सूरतगढ़

  • Hindi News
  • Rajasthan News
  • Suratgarh News
  • निजी अस्पताल वाले भामाशाह में निशुल्क इलाज पर कोताही बरतें तो प्रशासन को करें शिकायत
--Advertisement--

निजी अस्पताल वाले भामाशाह में निशुल्क इलाज पर कोताही बरतें तो प्रशासन को करें शिकायत

श्रीगंगानगर| जिले में स्वास्थ्य सेवाओं व योजनाओं को सुदृढ़ करने एवं समीक्षा करने के लिए गुरुवार को जिला प्रमुख...

Dainik Bhaskar

May 25, 2018, 06:45 AM IST
निजी अस्पताल वाले भामाशाह में निशुल्क इलाज पर कोताही बरतें तो प्रशासन को करें शिकायत
श्रीगंगानगर| जिले में स्वास्थ्य सेवाओं व योजनाओं को सुदृढ़ करने एवं समीक्षा करने के लिए गुरुवार को जिला प्रमुख प्रियंका श्योराण की अध्यक्षता में जिला स्वास्थ्य मिशन की बैठक हुई। बैठक में स्वास्थ्य सेवाओं व योजनाओं को लेकर गंभीरता से चर्चा की गई। बैठक में उठे मुद्दों व सेवाओं को लेकर जिला प्रमुख ने कहा कि आगामी एक सप्ताह में निराकरण होना चाहिए अन्यथा संबंधित के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। बैठक में सूरतगढ़ विधायक राजेंद्र भादू, कलेक्टर ज्ञानाराम, सीएमएचओ डॉ. नरेश बंसल व आरसीएचओ डॉ. वीपी असीजा सहित अन्य अधिकारी शामिल हुए। श्योराण ने बैठक में कहा कि स्वास्थ्य विभाग की सभी सेवाएं व योजनाओं सीधे तौर पर आमजन से जुड़ी हुई हैं, इसलिए किसी भी स्तर पर लापरवाही नहीं होनी चाहिए। बैठक में भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना की चर्चा करते हुए जिला प्रमुख ने कहा कि निजी हॉस्पीटलों मेें जरूरतमंद को पूर्णत: नि:शुल्क सेवा मिलनी चाहिए और यदि कोई शिकायत मिलती है तो तुरंत समाधान होना चाहिए।

ठुकराणा व भागसर के स्वास्थ्य केंद्रों से जुड़े मामलों में ढिलाई बरतने पर भी लगी फटकार

निर्माण कार्य को लेकर चर्चा करते हुए उन्होंने एईएन, एनएचएम को निर्देशित किया कि सभी निर्माण कार्य समय पर होना चाहिए। पीएचसी ठुकराणा के चिकित्सा अधिकारी द्वारा भवन में करंट की समस्या बताने पर जिला प्रमुख ने एईएन को फटकार लगाते हुए कहा कि ऐसी गंभीर समस्या पर लापरवाही उचित नहीं है। यदि आपके घर में करंट आ रहा होता तो क्या आप इतना समय लगाते, क्या टेंडर आदि का इंतजार करते। बैठक में ही भागसर स्वास्थ्य केंद्र नहीं खुलने की शिकायत पर श्योराण ने कहा कि एएनएम के खिलाफ दो दिन में जांच कर कार्रवाई करें। बैठक में सूरतगढ़ विधायक भादू ने कहा कि एएमयू व एएमवी वाहनों की शिविरों की सूचना सभी जनप्रतिनिधियों तक आवश्यक रूप से पहुंचनी चाहिए ताकि वे निरीक्षण कर व्यवस्था देख सकें।

X
निजी अस्पताल वाले भामाशाह में निशुल्क इलाज पर कोताही बरतें तो प्रशासन को करें शिकायत
Click to listen..