वैवाहिक व मांगलिक कार्य 8 नवंबर तक बंद

Tonk News - शुक्रवार को देवशयनी एकादशी के साथ ही देव चार माह 7 नवंबर तक लिए सो गए हैं। मान्यता के मुताबिक इस दिन श्रीहरि विष्णु...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 11:25 AM IST
Tonk News - rajasthan news marital and demanding work closed till 8th november
शुक्रवार को देवशयनी एकादशी के साथ ही देव चार माह 7 नवंबर तक लिए सो गए हैं। मान्यता के मुताबिक इस दिन श्रीहरि विष्णु शयन के दौरान करवट बदलेंगे। इसके साथ ही शादी विवाह सहित सभी प्रकार के मांगलिक कार्यों पर भी रोक लग गई है। देवशयनी के दिन भगवान विष्णु की पूजा-अर्चना करने का विशेष महत्व होता है।

इस बार देवशयनी एकादशी के दिन सर्वार्थ सिद्धि नामक शुभ योग भी बना है। इस योग के कारण इस दिन भगवान विष्णु का पूजन व्रत अत्यंत शुभ फलदायी बना। पंडित डॉ. पवन सागर ने बताया कि 8 नवंबर देवउठनी एकादशी (कार्तिक शुल्क एकादशी) जिसे के अबूझ सावे के साथ ही शादी विवाह व अन्य मांगलिक कार्य फिर से शुरू होंगे। मान्यता है कि कार्तिक मास में देवउठनी एकादशी जिस देवप्रबोधिनी एकादशी के नाम से भी जाना जाता है के दिन भगवान नींद से जागते हैं। यानी कि पाताल से वापस बैकुंठ धाम पधारते हैं और फिर सभी शुभ कार्यों का आरंभ होता है।

15 दिसंबर से 14 जनवरी तक रहेगा मलमास : 8 नवंबर को देवशयनी तथा 12 नवंबर का कार्तिक पूर्णिमा का अबूझ सावा रहेगा। इसके अलावा नवंबर में 13, 14, 19, 21, 22, 23, 28, 30, दिसंबर में 1, 2, 11, 12, जनवरी में 15, 16, 18, 26, 29, 30, 31, फरवरी में 2, 3, 9, 16, 25, 26 को शुभ विवाह तिथी रहेगी। इस बीच 15 दिसंबर से मलमास शुरू होगा जो 14 जनवरी तक रहेगा। ऐसे में इस एक महीने कोई भी शुभ कार्य नहीं किया जाएगा. खासतौर पर इस एक महीने शादी का कोई मुहूर्त नहीं रहेगा।

चार माह तक व्रती व साधु तपस्वियों का चातुर्मास शुरू

देवशयनी से देव उठनी एकादशी तक इन चार महीनों को चतुर्मास के नाम से भी जाना जाता है। इस दिन चातुर्मास या चौमासा का प्रारंभ कहते हैं। चातुर्मास के समय व्रती और साधु तपस्वी एक स्थान पर रह कर तपस्या करते हैं। वर्षा काल में पृथ्वी की जलवायु दूषित हो जाती है। यात्राएं भी दुखद हो जाती है। इन दिनों एक स्थान पर रहकर व्रतादि नियमों का पालन करना अनेक दृष्टि से लाभप्रद रहता है। इस दौरान एक भुक्त (एक समय भोजन ग्रहण करना) रहता है या फलाहार करके उपवास किया जाता है।

X
Tonk News - rajasthan news marital and demanding work closed till 8th november
COMMENT