--Advertisement--

देवली से खाटू श्याम के लिए निकली पदयात्रा

देवली से खाटू श्याम के लिए निकली पदयात्रा देवली | शहर से सोमवार को खाटू श्याम की पदयात्रा धार्मिक उल्लास से...

Danik Bhaskar | Sep 12, 2018, 06:45 AM IST
देवली से खाटू श्याम के लिए निकली पदयात्रा

देवली | शहर से सोमवार को खाटू श्याम की पदयात्रा धार्मिक उल्लास से निकली।शहर में पदयात्रा का गुलाब के पुष्पों से स्वागत किया गया । यात्रा समिति के प्रमोद मंगल ने बताया कि शहर से खाटू श्याम की पदयात्रा सोमवार को बैंड बाजे के साथ निकली ।जिसमे पदयात्री नाचते गाते श्याम भक्ति में लीन होकर निकले ।शहर में पदयात्रियों एवं श्याम बाबा की सजाई झांकी का पुष्प वर्षा कर तथा प्रसादी बांट कर स्वागत किया ।इस दौरान सैकड़ों श्याम भक्त भी साथ थे ।पदयात्रा19 सितम्बर को खाटू श्याम पहुंचेंगी।

बाबा रामदेव जयंती पर जयकारों के साथ निकाली ध्वजयात्रा

टोंक | लोकदेवता बाबा रामदेव की जयंती के अवसर पर मंगलवार को कोली समाज की ओर से ध्वजयात्रा निकाली गई। पार्षद अशोक महावर ने बताया कि लोकदेवता बाबा रामदेव का दो दिवसीय जन्मोत्सव के तहत पटेलों की गुवाडी नौशे मिया के पुल से विविधत् पूजा-अर्चना के बाद ध्वजयात्रा रवाना हुई। जो मुख्य बाजार से होकर घंटाघर, बमोर गेट, पुलिस लाईन, छावनी होते हुए अस्तल के बाबा रामदेव मंदिर पहुंची। जहां रामदेवजी बगीची में ही मेले का आयोजन किया गया। वही इससे पूर्व सोमवार की रात भजन संध्या का आयोजन किया गया। जिसमें बाबा रामदेव के भजन सुनने के लिए देर रात लोग डटे रहे।

जोधपुरिया देवधाम के लिए रवाना हुई पदयात्रा

दूनी | देवधाम जोधपुरिया में आयोजित होने वाले लक्खी मेले में शामिल होने के लिए मंगलवार को दूनी से देवधाम जोधपुरिया की पदयात्रा रवाना हुई। पदयात्रियों का जगह-जगह श्रद्धालुओं द्वारा स्वागत किया गया। जोधपुरिया देवधाम में गुर्जर समाज के आराध्या देव देवनारायण का प्राचीन मंदिर है। जहां प्रतिवर्ष लक्खी मेला लगता है। इसमें शामिल होने के लिए मंगलवार को झरमल्या देवधाम से जोधपुरिया देवधाम की पदयात्रा पूजा-अर्चना के बाद रवाना हुई। देवड़ावास से देहलवाल बाबा की पदयात्रा रवाना हुई।

गुन्सी से इन्द्रगढ़ के लिए पदयात्रा का प्रस्थान

गुन्सी | गांव गुन्सी से मंगलवार को बीजासण माताजी इन्द्रगढ़ के लिए ध्वज पूजन के साथ पदयात्रा रवाना हुई। संचालक गïïग्यारसी लाल घोडला ने बताया कि गांव में पदयात्रा की भव्य शोभायात्रा निकाली गई। पदयात्री डीजे पर चल रहे माताजी के मधुर भजनों पर नाचते गाते चल रहे थे। ग्रामीणों ने पुष्प वर्षा कर पदयात्रा का जगह-जगह भव्य स्वागत किया। इस दौरान माताजी की फूलों से भव्य झांकी सजाई गई। माताजी की झांकी पदयात्रा में आकर्षण का केन्द्र रही।