सूरतगढ़

  • Hindi News
  • Rajasthan News
  • Suratgarh News
  • भर्ती राजस्थान की, परीक्षा के लिए डिस्कॉम ने यूपी और एमपी में बना दिए सेंटर
--Advertisement--

भर्ती राजस्थान की, परीक्षा के लिए डिस्कॉम ने यूपी और एमपी में बना दिए सेंटर

भास्कर संवाददाता| श्रीगंगानगर बिजली निगम की भर्ती युवाओं के लिए परेशानी का कारण बनी हुई है। कारण यह है कि...

Dainik Bhaskar

Jun 30, 2018, 06:40 AM IST
भास्कर संवाददाता| श्रीगंगानगर

बिजली निगम की भर्ती युवाओं के लिए परेशानी का कारण बनी हुई है। कारण यह है कि राजस्थान राज्य विद्युत उत्पादन निगम लिमिटेड में जूनियर असिस्टेंट, कमर्शियल असिस्टेंट सेकंड जैसे पदों पर भर्ती के लिए 6 जुलाई को परीक्षा होनी है। अब निगम ने परीक्षा में शामिल होने वाले युवाओं के लिए उनके घर से 700 से 1000 किलोमीटर दूर दूसरे राज्यों में परीक्षा केंद्र बना दिया है। अब इन युवाओं को अगर परीक्षा में शामिल होना है तो उन्हें उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश, गुजरात जाना पड़ेगा। अन्यथा यह परीक्षा देने से वंचित रह जाएंगे। वहीं दूसरी ओर युवाओं की मानें तो उन्होंने वहीं परीक्षा केंद्र भरे थे, जो जिले से 100 से 150 किलोमीटर के दायरे में थे। लेकिन निगम ने उनको घर से काफी दूर भेज दिया।

महिलाओं को भी नहीं मिली राहत: आमतौर पर हर परीक्षा में महिलाओं को राहत दी जाती है और उन्हें उनके अपने जिले में या आसपास के जिले में परीक्षा देने के लिए भेजा जाता है। इस परीक्षा में महिलाओं और लड़कियों को भी राहत नहीं दी गई है। श्रीगंगानगर की सुरभि शर्मा को परीक्षा देने के लिए उत्तरप्रदेश के नोएडा में जाना पड़ेगा। अब इतनी दूर परीक्षा केंद्र होने के कारण ज्यादातर छात्राएं इस परीक्षा में शामिल नहीं हो सकेंगी।

बिजली निगम में जूनियर व कमर्शियल असिसटेंट पदों के लिए 6 जुलाई को होनी है परीक्षा

सेंटर दूर होने के कारण छोड़नी पड़ेगी परीक्षा

केवल श्रीगंगानगर जिले में ही सैकड़ों ऐसे अभ्यर्थी हैं, जिनके परीक्षा केंद्र दूसरे राज्यों में सैकड़ों किलोमीटर दूर बना दिए गए हैं। निखिल अग्रवाल का सेंटर मध्यप्रदेश के इंदौर में भेजा गया है। संदीप तलवार को परीक्षा देने के लिए गाजियाबाद जाना होगा। अब घर से इतनी दूर सेंटर पड़ने के कारण कई अभ्यर्थियों के सामने परीक्षा छोड़ने तक की नौबत आ रही है। कुछ का यह कहना है कि आर्थिक कमजोरी के कारण वह इतनी दूर जाकर परीक्षा नहीं दे सकते हैं और उन्हें यह परीक्षा छोड़नी पड़ेगी।

पुरानी आबादी निवासी राजदीप जांगिड़ को परीक्षा के लिए मेरठ उत्तरप्रदेश को केंद्र मिला है। इनकी परीक्षा 6 जुलाई को होनी है। राजदीप ने बताया कि आवेदन करते समय उसने परीक्षा के लिए श्रीगंगानगर के साथ बीकानेर, जयपुर और बठिंडा केंद्र चुना था, लेकिन इसमें से कोई केंद्र नहीं मिला।

सूरतगढ़ के ललित चुघ का परीक्षा केंद्र फरीदाबाद उत्तरप्रदेश के एक शिक्षण संस्थान में बनाया गया है। ललित ने बताया कि उसने श्रीगंगानगर, जयपुर, बीकानेर और सीकर को परीक्षा केंद्र बनाया था, लेकिन उसका सेंटर फरीदाबाद बना दिया गया है। इससे परीक्षा में शामिल होना भी मुश्किल लग रहा है।

केस 1

केस 2

X
Click to listen..