Hindi News »Rajasthan »Suratgarh» यूआईटी ने 5 ई छोटी की 75 बीघा जमीन का अधिग्रहण किया सभी आय वर्ग के लिए काटेंगे भूखंड, जून अंत में निकलेगी लॉटरी

यूआईटी ने 5 ई छोटी की 75 बीघा जमीन का अधिग्रहण किया सभी आय वर्ग के लिए काटेंगे भूखंड, जून अंत में निकलेगी लॉटरी

भास्कर संवाददाता|श्रीगंगानगर यूआईटी की ओर से सूरतगढ़ बाईपास से पदमपुर बाईपास के बीच चक 5 ई छोटी की 75 बीघा जमीन का...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 05, 2018, 07:15 AM IST

यूआईटी ने 5 ई छोटी की 75 बीघा जमीन का अधिग्रहण किया सभी आय वर्ग के लिए काटेंगे भूखंड, जून अंत में निकलेगी लॉटरी
भास्कर संवाददाता|श्रीगंगानगर

यूआईटी की ओर से सूरतगढ़ बाईपास से पदमपुर बाईपास के बीच चक 5 ई छोटी की 75 बीघा जमीन का अधिग्रहण किया गया है। इस संबंध में शुक्रवार को यूआईटी में जमीन के मालिकों और अफसरों के बीच दस्तावेजी प्रक्रिया को पूरा किया गया है। चक 5 ई छोटी के मुरब्बा नंबर 30, 36 व 37 की 3 मुरब्बा जमीन के खातेदारों द्वारा आवासीय कॉलोनी विकसित करने के लिए यूआईटी को समर्पित की गई है। इस जमीन पर अब यूआईटी की ओर से भूखंडों का निर्धारण कर लॉटरी प्रक्रिया द्वारा आवंटन किया जाएगा। यह जमीन राधा स्वामी डेरा के पूर्व, उत्तर और पश्चिम दिशा की ओर स्थित है। यूआईटी की ओर से 15 साल बाद खुद का लैंड बैंक तैयार कर अपनी आवासीय योजना तैयार की जा रही है। इससे पहले 2004 में यूआईटी ने कुंज विहार कॉलोनी आवासीय योजना बनाई थी। 10 वर्षों से यूआईटी के पास खुद की एक बीघा भी जमीन आवासीय कॉलोनी के लिए नहीं बची थी। इस कारण निजी कॉलोनाइजरों ने शहर पैराफेरी में 100 से अधिक आवासीय कॉलोनियों को तैयार कर मोटी कमाई की है। यूआईटी की ओर से तैयार की जा रही आवासीय योजना से अब सस्ती दरों पर भूखंड मिल सकेंगे।

यूआईटी अध्यक्ष संजय महिपाल ने बताया कि 2005 से चक 5 ई छोटी की इन जमीनों के काश्तकारों का यूआईटी से विवाद चल रहा था। उच्च न्यायालय में चल रहे मामलों को लेकर न तो काश्तकारों को लाभ हो रहा था न ही यूआईटी कोई जमीन अधिग्रहण कर पा रही थी। इसी बीच इन जमीनों के मालिकों से मिलकर समस्या का समाधान निकालने का प्रयास शुरू किया। चक 5 ई छोटी की मुरब्बा नंबर 30, 36 व 37 की 75 बीघा जमीन के खातेदार श्योपत राम, राघव मालपानी, रितूदेवी, ज्योति देवी, उर्मिला देवी, राजरानी, पुष्पा मालपानी ने यह जमीन यूआईटी को समर्पित कर दी है। आसपास की ही शेष 112 बीघा जमीन के समर्पण के दस्तावेज तैयार हो रहे हैं। इसका भी समर्पण होने के बाद 187 बीघा जमीन पर आवासीय कॉलोनी योजना 8 का काम शुरू होगा। उक्त सारी 7 मुरब्बा 12 बीघा जमीन चक 5 ई छोटी का ही रकबा है।

न्यायालय में थे वाद, यूआईटी ने जमीन मालिकों से मिल निकाला समाधान

श्रीगंगानगर. यूआईटी को 75 बीघा जमीन समर्पित करते खाताधारक।

ये होंगे साइज| पांच तरह के साइज के प्लाट कटेंगे, पार्क व अन्य सुविधाएं भी मिलेंगी

अब नगर विकास न्यास इस भूमि पर आवासीय योजना बनाकर आमजन के लिए भूखंडों का आंवटन लॉटरी से करेगी। इसमें अल्प आय वर्ग के लिए 13 गुणा 35, मध्यम आय वर्ग के लिए 20 गुणा 40 फीट आकार के भूखंड होंगे। शेष सामान्य वर्ग के लिए 25 गुणा 50, 30 गुणा 60,40 गुणा 70 और 35 गुणा 75 फीट आकार के भूखंड काटे जाएंगे। इसके अलावा पार्क, सार्वजनिक सुविधा भवन सहित अन्य सुविधाएं भी दी जाएंगी। पूरी कॉलोनी में 30 फीट से 50 फीट की चौड़ाई की सड़कें रखी जाएंगी।

सशर्त समर्पण| भूखंडों में से 25% पर जमीन के खातेदारों का होगा मालिकाना हक, वे ही उन भूखंडों को बेच सकेंगे, शेष 75%भूखंडों को यूआईटी बेच करेगी आय अर्जित

यूआईटी अध्यक्ष महिपाल ने बताया कि इस पूरी आवासीय योजना नंबर 8 में जिन खातेदारों ने जमीन का समर्पण किया है उनको यूआईटी 25 प्रतिशत की हिस्सेदारी देगी। यूआईटी की ओर से काटे जाने वाले भूखंडों की कुल संख्या में से एक चौथाई इन खातेदारों के होंगे। उन भूखंडों को बेचने और स्वामित्व का पूरा अधिकार खातेदारों के पास ही रहेगा। इस संबंध में यूआईटी ने खातेदारों के साथ लिखित करार किया है। शेष 75 प्रतिशत भूखंडों को यूआईटी बेचकर आय अर्जित करेगी।

आगे ये होगा

गरीब-अल्प आय वर्ग के अलावा भी लोग सस्ती दर पर ले सकेंगे भूखंड

यूआईटी की ओर से 187 बीघा जमीन पर प्रस्तावित आवासीय कॉलोनी से गरीब, अल्पआय वर्ग के अलावा सभी वर्ग के लोग भूखंड ले सकेंगे। भूखंडों का आवंटन लॉटरी से होगा इसलिए अपने आवास से वंचित सभी लोग भाग ले सकेंगे। यह जमीन दर्पण एनक्लेव के तीनों तरफ की है। इस आवासीय कॉलोनी को पदमपुर बाईपास और सदभावनानगर रोड दो प्रमुख रास्ते लगेंगे जिससे आने जाने की कोई समस्या नहीं होगी। यूआईटी की ओर से जून अंत तक लॉटरी प्रक्रिया पूरी करने के प्रयास किए जा रहे हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Suratgarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×