Hindi News »Rajasthan News »Tonk News» आवास ही व्यक्ति के स्थायित्व की पहचान

आवास ही व्यक्ति के स्थायित्व की पहचान

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 07:40 AM IST

मुख्यमंत्री जन आवास योजना 2015 के तहत टोंक शहर में बनने वाले (स्वराज1, 2 बीएचके) अफोर्डेबल अपार्टमेंटस के प्रोजेक्ट...
मुख्यमंत्री जन आवास योजना 2015 के तहत टोंक शहर में बनने वाले (स्वराज1, 2 बीएचके) अफोर्डेबल अपार्टमेंटस के प्रोजेक्ट ब्रोशर का गुरूवार को विमोचन किया गया। नगर परिषद सभागार में कलेक्टर सुबेसिंह यादव, सभापति लक्ष्मी जैन व उप सभापति अजय सैनी ने ब्रोशर का विमोचन किया। कलेक्टर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वर्ष 2022 तक हर परिवार को घर उपलब्ध कराने की दिशा में कार्य कर रहे हैं। टोंक शहर में यह प्रोजेक्ट उसी का हिस्सा है। रोटी, कपड़ा और मकान हर व्यक्ति की मूलभूत जरूरत है। आवास इस व्यक्ति के स्थायित्व की पहचान होता है। योजना के तहत 2.67 लाख तक की सब्सिडी भी दी जाएगी। प्रोजेक्टर के तहत काम कर रही कंपनी गुणवत्तापूर्ण घर बनाकर जरूरतमंद परिवारों को बेहतर आवास प्रदान करेगी। सभापति लक्ष्मी जैन ने कहा कि स्वराज अपना घर अपना राज टोंक शहर का प्रथम अफोर्डेबल हाउसिंग प्रोजेक्ट है। इसमें स्वीमिंग पूल, जिम, योगा सेंटर, सामुदायिक केंद्र, ग्रीन एरिया पार्क, बच्चों के खेलने का स्थान एवं झूले आदि की सुविधा होगी। कंपनी के प्रतिनिधि अंकित गुप्ता ने प्रोजेक्ट के बारे में जानकारी दी। कार्यक्रम में नगर परिषद अधिशाषी अभियंता दिनेश गोयल, पार्षद सहित कई लोग मौजूद थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Tonk News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: आवास ही व्यक्ति के स्थायित्व की पहचान
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      More From Tonk

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×