• Hindi News
  • Rajasthan
  • Tonk
  • Malpura News rajasthan news farm pound changed the tradition of farming farmers39 economic situation improved

फार्म पौंड से बदली खेती की परंपरा, किसानों की आर्थिक स्थिति सुधरी

Tonk News - कृषि क्षेत्र में सरकारी अनुदान से खेतों में बने करीब 6 हजार 500 फार्म पाैंडों से न केवल किसानों की आर्थिक स्थिति में...

Dec 04, 2019, 11:00 AM IST
कृषि क्षेत्र में सरकारी अनुदान से खेतों में बने करीब 6 हजार 500 फार्म पाैंडों से न केवल किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार हुआ बल्कि खेती की परंपराओं में भी बदलाव आया है। किसान अब फार्म पाैंड के पानी से एक की जगह दो फसलें लेने लगे हैं। यही नहीं फार्म पाैंड की बदौलत वर्ष 2010-11 से वर्ष 2018-19 तक करीब 32 हजार बीघा भूमि बारानी से सिंचित में परिवर्तित हुई है। स्थिति यह कि किसानों को सरसों व गेंहूू की फसलों में दुगना लाभ होने लगा है।

खेत की जमीन एक फसली से दो फसली हो गई पहले खरीफ की फसलें ही किसान प्राप्त करते थे लेकिन फार्म पाैंड के पानी से सिंचाई की सुविधा होने के बाद अब किसान खरीफ व रबी दोनों फसलें ले रहें है । कृषि विशेषज्ञों के अनुसार एक फार्म पाैंड में करीब बीस लाख लीटर पानी एकत्र होता है जिससे पांच बीघा खेती में दो बार सिंचाई की जा सकती है। एक फार्म पाैंड कम से कम दो बीघा कृषि भूमि पर बनाया जाता है। एकसौ गुना एकसौ लंबाई चौड़ाई में दस फुट गहरा फार्म पाैंड किसान की दो फसलों को लहलहाता है।

सिंचाई से अच्छी पैदावार


फार्म पौंड अनुदानित योजना वरदान साबित

रबी की फसल बुवाई के क्षेत्रफल वृद्धि में फार्म पाैंडों का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। सहायक निदेशक कृषि विस्तार केंद्र मालपुरा के सहायक निदेशक डॉ. नागर मल यादव ने बताया कि पहले रबी की फसल का बुवाई क्षेत्र 47 हजार हेक्टेयर था जो फार्म पाैंड की बदौलत बढ़ कर अब 60 हजार हेक्टेयर है। फार्म पाैंड से जहां फसल वृद्धि व किसानों की आय में दुगनी वृद्धि हुई है वहीं सरकार की फार्म पाैंड जैसी अनुदानित योजना वरदान साबित हुई है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना