Hindi News »Rajasthan »Suratgarh» लालगढ़ आयुध डिपोकर्मी को स्मैक की लत, साइकिलें चुरा 400 रुपए में बेचता, सीसीटीवी फुटेज से पकड़ा गया

लालगढ़ आयुध डिपोकर्मी को स्मैक की लत, साइकिलें चुरा 400 रुपए में बेचता, सीसीटीवी फुटेज से पकड़ा गया

भास्कर संवाददाता|श्रीगंगानगर सैन्य छावनी स्थित आयुध डिपो में नौकरी करने वाले एक कर्मचारी को साइकिल चोरी करते...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 16, 2018, 06:40 AM IST

  • लालगढ़ आयुध डिपोकर्मी को स्मैक की लत, साइकिलें चुरा 400 रुपए में बेचता, सीसीटीवी फुटेज से पकड़ा गया
    +3और स्लाइड देखें
    भास्कर संवाददाता|श्रीगंगानगर

    सैन्य छावनी स्थित आयुध डिपो में नौकरी करने वाले एक कर्मचारी को साइकिल चोरी करते पकड़ा है। आरोपी से चोरी करके ले जाई जा रही साइकिल भी बरामद की गई है। यह कार्रवाई रविवार दोपहर हनुमानगढ़ राेड पर की गई। चिंता की बात यह है कि कर्मचारी यह चोरियां अपनी स्मैक की लत पूरी करने को कर रहा था। आरोपी के खिलाफ जवाहरनगर थाना में साइकिल चोरी का मुकदमा दर्ज था। मामले की जांच मीरा चौक चौकी के एएसआई जयकुमार भादू कर रहे हैं। आरोपी को सीसीटीवी फुटेज की मदद से पकड़ा गया है। भादू ने बताया कि लालगढ़ जाटान छापनी में 24 एफएडी के कर्मचारी 37 वर्षीय पवनकुमार पुत्र करणसिंह राजपूत को साइकिल चोरी के आरोप में पकड़ा गया है। आरोपी मूलत: गुड़गांव के पटौती थाना क्षेत्र के गांव शेखपुर का रहने वाला है और वर्तमान में लालगढ़ जाटान गांव में अपने भाई-भाई के साथ रह रहा है। आरोपी की प|ी कोटपूतली में अध्यापिका है। उसके दो बेटियां भी हैं। छापांवाली निवासी विष्णुलाल कुम्हार ने परिवाद दर्ज करवाया था। पीड़ित ने बताया कि वह विवेकानंद कॉलोनी में रह रहा है। उसकी छोटी बहन प्रशासनिक सेवाओं की तैयारी के लिए चहल चौक स्थित कुम्हार धर्मशाला में पढ़ने साइकिल पर जाती है। शनिवार को उसकी साइकिल धर्मशाला के सामने से चोरी हो गई।

    साइकिल चोर एफएडी का कर्मचारी।

    बीकानेर आ रही सरायरोहिल्ला ट्रेन के महिला कोच से 12 हजार नकदी व तीन मोबाइल सहित बैग चोरी

    रायसिंहनगर| दिल्ली से बीकानेर जा रही सरायरोहिल्ला ट्रेन के महिला कोच में रोहतक से सवार आठ महिलाओं का सामान चलती गाड़ी में तीन युवकों ने चुरा लिया। सामान चोरी होने पर महिलाओं ने गाड़ी में सुरक्षा के लिए तैनात जीआरपी के जवानों को सूचना दी। महिलाओं का आरोप है कि किसी ने कोई सुनवाई नहीं की। रोहतक के समचाना गांव के वीरभान पुत्र नंदराम जाट ने बताया कि वह परिवार की 8 महिलाएं कमर में दर्द उपचार के लिए रायसिंहनगर आ रहे थे। सरायरोहिला ट्रेन में महिला कोच से जाखल के पास महिलाओं के बैग अज्ञात युवक चोरी कर ले गए। बैग में महिलाओं के कपड़े तीन मोबाइल तथा करीब 12 हजार रुपए नगदी थी। उसने बताया कि घटना के बाद जीआरपी को सूचना दी परंतु कोई कार्यवाही नहीं की। जीआरपी के जवानों ने वहां कहा कि आगे चल कर मामला दर्ज करवा देना ऐसा करते करते ट्रेन रायसिंहनगर पहुंच गई। उसने बताया कि मामले की जानकारी बीकानेर डीआरएम को भी दी गई। परंतु मामला कोई दर्ज नहीं किया गया। वीरभान जाट व उसके साथ आ रही परिवार की महिलाएं रायसिंहनगर स्टेशन पर उतर गए। स्टेशन मास्टर तथा स्थानीय पुलिस को भी जानकारी दी।

    मैं 18 साल से सेना में आयुध भंडार में मजदूर की नौकरी कर रहा हूं। 40 हजार रुपए तनख्वाह है। साल 2008 में सूरतगढ़ सैन्य छावनी में नौकरी पर था। वहां पर हरियाणा का एक अन्य लड़का भी मेरे साथ नौकरी करता था। उसको उसके दोस्त ने स्मैक पीना सिखा दिया था। 2009 में मेरी प|ी मुझसे रूठकर चली गई। उन दिनों मुझे एक क्वार्टर शराब पीने की लत लग गई। एक दिन मेरे साथी ने मुझको भूरा सा पाउडर दिखाते हुए बताया कि इसे सिगरेट की तरह पी लो। सारे दुख दूर हो जाएंगे और नींद अच्छी आएगी। मैंने उसके कहे अनुसार उस पाउडर को पी लिया। मुझे बहुत सुकून मिला और नींद भी अच्छी आ गई। अगले दिन फिर उसने मेरे को वही पाउडर पिलाया। इस तरह एक सप्ताह तक यह सिलसिला चलता रहा। इसके बाद मेरे दोस्त ने बताया कि यह स्मैक है और इसका नशा शरीर को बहुत सुकून देता है। उन दिनों मैं पारिवारिक रूप से परेशान था इसलिए इस पाउडर को लगातार पीने लगा। देखते ही देखते मुझे इसकी लत हो गई। बीच में एक दिन भी स्मैक पीने को नहीं मिलती थी तो नींद नहीं आती थी और बेचैनी बहुत बढ़ जाती थी। हालांकि बाद में मेरी प|ी वापस लौट आई। उनको पता चला तो मुझे बहुत डांट पड़ी। इलाज भी करवाया लेकिन लत नहीं छूटी। इस नशे की पूर्ति के लिए रोजाना एक साइकिल चुराता हूं और छावनी के पास बैठे घुमंतू लोगों को या फिर लालगढ़ गांव में लेजाकर बेच देता हूं। जाने रुपए मिलते हैं उससे स्मैक खरीदकर पी लेता हूं। (-जैसा कि आरोपी पवनकुमार ने जांच अधिकारी भादू को बताया।)

    श्रीगंगानगर. गोल घेरे में खड़ी साइकिल की रैकी कर मौका पाकर साइकिल चुरा ले जाता आरोपी (सीसीटीवी फुटेज)।

    पांच हजार की साइकिल को तीन से चार साै में ही बेच देता था आरोपी

    हवलदार सुरेंद्र ज्याणी ने बताया कि इन दिनों स्टाइलिश साइकिल खूब चलन में हैं। ये साइकिलें पांच हजार से कम कीमत की नहीं होती। आरोपी चुपचाप साइकिल चुराता और उसी पर सवार होकर लालगढ़ जाटान तक पहुंच जाता। लालगढ़ से चोरी करने टेंपो पर सवार होकर आता और चहल चौक पर उतर जाता। आरोपी हजारों रुपए कीमत की साइकिल को तीन से चार सौ रुपए में ही बेच देता था।

    पुलिस ने चुराई साइकिल पर जाते अंधविद्यालय के पास पकड़ा

    आरोपी ने शनिवार को साइकिल चुराई और उस पर सवार होकर लालगढ़ के लिए रवाना हो गया। लगातार चोरी की वारदातों के कारण कुम्हार धर्मशाला के सामने सीसी कैमरे लगाए गए। आरोपी की हरकत उसमें कैद हो गई। धर्मशाला प्रबंधन द्वारा इसकी सूचना तत्काल चौकी पुलिस को दी। एएसआई भादू और हवलदार ज्याणी ने जाब्ते सहित आरोपी का पीछा किया तो अंधविद्यालय के पास चुराई साइकिल सहित पकड़ लिया।

    सैन्य क्षेत्र की गुप्त जानकारी देने की आशंका में जांच जारी

    चौकी पुलिस ने बताया कि आरोपी सैन्य क्षेत्र में नौकरी करता है। इसलिए उस पर नशे की पूर्ति के लिए सैन्य क्षेत्र से भी चोरी कर सामान को बाहर बेचने का संदेह प्रकट हो रहा है। आरोपी आयुध भंडार का कर्मचारी होने के नाते रोजाना सैन्य क्षेत्र में आता-जाता है। आशंका है कि आरोपी को देश विरोधी व्यक्तियों ने रुपए देकर सैन्य क्षेत्र की गुप्त जानकारी भी हासिल की होगी। पुलिस आरोपी की जांच कर रही है।

    40 हजार रुपए तनख्वाह, नशे की ऐसी लत लगी कि बन गया साइकिल चोर

  • लालगढ़ आयुध डिपोकर्मी को स्मैक की लत, साइकिलें चुरा 400 रुपए में बेचता, सीसीटीवी फुटेज से पकड़ा गया
    +3और स्लाइड देखें
  • लालगढ़ आयुध डिपोकर्मी को स्मैक की लत, साइकिलें चुरा 400 रुपए में बेचता, सीसीटीवी फुटेज से पकड़ा गया
    +3और स्लाइड देखें
  • लालगढ़ आयुध डिपोकर्मी को स्मैक की लत, साइकिलें चुरा 400 रुपए में बेचता, सीसीटीवी फुटेज से पकड़ा गया
    +3और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Suratgarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×