दुष्कर्म व हत्या के आरोपित को देखते ही वकील मारने को दाैड़े, बचाने में पुलिस को आया पसीना

Tonk News - जिले के अलीगढ़ थानांर्तगत मासूम बालिका के साथ दुष्कर्म व हत्या के आरोपित को वकीलों के आक्रोश के बीच न्यायालय में...

Dec 04, 2019, 12:47 PM IST
Tonk News - rajasthan news seeing the accused of rape and murder the lawyers are trying to kill the police sweat to save
जिले के अलीगढ़ थानांर्तगत मासूम बालिका के साथ दुष्कर्म व हत्या के आरोपित को वकीलों के आक्रोश के बीच न्यायालय में पेश किया गया। मंगलवार को पुलिस ने काफी मशक्क्त से प्रदर्शन कर रहे आक्रोशित वकीलों से बचाकर आरोपित महेंद्र उर्फ धोल्या को पोक्सो कोर्ट में पेश किया। जहां से पोक्सो कोर्ट न्यायाधीश मानसिंह चुड़ावत ने आरोपित को पुलिस रिमांड में भेज दिया।

छह वर्षीय स्कूली छात्रा को अगवा कर दुष्कर्म करने और फिर स्कूल बेल्ट से गला घोंटकर हत्या करने वाले आरोपित को मंगलवार को कोर्ट में पेश किए जाने की सूचना पर लोग आरोपित का इंतजार करने नजर आए। वही पुलिस आरोपित महेन्द्र उर्फ धोल्या मीणा को लेकर दोपहर सवा एक बजे कोर्ट पहुंची। इस दौरान उसे पुलिस घेरे में पोक्सो कोर्ट में ले जाया गया। इससे पूर्व आरोपित को कोर्ट में पेश करने की जानकारी पर आक्रोशित वकील पोस्को कोर्ट बाहर एकत्रित हो गए। ऐसे में पुलिस जैसे ही गिरफ्तार महेंद्र उर्फ धोल्या को पुलिस वैन से नीचे उतारकर कोर्ट की तरफ ले जाने लगी। महेंद्र को देखते ही कोर्ट के सामने खड़े वकील मारने को दौड़े और उसे पकड़कर पीटने की कोशिश की। आरोपी को बचाने के लिए पुलिस को भारी मशक्कत करनी पड़ी। इस दौरान आरोपित को बचाने के प्रयास में पुलिस और वकीलों के बीच धक्का मुक्की के साथ हंगामा देखने को मिला।

हंगामा
टोंक। मासूम बालिका से दुष्कर्म कर उसकी हत्या करने आरोपित महेन्द्र उर्फ धोल्या को कोर्ट में पेश करने के दौरान वकीलों के आक्रोश व प्रदर्शन के बीच पुलिस के सुरक्षा घेरे में आरोपित को कोर्ट में पेश करना पड़ा। आरोपित को वैन से कोर्ट ले जाती पुलिस। (लाल घेरे मे अाराेपित)

‘आरोपी को फांसी दो’ के लगे नारे

मासूम बालिका से दुष्कर्म के बाद हत्या के आरोपित महेंद्र उर्फ धोल्या को न्यायालय में पेश करने के दौरान बाहर काफी संख्या में मौजूद आरोपित को फांसी के नारे लगाते रहे। करीब आधा घंटे कोर्ट में पेशी के बाद जैसी आरोपितों बाहर लाया गया। वकील फिर से उग्र होकर उससे मारपीट को उतारु हो गए। सुरक्षा घेरे बीच महेंद्र उर्फ धौल्या को कोर्ट से रिमांड मिलने पर पुलिस उसे सुरक्षित वापस ले जाने में कामयाब रही।

आरोपित को बचाना ड्यूटी

एएसपी विपिन कुमार ने हंगामे को लेकर कहा कि वकीलों द्वारा किया गया कृत्य मानवीय स्वभाव है। उनका गुस्सा होना स्वाभाविक हैं। लेकिन उसे बचाना भी पुलिस की ड्यूटी हैं। मामला शांत होने पर एएसपी ने बार ऐसोसिएशन का आभार भी व्यक्त किया।

पीड़ित परिवार की करेंगे पैरवी

जिला अभिभाषक संघ चंद्रप्रकाश श्रीवास्तव ने कहा कि वकील सिर्फ वकील नही, हम इंसान भी हैं। मानव समाज के लिए आम नागरिक के मुकाबले ज्यादा जिम्मेदारी हमारी हैं। इसलिए जिस तरह का जगन्य अपराध आरोपित ने किया हैं उससे अाक्रोश और गुस्सा आना स्वाभाविक हैं। क्योंकि वह सिर्फ उसे पीड़ित बाप की नही हमारी भी बच्ची हैं। अभिभाषक संघ ने फैसला लिया हैं कि बार एसोसिएशन पीड़ित परिवार की ओर से पैरवी करेगा(।

मालपुरा में वकीलों ने एडीएम को दिया ज्ञापन

मालपुरा| हैदराबाद व टोंक जिले के अलीगढ़ में दुष्कर्म व हत्या की घटनाओं के विरोध में मालपुरा उपखंड के लोगों में आक्रोश रहा। घटनाओं पर विरोध जताते हुए ग्राम टोरडी में ग्रामवासियों ने सोमवार की रात विशाल कैंडल मार्च निकाला तथा दोषियों को फांसी की सजा देने की मांग की। कैंडल मार्च में अंबापुरा व टोरडी सहित आस पास के गांव के लोगों ने भाग लिया। इसी प्रकार मंगलवार को मालपुरा बार एसोसिएशन के वकीलों ने बार अध्यक्ष रघुवीर सिंह आखतडी के नेतृत्व में राष्ट्रपति के नाम एडीएम सुखराम खोखर को ज्ञापन दिया। ज्ञापन में हत्या व दुष्कर्म जैसे जघन्य अपराधों को रोकने की आवश्यकता जताते हुए अपरािधयों के खिलाफ सख्ती बरतने पर जोर दिया गया। बार एसोसिएशन ने प्रदेश में बिगड़ी कानून व्यवस्था पर चिंता जताई तथा कानूनी प्रावधानों अनुसार अपराध कारितों दोषियों पर कार्रवाई की आवश्यकता जताई गई।

X
Tonk News - rajasthan news seeing the accused of rape and murder the lawyers are trying to kill the police sweat to save
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना