सूरतगढ़

  • Hindi News
  • Rajasthan News
  • Suratgarh News
  • विधायक के गोद लिए स्कूल में 19 में से 14 कमरों में छत से टपकता है पानी, 800 विद्यार्थियों की पढ़ाई हो रही प्रभावित
--Advertisement--

विधायक के गोद लिए स्कूल में 19 में से 14 कमरों में छत से टपकता है पानी, 800 विद्यार्थियों की पढ़ाई हो रही प्रभावित

शहर के सरकारी सीनियर सैकंडरी स्कूल में 19 कमरे खस्ताहाल हाल हैं। स्कूल में 800 विद्यार्थियों का नामांकन है। इनमें 120...

Dainik Bhaskar

Jul 26, 2018, 07:15 PM IST
विधायक के गोद लिए स्कूल में 19 में से 14 कमरों में छत से 
 टपकता है पानी, 800 विद्यार्थियों की पढ़ाई हो रही प्रभावित
शहर के सरकारी सीनियर सैकंडरी स्कूल में 19 कमरे खस्ताहाल हाल हैं। स्कूल में 800 विद्यार्थियों का नामांकन है। इनमें 120 छात्राएं हैं। तीन कमरों में प्रयोगशालाएं हैं। इस भवन को दो साल पहले असुरक्षित घोषित कर दिया था। छतों से प्लास्टर उखड़ता है ऐसे में बच्चे यहां नहीं बैठ पाते। कक्षाएं या तो पेड़ों के नीचे लगती हैं या फिर बरामदों में। बारिश के समय छत से टपक रहे पानी से बचाव के लिए विद्यार्थी मेज या खाली जमीन पर खाली बर्तन रखते हैं। भामाशाह सेठ रामदयाल राठी ने वर्ष 1956 में स्कूल भवन बनाया था, तब से न तो शिक्षा विभाग और न ही किसी जनप्रतिनिधियों ने जर्जर हो रहे भवन की मरम्मत की पहल की। गौरतलब है कि विधायक राजेंद्र भादू ने 5 सितंबर 2016 अतिथि के रूप में संबोधित करते हुए स्कूल को गोद लेने की घोषणा की थी।

रमसा ने 2 साल पहले किया था कक्षा कक्षों को असुरक्षित घोषित, फिर भी विभाग नहीं दे रहा ध्यान : रमसा ने वर्ष 2015-16 में स्कूल में 14 कक्षों, 3 लैब व 7 स्टोर रूम को नकारा घोषित किया था। उच्चाधिकारियों को जर्जर भवन की रिपोर्ट भेजी थी। इसके बावजूद न तो मरम्मत के लिए बजट मिला न ही दूसरे भवन की वैकल्पिक व्यवस्था हुई। स्कूल प्रशासन ने डीईओ, शिक्षा निदेशक व राज्य सरकार को 3-4 पत्र भी भिजवाए। डीईओ के निर्देश पर वर्ष 2017 में पुरानी आबादी माध्यमिक स्कूल भवन का वैकल्पिक भवन के रूप में प्रस्ताव भेजा था। पर उस पर अमल नहीं हुआ। स्कूल के सुरक्षित 5 कमरों में से 1 कमरे में योजना के तहत बांटी जाने वाली साइकिलें, 1 में ब्लॉक की पाठ्यसामग्री, 1 में संदर्भ कक्ष है। दो कमरों में स्कूल का सामान है।

उत्कृष्ट रहा परीक्षा परिणाम, 16 हजार पुस्तकों की लाइब्रेरी

सूरतगढ़. छत से टपकते पानी से बचाव के लिए टेबल पर रखी बाल्टी और पढ़ाई करते विद्यार्थी व प्रयोगशाला की बदहाली।

इस वर्ष 12 वीं का विज्ञान वर्ग का 84.4, वाणिज्य व कला वर्ग का 100 प्रतिशत परीक्षा परिणाम रहा है। स्कूल में भूगोल, भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान व जीव विज्ञान की लैब की सुविधा है। पुस्तकालय में 16 हजार पुस्तकें हैं। एनएसएस, एनसीसी, स्काउट, विज्ञान क्लब, स्मार्ट क्लास का संचालन होता है।


रायसिंहनगर: विद्यालय के कमरों की छत क्षतिग्रस्त होने से पंचायत घर में लग रही हैं कक्षाएं

रायसिंहनगर| कई विद्यालयों में असुरक्षित भवनों में कक्षाएं लग रही हैं। ऐसे में हादसा होने की आशंका है। राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय ठंडी का प्राथमिक कक्षाओं का भवन पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया है। इसकी न तो सार्वजनिक निर्माण विभाग ने जांच की न ही राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान के अधिकारियों ने। गत दिनों बरसात होने से छतों से पानी टपकने लगा। बच्चों को पास ही में पंचायत घर में बैठाकर पढ़ाना पड़ा। सरपंच गिरधारी थोरी ने पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों से भवन की जांच करने की मांग की है। सरपंच ने बताया कि विद्यालय के चार कमरे हैं, जिनमें प्राथमिक कक्षाएं संचालित हैं। उनकी छतों में बड़ी-बड़ी दरारें आ गई हैं। शिकायत है कि प्रधानाचार्या सीमा बंगे ने भी रमसा के अधिकारियों को मामले की जानकारी दी है लेकिन अभी तक किसी अधिकारी ने सुध नहीं ली। इसी पंचायत में राजकीय प्राथमिक विद्यालय 11 एनपी में भी एक कमरे की छत क्षतिग्रस्त है। छत के निरीक्षण के लिए संस्था प्रधान ने कई बार शिक्षा विभाग तथा पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों को लिखित में सूचना दी लेकिन न तो भवन की मरम्मत करवाई न ही जांच कर असुरक्षित घोषित किया गया।

रायसिंहनगर. राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय ठण्डी के पंचायत घर में बैठे बच्चे।



विधायक के गोद लिए स्कूल में 19 में से 14 कमरों में छत से 
 टपकता है पानी, 800 विद्यार्थियों की पढ़ाई हो रही प्रभावित
विधायक के गोद लिए स्कूल में 19 में से 14 कमरों में छत से 
 टपकता है पानी, 800 विद्यार्थियों की पढ़ाई हो रही प्रभावित
X
विधायक के गोद लिए स्कूल में 19 में से 14 कमरों में छत से 
 टपकता है पानी, 800 विद्यार्थियों की पढ़ाई हो रही प्रभावित
विधायक के गोद लिए स्कूल में 19 में से 14 कमरों में छत से 
 टपकता है पानी, 800 विद्यार्थियों की पढ़ाई हो रही प्रभावित
विधायक के गोद लिए स्कूल में 19 में से 14 कमरों में छत से 
 टपकता है पानी, 800 विद्यार्थियों की पढ़ाई हो रही प्रभावित
Click to listen..