• Hindi News
  • Rajasthan
  • Suratgarh
  • अब शहरों से नाके हटा गांवों में लगाएंगे किसान, लोगों को कल से दूध-सब्जी लेने भी वहीं पर जाना होगा, बैठक आज
--Advertisement--

अब शहरों से नाके हटा गांवों में लगाएंगे किसान, लोगों को कल से दूध-सब्जी लेने भी वहीं पर जाना होगा, बैठक आज

भास्कर संवाददाता|श्रीगंगानगर दस दिवसीय गांव बंद में गुरुवार से नई रणनीति अपनाने के लिए किसान बुधवार को बैठक...

Dainik Bhaskar

Jun 06, 2018, 06:35 AM IST
अब शहरों से नाके हटा गांवों में लगाएंगे किसान, लोगों को कल से दूध-सब्जी लेने भी वहीं पर जाना होगा, बैठक आज
भास्कर संवाददाता|श्रीगंगानगर

दस दिवसीय गांव बंद में गुरुवार से नई रणनीति अपनाने के लिए किसान बुधवार को बैठक में विचार-विमर्श कर निर्णय लेंगे। अखिल भारतीय किसान महासंघ की कोर कमेटी की दिल्ली में हुई बैठक में तय किया गया कि किसान अब शहर में बाजारों के बाहर से नाके हटाकर गांवों के बाहर लगाएंगे ताकि बाजार में दूध और सब्जी आ ही न सके। इस पर बुधवार को आंदोलनकारी किसानों की बैठक के बाद ही अमल होगा।

कोर कमेटी की बैठक में यहां से भाग लेने गए संतवीर सिंह मोहनपुरा ने महासंघ की इच्छा से स्थानीय नेताओं को अवगत कराया। गंगानगर किसान समिति के संयोजक रणजीत सिंह राजू ने बताया कि आंदोलन 10 जून तक जारी रहेगा। बुधवार सुबह 11 बजे किसान संगठनों के स्थानीय कार्यकर्ताओं की गुरुद्वारा सिंह सभा में बैठक होगी। इसमें कोर कमेटी के दिल्ली में हुए निर्णय पर सर्वानुमति ली जाएगी। इसके बाद आंदोलन की रणनीति बदलकर गांवों के बाहर नाके लगाए जाएंगे।

मंडी में सब्जी लाने पर किसानों की दुकानदारों से झड़प, मजदूर को पीटा, फिर समझाइश से शांत हुआ मामला

किसानों के गांव बंद के बावजूद मंगलवार को मंडी में बिकने के लिए सब्जी लाए जाने पर किसान भड़क गए और उनकी फल-सब्जी मंडी के व्यापारियों से झड़प हो गई। इस दौरान व्यापारियों का समर्थन कर रहे एक सब्जी मंडी मजदूर से किसान कार्यकर्ताओं ने मारपीट कर दी। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची, लेकिन व्यापारी नेता गुरदयाल सिंह खनूजा कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष पृथीपाल सिंह संधू, जगदीश जांदू, रणजीत सिंह राजू आदि ने दोनों पक्षों को समझा-बुझाकर मामले को शांत किया। सब्जी मंडी में मिर्च और भिंडी के 25-30 थैले पैक किए हुए आए थे।

शहर के बाहर मंगलवार को सभी नाकों पर किसान संगठनों के कार्यकर्ता मुस्तैद रहे। इनमें दूध सप्लाई मजदूर संघ, किसान सभा, राजस्थान किसान सभा, किसान संघर्ष समिति, फल-सब्जी उत्पादक किसान संघ, गंगानगर किसान समिति, किसान कांग्रेस और कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं ने शहर में माल सप्लाई नहीं होने दिया। शहर में मवेशी पालकों एवं डेयरी संचालकों ने दूध सप्लाई किया। इसके अलावा गंगानगर क्लब, साधुवाली पुल, एसएसबी रोड पुल और सूरतगढ़ बाइपास पर ग्रामीणों ने अपना दूध लाकर शहरी लोगों को बेचा। साथ ही इन नाकों पर सब्जियां बेची गई। गंगानगर क्लब के सामने सब्जियां हाथो हाथ बिक गईं। विभिन्न नाकों पर रणजीतसिंह राजू, अमरसिंह बिश्नोई, सुभाष स्वामी, पृथीपालसिंह संधू, जगदीश जांदू, ललित बहल, विक्रम सिंह शेरगिल, गुरलाल सिंह रोटांवाली, भरपूरसिंह मोहनपुरा, बॉबी बराड़ सहित अनेक नेताओं के नेतृत्व में नाकों पर शहर की सप्लाई रोकी गई।

हनुमानगढ़ से श्रीगंगानगर ट्रेन में ला रहे थे सब्जी, किसानों ने चेकिंग करके जब्त की, फिर गोशाला में भिजवाई

धोलीपाल व सिंहपुरा के किसानों को सूचना मिली कि हनुमानगढ़ से श्रीगंगानगर जा रही ट्रेन में कुछ लोग सब्जियों को लेकर सादुलशहर मंडी जा रहे हैं। इस पर दोनों गांव के किसानों ने अल सुबह से ही धोलीपाल रेलवे स्टेशन पर डेरा डाला। जैसे ही ट्रेन आई तो किसानों ने सभी डिब्बों की तलाशी ली। बीस थैले सब्जी के मिले। यह सब्जी बुगलांवाली हाल्ट स्टेशन पर उतारकर धोलीपाल की गौशाला में गोवंश को खिला दी। दूध व सब्जी विक्रेताओं ने चोरी छुपे सब्जी व दूध लाकर शहर में बेचा। हालांकि पूर्व की भांति बाजार में सब्जी की रेहड़ियां नहीं लगी।

X
अब शहरों से नाके हटा गांवों में लगाएंगे किसान, लोगों को कल से दूध-सब्जी लेने भी वहीं पर जाना होगा, बैठक आज
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..