• Hindi News
  • Rajasthan
  • Suratgarh
  • 6 साल पहले पटवारी को दी चार्जशीट का अब तक निस्तारण नहीं, जांच अधिकारी को नोटिस
--Advertisement--

6 साल पहले पटवारी को दी चार्जशीट का अब तक निस्तारण नहीं, जांच अधिकारी को नोटिस

Dainik Bhaskar

Jul 22, 2018, 06:50 AM IST

Suratgarh News - भास्कर संवाददाता|श्रीगंगानगर सूरतगढ़ तहसील के एक पटवारी को करीब 6 साल पूर्व अधिकारी 16 सीसीए नोटिस जारी कर भूल...

6 साल पहले पटवारी को दी चार्जशीट का अब तक निस्तारण नहीं, जांच अधिकारी को नोटिस
भास्कर संवाददाता|श्रीगंगानगर

सूरतगढ़ तहसील के एक पटवारी को करीब 6 साल पूर्व अधिकारी 16 सीसीए नोटिस जारी कर भूल गए। इतनी लंबी अवधि तक न तो पटवारी को दी गई चार्जशीट पर प्राप्त हुए जवाब का निस्तारण किया गया, न ही पटवारी को निलंबित किया गया है। मामला चलते-चलते अब कलेक्टर ज्ञानाराम के सामने पहुंच गया। कलेक्टर ने इस मामले में इतनी लंबी अवधि तक आगामी कार्रवाई नहीं करने पर संबंधित जांच अधिकारी को 17 सीसीए और संबंधित राजस्व अधिकारी को 16 सीसीए नोटिस जारी करने के निर्देश दिए हैं। इस संबंध में कलेक्टर ने शनिवार को कलेक्ट्रेट में आयोजित राजस्व अधिकारियों की बैठक में गहरी नाराजगी भी जताई। मामला जयपुर भी भेजा जाएगा। कलेक्टर ने पेंशन स्वीकृति से संबंधित लम्बित प्रार्थना पत्रों का 30 दिन में निस्तारण करने के निर्देश दिए। ऐसा नहीं करने पर संबंधित तहसीलदार को 17 सीसीए चार्जशीट दी जाएगी। उन्होंने बताया कि जिले मे ग्रामीण क्षेत्र में 2548 तथा शहरी क्षेत्र में 1078 प्रकरण लम्बित हैं। इन मामलों के निस्तारण नहीं करने का कारण पूछने पर सभी तहसीलदार एक दूसरे की तरफ देखने लगे। जवाब नहीं बनता देख कलेक्टर ने एक माह का समय निस्तारण के लिए दिया। कलेक्टर ने कहा कि एसडीएम प्रधानमंत्री आवास के ब्लॉक स्तरीय समिति के अध्यक्ष हैं। ऐसे में प्राप्त प्रार्थना पत्रों पर तत्काल कार्यवाही होनी चाहिए। उन्होंने राजस्व अधिकारियों से कहा कि मूल निवास प्रमाण पत्र बनवाने वाले प्रार्थी से तहसीलदार प्रमाणित मतदाता सूची मांगते हैं जबकि तहसील में मतदाता सूची तो पहले से उपलब्ध है। तो अधिकारी उस सूची से ही मिलान कर प्रमाण पत्र जारी कर सकते हैं। आवेदक को अनावश्यक परेशान करने की क्या जरूरत है। बैठक में एडीएम सतर्कता वीरेंद्र वर्मा, सूरतगढ़ एडीएम चांदमल वर्मा, गंगानगर एसडीएम यशपाल आहूजा, सादुलशहर एसडीएम रीना छिंपा सहित जिले के समस्त एसडीएम, तहसीलदारों व नायब तहसीलदारों ने भाग लिया।

सभी एसडीएम ब्लॉक स्तरीय अधिकारियों की बैठक लेंगे

कलेक्टर ने जिले के सभी एसडीएम को निर्देशित किया कि प्रत्येक सोमवार को सुबह 10 बजे से 11 बजे तक ब्लॉक स्तरीय अधिकारियों की बैठक लें। बैठक की कार्यवाही विवरण जिला मुख्यालय भेजें, जिससे दो दिन बाद ही प्रत्येक बुधवार को जिला स्तरीय बैठक में ब्लॉक स्तर की समस्याओं का निपटारा किया जा सके।

कलेक्टर ने कहा एसडीएम और तहसीलदार संयुक्त हस्ताक्षर कर बताएंगे कि एक भी रास्ते का विवाद लंबित नहीं

बैठक में कलेक्टर ने कहा कि रास्ते संबंधी कोई भी विवाद लंबित नहीं है आैर राजस्व रिकॉर्ड में दर्ज किए जा चुके हैं। इस संबंध में एसडीएम और तहसीलदार संयुक्त हस्ताक्षर कर रिपोर्ट एक सप्ताह में कलेक्टर कार्यालय भिजवाएंगे। बैठक में कृषि भूमि पर अतिक्रमण से संबंधित प्रकरणों की भी समीक्षा हुई।

पानी की टंकियों पर चढ़ने वालों पर निषेधाज्ञा तोड़ने का दर्ज होगा मुकदमा

कलेक्टर ने कहा कि धारा 144 की प्रभावी तरीके से पालना नहीं हो रही है। पानी की टंकियों पर चढ़ने एवं अन्य तरीके से निषेधाज्ञा तोड़ने वालों के खिलाफ इस्तगासा दायर करवाएं ताकि लोग कानून को हाथ में नहीं लें। अनूपगढ़ तहसील क्षेत्र का रिकार्ड 31 जुलाई व शेष तहसीलों का 15 अगस्त तक ऑनलाइन करना होगा।

X
6 साल पहले पटवारी को दी चार्जशीट का अब तक निस्तारण नहीं, जांच अधिकारी को नोटिस
Astrology

Recommended

Click to listen..