कब्जे नहीं हटाने से आक्रोशित ग्रामीणों ने विधायक आवास के बाहर लगाया जाम

Tonk News - ओझापुरा गांव की चरागाह भूमि के अतिक्रमण को नहीं हटाने से गुस्साए ओझापुरा के ग्रामीणों ने शनिवार को विधायक आवास के...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 11:20 AM IST
Todaraisingh News - rajasthan news villagers protested without removing occupation
ओझापुरा गांव की चरागाह भूमि के अतिक्रमण को नहीं हटाने से गुस्साए ओझापुरा के ग्रामीणों ने शनिवार को विधायक आवास के बाहर ट्रैक्टर लगा कर रोड जाम कर दिया तथा नारेबाजी कर जमकर विरोध प्रदर्शन किया।

सूचना पर मौके पर पहुंचे पुलिस के थानाधिकारी राजमल ने ग्रामीणों से समझाइश की तब जाकर आधा घंटे बाद जाम हटा कर तहसीलदार कपिल शर्मा को ज्ञापन सौंपा तथा तहसीलदार के आश्वासन के बाद वे शांत हुए।

गांव के चरागाह से अतिक्रमण नही हटाने से गुस्साए दर्जनों महिलाएं सहित पुरूष दो ट्रैक्टरों में भर कर साथ में सैकडों पौधे लेकर टोडारायसिंह में विधायक आवास के बाहर पहुंच गए। वहां 2 बजे जयपुर रोड को जाम कर दिया। इससे आमने सामने से आहरे वाहनों को वहीं रुकना पडा, जिससे दोनों ओर वाहनों की लंबी कतारें लग गई। सूचना पाकर पुलिस जाब्ते के साथ पहुंचे पुलिस के थानाधिकारी राजमल ने समझाइश की। काफी प्रयास के बाद आधा घंटे बाद ग्रामीणों ने जाम हटाया। वहां से रैली के रूप में एसडीएम कार्यालय पहुंच गए और वहां पर तब तक बैठे रहे जब तक तहसीलदार ने उनका ज्ञापन नहीं लिया।

तहसीलदार के आने के बाद ग्रामीणों ने ज्ञापन सौंप कर बताया कि ग्राम ओझापुरा की चरागाह भूमि पर प्रभावशाली लोगों ने अतिक्रमण कर रखा है। इसके लिए सभी ग्राम वासियों ने साल भर पहले व पिछली 9 जुलाई को ज्ञापन के माध्यम से अवगत करवा देने के बावजूद सुनवाई नहीं हो रही है। आराजी ख.नंबर 394 चरागाह भूमि है। जोकि गांव के जानवरों के चारा चरने के काम आती है। ऐसे में उक्त चरागाह भूमि के अतिक्रमण को हटाया जाए एवं जबरन काश्त शुदा फसल जवार व तिल को नष्ट करवाया जाए।

गांव वालों द्वारा विरोध करने पर जान से मारने की धमकियां देते है। इससे जान माल का खतरा बना हुआ है। ऐसे में इस चरागाह भूमि को खुलासा करवाया जाकर दोषी व्यक्तियों के विरुद्ध नियमानुसार कानूनी कार्रवाई की जाए। वे इस चरागाह भूमि पर पौधे लगाकर गोशाला बनाना चाहते है। इसलिए वहां पौधरोपण करने व गोशाला खोलने की अनुमति दे।

टोडारायसिंह | ओझापुरा की चरागाह भूमि को अतिक्रमण से मुक्त कराने के लिए विधायक आवास के बाहर जाम लगाते ग्रामीण।

पाबंद के लिए नोटिस

उधर तहसीलदार कपिल शर्मा ने बताया कि हमने आरोपियों के विरूद्ध नोटिस निकाल दिए है। उनको पाबंध किया जाएगा। सरकारी भूमि होने के कारण पौधरोपण के लिए पंचायत लिख कर देने के बाद ही पौधरोपण की कार्रवाई की जाएगी।

इन्होंने दिया ज्ञापन

ज्ञापन देने वालों में रतन खोखर, पांचूलाल, बन्नालाल, रोशन, हंसराज, राजेश सैनी, संतरा देवी, रतनलाल, घीसी देवी, बजरंगलाल सहित दर्जनों ग्रामीण है।

X
Todaraisingh News - rajasthan news villagers protested without removing occupation
COMMENT