसन 1-0-15-0, कार्लोस ब्रैथवेट 2.3-0-27-1

33 स्टंपिंग करने वाले विकेटकीपर बन गए हैं धोनी। आईपीएल में सबसे ज्यादा। रॉबिन उथप्पा (32) दूसरे नंबर पर।

पिछले साल खेले गए भारत और ऑस्ट्रेलिया रांची टेस्ट में स्पॉट फिक्सिंग की आशंका

मेलबर्न | श्रीलंका-ऑस्ट्रेलिया और श्रीलंका-भारत के बाद अब ऑस्ट्रेलिया-भारत का रांची में मार्च 2017 में खेला गया टेस्ट मैच भी स्पॉट फिक्सिंग के संदेह के घेरे में आ गया है। अल जजीरा ने एक डाक्यूमेंट्री में ऐसा दावा किया है। डॉक्यूमेंट्री के अनुसार मैच में एक निश्चित अवधि में कुछ ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों ने उस गति से रन बनाए थे, जो फिक्सरों ने सट्टेबाजी के लिए निर्धारित किए थे। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) ने इन आरोपों के बाद टीवी चैनल अल जजीरा से रॉ फुटेज देने का अनुरोध किया है। ताकि वह मामले की जांच कर सके। डॉक्यूमेंट्री में अल जजीरा ने एक भारतीय नागरिक अनील मुन्नवर को दिखाया है, जिसके लिए कहा जाता है कि वह डी कंपनी के लिए काम करता है। इस व्यक्ति को अंडरकवर रिपोर्टर को दो ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों का नाम बताते दिखाया गया है जो फिक्सिंग का हिस्सा हैं। इन क्रिकेटरों के नाम फिलहाल हटा दिए गए हैं लेकिन अल जजीरा का कहना है कि वह संबंधित अधिकारियों को इनकी जानकारी दे सकता है।

शिखर धवन टी20 क्रिकेट में छह हजार रन पूरे करने से चूके

सनराइजर्स हैदराबाद के ओपनर शिखर धवन इस पारी में 26 रन बनाकर आउट हो गए। उनका विकेट रवींद्र जडेजा ने लिया। इसके साथ ही धवन टी-20 क्रिकेट में अपने छह हजार रन पूरे करने के चूक गए। इसके लिए उन्हें इस पारी में 44 रन की जरूरत थी। इस तरह वे अभी इस माइलस्टोन से अब भी 18 रन दूर हैं। उन्होंने इस पारी में 25 गेंदों का सामना किया औऱ् दो चौके और एक छक्का जमाया।

150 या उससे ज्यादा छक्के जमाने वाले पांचवें विदेशी खिलाड़ी बन गए हैं शेन वाटसन आईपीएल में।

11 वीं बार टॉस जीता चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान धोनी ने इस सीजन में। सबसे ज्यादा। 10वीं बार फील्डिंग चुनी।

श्रीगंगानगर में खेल चुके चाहर ने भी दिखाया दम

श्रीगंगानगर|
आईपीएल में चमके खिलाड़ी दीपक चाहर ने क्रिकेट की शुरुआत प्रेक्टिस श्रीगंगानगर जिले में ही की थी। सूरतगढ़ की शेरवुड क्रिकेट एकेडमी में इस खिलाड़ी ने क्रिकेट की बारीकियां सीखी व जिला क्रिकेट एसोसिएशन में रहते हुए खेल में निखार लाया। दीपक का जन्म यूपी के आगरा में हुआ, लेकिन काफी समय सूरतगढ़ में बीता। इससे पहले पंजाब किंग्स इलेवन के खिलाफ खेले गए मैच में चाहर ने 20 गेंदों पर 39 रनों की शानदार पारी खेलकर चेन्नई टीम की जीत सुनिश्चित की थी। साथ ही एक विकेट लिया था। अब इस खिलाड़ी के जल्दी ही भारतीय क्रिकेट टीम में चयन के कयास भी लगाए जा रहे हैं। दीपक चाहर गेंदबाजी में तेज गति के साथ हल्की स्विंग कराने में माहिर हैं। वर्ष 2003 में सूरतगढ़ की शेरवुड क्रिकेट एकेडमी में कोच रणजीत सिंह थिंद के निर्देश में गेंदबाजी व बल्लेबाजी के हुनर सीखे। दीपक के पिता लोकेंद्र चाहर पिता सूरतगढ़ एयरफोर्स में सारजेंट के पद पर तैनात रहे।

विलियम्सन एक सीजन में 700+ रन बनाने वाले 5वें खिलाड़ी बने

खिलाड़ी (साल) रन

कोहली (2016) 973

वॉर्नर (2016) 848

विलियम्सन (2018) 735

गेल (2012) 733

हसी (2013) 733

गेल (2013) 708

इस मैच में खेल रहे 5 खिलाड़ियों ने पहले सीजन का फाइनल भी खेला था। ये खिलाड़ी हैं- धाेनी, सुरेश रैना, यूसुफ पठान, रवींद्र जडेजा, शेन वाटसन।

1

पहली बार आईपीएल फाइनल में तीन गेंदबाजों ने मेडन ओवर डाले।

509 रन दिए ब्रावो ने इस सीजन में। यह एक सीजन में सबसे अधिक रन खर्च करने का रिकॉर्ड है।

अवॉर्ड्स आॅफ द सीजन








फाइनल में सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड बना चेन्नई तीसरी बार चैंपियन, हैदराबाद को 8 विकेट से मात
फाइनल में सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड बना चेन्नई तीसरी बार चैंपियन, हैदराबाद को 8 विकेट से मात
फाइनल में सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड बना चेन्नई तीसरी बार चैंपियन, हैदराबाद को 8 विकेट से मात
फाइनल में सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड बना चेन्नई तीसरी बार चैंपियन, हैदराबाद को 8 विकेट से मात
फाइनल में सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड बना चेन्नई तीसरी बार चैंपियन, हैदराबाद को 8 विकेट से मात
फाइनल में सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड बना चेन्नई तीसरी बार चैंपियन, हैदराबाद को 8 विकेट से मात
X
फाइनल में सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड बना चेन्नई तीसरी बार चैंपियन, हैदराबाद को 8 विकेट से मात
फाइनल में सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड बना चेन्नई तीसरी बार चैंपियन, हैदराबाद को 8 विकेट से मात
फाइनल में सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड बना चेन्नई तीसरी बार चैंपियन, हैदराबाद को 8 विकेट से मात
फाइनल में सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड बना चेन्नई तीसरी बार चैंपियन, हैदराबाद को 8 विकेट से मात
फाइनल में सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड बना चेन्नई तीसरी बार चैंपियन, हैदराबाद को 8 विकेट से मात
फाइनल में सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड बना चेन्नई तीसरी बार चैंपियन, हैदराबाद को 8 विकेट से मात
फाइनल में सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड बना चेन्नई तीसरी बार चैंपियन, हैदराबाद को 8 विकेट से मात
COMMENT