Hindi News »Rajasthan »Suratgarh» आरएएस बनना है तो एनसीईआरटी व राजस्थान बोर्ड 10वीं-12वीं की किताबें भी पढ़ें

आरएएस बनना है तो एनसीईआरटी व राजस्थान बोर्ड 10वीं-12वीं की किताबें भी पढ़ें

श्रीगंगानगर | प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं तो पूरे आत्मविश्वास के साथ करें। दूसरे के ज्ञान और उसकी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 13, 2018, 07:20 AM IST

आरएएस बनना है तो एनसीईआरटी व राजस्थान बोर्ड 10वीं-12वीं की किताबें भी पढ़ें
श्रीगंगानगर | प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं तो पूरे आत्मविश्वास के साथ करें। दूसरे के ज्ञान और उसकी क्षमता से तुलना न करें। यह बात गुरुवार को आरएएस व श्रीगंगानगर एसडीएम यशपाल आहूजा ने आरएएस की तैयारी करने वाले अभ्यर्थियों को बताई। उन्होंने बताया कि कई बार तैयारी के दौरान अभ्यर्थी अपने साथियों से अपनी तुलना करने लगते हैं। इससे आत्मविश्वास कमजोर होने लगता है। अभ्यर्थियों को ऐसा कभी नहीं करना चाहिए, वह अपनी क्षमता के अनुसार तैयारी करें, सफलता जरूर मिलेगी। तैयारी के लिए ऑनलाइन किताबें पढ़ें, विभिन्न वेबसाइट जैसे mrunal.org या clearias.com जैसी वेबसाइट पर लेक्चरर सुन सकते हैं।

दैनिक भास्कर संवाद कार्यक्रम में... आरएएस की तैयारी करने वाले अभ्यर्थियों का एसडीएम यशपाल आहूजा ने किया मार्गदर्शन

Q. प्रश्न - कोर्ट में यूडीसी हूं, आरएएस का फार्म भरा है। लिमिटेड समय में तैयारी कैसे करें? - विनोद शर्मा, घड़साना

उत्तर - आप सबसे पहले सारे सिलेबस का प्रिंट अपने पास रख लें। ऑफिस से वापस आने के बाद जितना समय मिलता है, वह तैयारी को दें। एक-एक प्वाइंट ध्यान से पढ़ें। किताबों से तैयारी करें और जहां जरूरत हो, इंटरनेट की सहायता लें। पुराने पेपर की प्रेक्टिस करें, इससे काफी जानकारी मिलेगी।

Q. प्रश्न - सिलेबस के अनुसार दो-दो बार तैयारी कर चुका हूं, आत्मविश्वास नहीं आ रहा है? - अनिल, सूरतगढ़

उत्तर - आत्मविश्वास की कोई डोज नहीं होती है। अगर आप पूरी ईमानदारी के साथ तैयारी कर रहे हैं तो अपने सबसे पहले खुद पर भरोसा करें। रोज नितनेम के तहत मंदिर जाएं और हो सके तो लगभग 10 मिनट मंदिर में बैठकर ध्यान लगाएं, इससे मानसिक शांति मिलेगी। रोज पैदल जरूर चलें इससे आत्मविश्वास बढ़ता है।

Q. प्रश्न - बीएससी प्रथम वर्ष में एडमिशन लिया है, अब आरएएस की तैयारी करना चाहता हूं? - राहुल पारीक, सूरतगढ़

उत्तर - सबसे पहले आप इसका सिलेबस देखें। इसके बाद एनसीईआरटी और राजस्थान बोर्ड की पुरानी किताबें पढऩा शुरू करें। अगर आपको लगता है कि आप यह तैयारी कर सकते हैं तो फिर पूरे आत्मविश्वास के साथ परीक्षा की तैयारियों में जुट जाइए।

Q. प्रश्न - सिलेबस की पढाई करता हूं लेकिन बाद में कुछ याद नहीं रहता है? - सुनील राणा, सूरतगढ़

उत्तर - ऐसी समस्या तब आती है जब आप बिना मन के किसी चीज को पढ़ते हैं। अगर वास्तव में तैयारी करनी है तो पहले इसमें अपनी रुचि बनाएं। किसी विषय का अध्ययन करने में जब आपकी रुचि होगी तो आप उसे कभी नहीं भूलेंगे। इसके साथ बोल बोलकर याद करें और साथियों के बीच जब बैठें तो विषय से जुड़ी बातों पर ही चर्चा करें।

Q. प्रश्न - आरएएस की तैयारी के लिए कौन सी गाइड खरीदें, जिससे लाभ मिले? - राकेश, रायसिंहनगर

उत्तर - प्रशासनिक सेवाओं की तैयारी गाइड से नहीं होती है। इसके लिए आपको पूरे समर्पण के साथ तैयारी में जुटना पड़ता है। सिलेबस से जुड़ी जितनी अधिक किताबें पढेंगे, परीक्षा में फायदा उतना ही होगा, क्योंकि इसमें वास्तविक पढाई ही काम आती है। अगर गाइड जैसे शाॅर्टकट तलाशेंगे तो सफलता कभी नहीं मिलेगी।

इन्होंने भी लिया मार्गदर्शन

अनूपगढ़ से राजाराम, पुरानी आबादी से हरसिमरत कौर, सूरतगढ़ से जगदीश, ब्लाक एरिया से राहुल सहित अनेक युवाओं ने भास्कर कार्यालय में फोन करके मार्गदर्शन लिया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Suratgarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×