• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Suratgarh News
  • 1 से 10 तक किसान फल-सब्जी, दूध व फसल न तो शहर लाएंगे और न खरीदेंगे, शहर के प्रवेश मार्गों पर अस्थायी दुकानें लगा बेचेंगे
--Advertisement--

1 से 10 तक किसान फल-सब्जी, दूध व फसल न तो शहर लाएंगे और न खरीदेंगे, शहर के प्रवेश मार्गों पर अस्थायी दुकानें लगा बेचेंगे

भास्कर संवाददाता|श्रीगंगानगर अखिल भारतीय किसान महासंघ के आह्वान पर जिले के अनेक किसान संगठन एक से 10 जून तक...

Dainik Bhaskar

May 29, 2018, 06:50 AM IST
1 से 10 तक किसान फल-सब्जी, दूध व फसल न तो शहर लाएंगे और न खरीदेंगे, शहर के प्रवेश मार्गों पर अस्थायी दुकानें लगा बेचेंगे
भास्कर संवाददाता|श्रीगंगानगर

अखिल भारतीय किसान महासंघ के आह्वान पर जिले के अनेक किसान संगठन एक से 10 जून तक गांवों के किसानों की हड़ताल रखेंगे। इस दौरान फल-सब्जियां, दूध व फसलों को किसान शहर में नहीं लाएंगे। यह भी तय हुआ है कि न तो गांवों के लोग बाजार से कोई माल खरीदेंगे और न ही बाजार में अपना माल बेचेंगे।

यह घोषणा सोमवार को गुरुद्वारा सिंह सभा में हुई बैठक में किसान संगठनों के पदाधिकारियों ने की। किसान नेताओं ने बैठक में कहा कि जिस किसी को फल, सब्जी और दूध खरीदना है, वे शहर से बाहर लगाई जाने वाली अस्थाई दुकानों से खरीद सकते हैं। ये अस्थाई दुकानें अबोहर रोड, सूरतगढ़ एवं हनुमानगढ़ रोड सहित शहर के प्रवेश मार्गों पर लगाई जाएगी। रास्ते जाम नहीं किए जाएंगे, लेकिन बाहर से ट्रकों अथवा टैंपुओं में आने वाले दूध एवं फल-सब्जी बाजार में नहीं आने देंगे। सब्जी मंडी में विक्रेताओं से आग्रह करेंगे कि वे बाहर से आने वाली सब्जियां न खरीदें। बैठक में पूर्व विधायक हेतराम बेनीवाल, गंगानगर किसान समिति के रणजीत सिंह राजू, संतवीर सिंह मोहनपुरा, मनिंद्र मान, गैलेक्सी बराड़, फल सब्जी उत्पादक किसान समिति अध्यक्ष अमरसिंह बिश्नोई, किसान संघर्ष समिति के सुभाष मोयल आदि ने संबोधित किया। किसानों की हड़ताल में शोषित जन संघर्ष मंच ने शामिल होने की घोषणा की है। मंच के संयोजक शंकर मेघवाल, गोपाल कांटीवाल, डॉ. बालकृष्ण पंवार, अवतार सिंह रामगढिय़ा आदि ने संयुक्त बयान जारी कर कहा कि मंच किसानों की इस हड़ताल में शामिल होगा।

किसानों की गुरुद्वारे में हुई बैठक में लिए गए निर्णय

गंगनहर में मांगा पानी, कलेक्टर ने कहा- कल सिंचाई सचिव आएंगे, उनके सामने रखें मुद्दा: गुरुद्वारा में सभा के बाद किसान कलेक्टर से मिले और गंगनहर में वायदे के मुताबिक पानी नहीं छोड़ने का आरोप लगाया। किसानों ने कहा कि पानी कम और बीकानेर फीडर में बेतहाशा उतार चढ़ाव के कारण 16 अप्रैल से अब तक अनेक किसानों को एक बार पानी मिला है। अनेक किसानों ने नरमे-कपास का एक दाना बुआई कर नहीं देखा। ऐसे में मंगलवार को प्रस्तावित बीबीएमबी की बैठक में पानी बढ़वाया जाए। इस पर कलेक्टर ने बताया कि मंगलवार को जिले के प्रभारी सचिव एवं जल संसाधन विभाग के सिंचाई सचिव शिखर अग्रवाल आएंगे।

X
1 से 10 तक किसान फल-सब्जी, दूध व फसल न तो शहर लाएंगे और न खरीदेंगे, शहर के प्रवेश मार्गों पर अस्थायी दुकानें लगा बेचेंगे
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..