राज्य सरकार पर लगाया कर्मचारियों की अनदेखी का आरोप, 24 काे देंगे धरना

Tonk News - अखिल राजस्थान राज्य कर्मचारी संयुक्त महासंघ एकीकृत ने राज्य सराकार पर कर्मचारियों की अनेदखी करने का आरोप लगाते...

Feb 15, 2020, 11:45 AM IST

अखिल राजस्थान राज्य कर्मचारी संयुक्त महासंघ एकीकृत ने राज्य सराकार पर कर्मचारियों की अनेदखी करने का आरोप लगाते हुए आंदोलन की घोषणा की हैं। वही दूसरी ओर राजस्थान सहायक कर्मचारी परिषद ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन देकर महंगाई भत्ता दिलवाने की मांग की हैं। एकीकृत जिलाध्यक्ष सत्यनारायण मीणा ने बताया कि प्रदेश महासमिति बैठक में हुए निर्णय के तहत आंदोलन के पहले चरण में एकीकृत से जुडे सभी संगठन 17 फरवरी को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन देंगे। वही दूसरे चरण में 24 फरवरी से 28 फरवरी तक जयपुर में क्रमिक अनशन चलाया जाएगा। उन्होंने बताया कि बैठक में कर्मचारियों की प्रमुख मांगों में जुलाई 2019 से देय 5 प्रतिशत महंगाई भत्ते की घोषणा करना, सामंत कमेटी की रिपोर्ट प्रकाशित करना, राज्य कर्मचारियों के वेतन कटौती के आदेश निरस्त करना, पुरानी पेंशन योजना लागू करना व संविदा एवं अस्थाई कर्मचारियों को नियमित सहित कई मांगों पर चर्चा की गई।

राजस्थान सहायक कर्मचारी परिषद ने शुक्रवार को कलेक्टर के जरिए मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन दिया। इसमें राज्य कर्मचारियों को भी केंद्र के समान महंगाई भत्ता दिए जाने के आदेश जारी करने की मांग करते हुए बताया कि केंद्र इस बार केंद्र सरकार की ओर से आठ माह पूर्व महंगाई भत्ते बढ़ोत्तरी के आदेश जारी करने के बावजूद राज्य सरकार की ओर से जारी नही किए गए हैं। जबकि आठ माह में महंगाई बढ़ चुकी हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री से कर्मचारियों को महंगाई भत्ता दिलवाने की मांग की हैं। इस दौरान महामंत्री मोहसीन आलम, हीरालाल, रामफुल, रामलाल, रामावतार, प्रहलाद आदि मौजूद रहे।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना