• Home
  • Rajasthan News
  • Todabheem News
  • Todabheem - धारदार हथियार से हमला, गोलियां भी चलीं, दो महिलाओं सहित 10 घायल
--Advertisement--

धारदार हथियार से हमला, गोलियां भी चलीं, दो महिलाओं सहित 10 घायल

कासं | हिंडौन सिटी (ग्रामीण) गांव बनकी में रुपयों के लेनदेन को लेकर हुआ विवाद रविवार को खूनी संघर्ष में बदल गया।...

Danik Bhaskar | Sep 10, 2018, 06:41 AM IST
कासं | हिंडौन सिटी (ग्रामीण)

गांव बनकी में रुपयों के लेनदेन को लेकर हुआ विवाद रविवार को खूनी संघर्ष में बदल गया। दोनों पक्ष धारदार हथियारों के साथ भिड़ गए व फायरिंग भी हुई। खूनी संघर्ष में दोनों पक्षों के दो महिलाओं सहित 10 लोग घायल हो गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायलों को हिंडौन के राजकीय अस्पताल में भर्ती कराया गया। तीन जनों की हालत गंभीर होने पर डॉक्टरों ने जयपुर रेफर किया है। दो पक्षों के बीच हुए खूनी संघर्ष की जानकारी मिलने पर करौली से पुलिस अधीक्षक अजय सिंह भी हिंडौन पहुंचे। सुरक्षा की दृष्टि एवं किसी भी अनहोनी को रोकने के लिए बनकी में 9 थानों के पुलिस जवान तैनात किए गए हैं। इस मामले में पूछताछ के लिए पुलिस ने कई लोगों को हिरासत में लिया हुआ है।

डीएसपी जयसिंह नाथावत ने बताया कि झगड़े में राजवीर सिंह, सुमेर सिंह, मीना देवी, दीपक जाट, अर्जुन जाट, नाहर सिंह, रविन्द्र जाटव ,रामफल जाटव, लीलादेवी व गोपाल घायल हो गए। इनमें सुमेर सिंह, नाहर सिंह व रविन्द्र की हालत गंभीर होने पर डॉक्टरों ने जयपुर रेफर कर दिया।

अस्पताल में भी खलबली

घायलों के राजकीय अस्पताल पहुंचने पर चिकित्साकर्मियों में हड़कंप मच गया। घायलों के रिश्तेदार एवं कई ग्रामीण भी अस्पताल पहुंच गए। पुलिस अधीक्षक अजय सिंह, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रविन्द्र सिंह, डीएसपी जयसिंह, उपनिरीक्षक मुकेश कुमार, एएसआई विजय बहादुरभी अस्पताल पहुंच गए।

घायलों में तीन की हालत गंभीर, जयपुर रेफर

हिंडौन सिटी. अस्पताल में भर्ती घायलों के बयान लेती पुलिस।

एफआईआर में दर्ज तथ्यों की कहानी

उधार में दिए रुपयों का तकाजा किया था

एक पक्ष के घायल राजवीर सिंह जाट(25) ने पर्चा बयान में बताया कि रविवार सुबह 10 बजे जीतेन्द्र जाटव उनके घर आया। मेरे भाई दीपक ने उधार दिए रुपए का जीतेन्द्र से तकादा किया तो इससे नाराज होकर गाली-गलौच पर उतर आया और रुपए देने से मना कर दिया। जीतेन्द्र वापस अपने घर चला गया और वहां से परिवार के रामफल, रविन्द्र, गोपाल, सियाराम, धीरज, बहादुर, मोहर सिंह, पिंटू सहित 10-15 लोगों को लेकर घर पर आया और तलवार, फरसा, चाकू, धारिया से हमला कर दिया। कट्टे से फायरिंग की और पथराव भी किया।

गांव में भय का माहौल, कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए 9 थानों की पुलिस तैनात, करौली से एसपी अजय सिंह भी हिंडौन पहुंचे और घायलों से मिले

घटना के बाद गांव में भय का माहौल बन गया। सुरक्षा की दृष्टि से गांव में 9 थानों के पुलिस के जवान तैनात किए गए हैं। दूसरी ओर एफएसएल टीम ने पहुंचकर भी साक्ष्य जुटाए हैं। सदरथाना प्रभारी लोकेंद्र सिंह, कोतवाली पुलिस, सूरौठ थानाप्रभारी शरीफ अली, श्रीमहावीरजी थानाप्रभारी अतर सिंह, करौली सदर, नादौती, टोडाभीम, नई मंडी थानाप्रभारी केसर सिंह व बालघाट थाने की पुलिस आदि गांव में तैनात किए गए। दो पक्षों के बीच हुए खूनी संघर्ष की जानकारी मिलने पर करौली से पुलिस अधीक्षक अजय सिंह भी हिंडौन पहुंचे और अस्पताल में घायलों से मिले।

हिंडौन ग्रामीण. बनकी में रविवार को दो पक्षों में खूनी संघर्ष के बाद तैनात पुलिस बल।

बिना लिए 90 हजार रुपए मांगे

दूसरे पक्ष के रामफल जाटव ने रिपोर्ट में बताया कि राजवीर जाट ने उसके पुत्र जीतेन्द्र जाटव व रविन्द्र पर 90 हजार रुपए जबरन निकाले हुए हैं। रविवार को रुपए देने की मांग करते हुए उनके दोनों पुत्रों को घर से बाहर निकाल ले गए और मारपीट की। बाद में राजवीर, नाहर सिंह, दीपक, अर्जुन व उनके परिवार के लोग कट्टे, तलवार, लाठिया, फरसा आदि हथियारों से लैस होकर घर पर आए और ताबड़तोड़ हमला कर दिया।