• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Tonk News
  • अप्रैल में रिकॉर्ड गर्मी ने किया बेहाल, गर्म हवा और लू के थपेडे़ दिन का पारा 440 व रात का 290 तक पहुंचा
--Advertisement--

अप्रैल में रिकॉर्ड गर्मी ने किया बेहाल, गर्म हवा और लू के थपेडे़ दिन का पारा 440 व रात का 290 तक पहुंचा

जिले में निरंतर तापमान में तेजी हो रही है। हालांकि इस में उतार चढाव की संभावनाएं भी जताई जा रही है। लेकिन इस संबंध...

Dainik Bhaskar

May 01, 2018, 07:00 AM IST
अप्रैल में रिकॉर्ड गर्मी ने किया बेहाल, गर्म हवा और लू के थपेडे़ दिन का पारा 440 व रात का 290 तक पहुंचा
जिले में निरंतर तापमान में तेजी हो रही है। हालांकि इस में उतार चढाव की संभावनाएं भी जताई जा रही है। लेकिन इस संबंध में कृषि विस्तार केंद्र के उप निदेशक महेश शर्मा ने बताया कि इस मौसम से फसलों को तो कोई नुकसान नजर नहीं आता है। मौसम के परिवर्तन आदि के लिए यहां पर कोई वैज्ञािनक नहीं है, इस कारण मौसम की आगामी संभावनाएं आदि के बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता है।

टोंक|िजले में तापमान में तेजी के साथ ही लू के थपेड़ों से जनजीवन प्रभावित रहा तथा आखातीज के अवसर पर होने वाले शादी बारात के कार्यक्रमों में भी गर्मी का असर देखने को मिला। खाने से ज्यादा पानी एवं छाया आदि की व्यवस्थाअों करनी पड़ी। फिर भी लोग लू के थपेड़ों के कारण हाय तोबा करते नजर आए। जिले में अधिकतम तापमान 44 डिग्री रहा। वहीं देर शाम तक लू चलती रही।

गर्मी की चपेट में आने का खतरा

वहीं कई सरकारी स्कूलों में तो हाल ये है कि वहां पर बिजली तक नहीं है। कई स्कूलों में पानी, बिजली सहित गर्मी के मौसम के हिसाब से व्यवस्थाएं नहीं होने बच्चों का गर्मी की चपेट में आने का खतरा बना हुआ है।

जिले में निरंतर तापमान में तेजी हो रही है। हालांकि इस में उतार चढाव की संभावनाएं भी जताई जा रही है। लेकिन इस संबंध में कृषि विस्तार केंद्र के उप निदेशक महेश शर्मा ने बताया कि इस मौसम से फसलों को तो कोई नुकसान नजर नहीं आता है। मौसम के परिवर्तन आदि के लिए यहां पर कोई वैज्ञािनक नहीं है, इस कारण मौसम की आगामी संभावनाएं आदि के बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता है।

छुट्टी के लिए भी अभिभावकों ने की मांग

वहीं स्कूलों की छुट्टी के लिए भी अभिभावकों आदि ने प्रशासन से मांग की। शिक्षक नेता ज्ञानसिंह ने बताया कि गर्मी के कारण स्कूलों की छुट्टी किए जाने की आवश्यता महसूस होेने लगी है। कई अभिभावकों आदि ने बताया कि गर्मी में जहां कूलर पंखे फैल हो रहे हैं।

जिले में निरंतर तापमान में तेजी हो रही है। हालांकि इस में उतार चढाव की संभावनाएं भी जताई जा रही है। लेकिन इस संबंध में कृषि विस्तार केंद्र के उप निदेशक महेश शर्मा ने बताया कि इस मौसम से फसलों को तो कोई नुकसान नजर नहीं आता है। मौसम के परिवर्तन आदि के लिए यहां पर कोई वैज्ञािनक नहीं है, इस कारण मौसम की आगामी संभावनाएं आदि के बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता है।

बीसलपुर परियोजना के एक्सिएन मनीष बंसल का कहना है कि पूरे वर्षभर में आठ टीएमसी पानी वाष्पीकरण में चला जाता है। सर्दी में कम, मई व जून में वाष्पीकरण अधिक होता है। कई जगह पानी की सप्लाई की जा रही है। करीब 2.5 सेमी पानी प्रतिदिन कम हो रहा है। वर्तमान में बीसलपुर बांध का गेज 310.55 आरएल मीटर है।

बीसलपुर बांध : गेज 310.55 (आरएल) मी. रह गया

राजमहल. बीसलपुर बांध जहां पर गर्मी में तेजी से वाष्पीकरण होने से निरंतर घट रहा है पानी।

पूर्वानुमान : अगले 24 घंटों में हल्की बारिश होने व तापमान गिरने से राहत की उम्मीद है

अप्रैल में रिकॉर्ड गर्मी ने किया बेहाल, गर्म हवा और लू के थपेडे़ दिन का पारा 440 व रात का 290 तक पहुंचा
अप्रैल में रिकॉर्ड गर्मी ने किया बेहाल, गर्म हवा और लू के थपेडे़ दिन का पारा 440 व रात का 290 तक पहुंचा
X
अप्रैल में रिकॉर्ड गर्मी ने किया बेहाल, गर्म हवा और लू के थपेडे़ दिन का पारा 440 व रात का 290 तक पहुंचा
अप्रैल में रिकॉर्ड गर्मी ने किया बेहाल, गर्म हवा और लू के थपेडे़ दिन का पारा 440 व रात का 290 तक पहुंचा
अप्रैल में रिकॉर्ड गर्मी ने किया बेहाल, गर्म हवा और लू के थपेडे़ दिन का पारा 440 व रात का 290 तक पहुंचा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..