• Home
  • Rajasthan
  • Udaipur
  • Udaipur - पंचायतों को स्वच्छ बनाने के लिए 20-20 लाख मिलेंगे, कचरा उठाने घर-घर जाएगी साइकिल
--Advertisement--

पंचायतों को स्वच्छ बनाने के लिए 20-20 लाख मिलेंगे, कचरा उठाने घर-घर जाएगी साइकिल

उदयपुर | स्वच्छ भारत मिशन के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में कचरे का सही उपयोग और सफाई को लेकर जिला परिषद ने प्लान तैयार...

Danik Bhaskar | Sep 11, 2018, 07:20 AM IST
उदयपुर | स्वच्छ भारत मिशन के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में कचरे का सही उपयोग और सफाई को लेकर जिला परिषद ने प्लान तैयार कर लिया है। प्रथम चरण में प्रत्येक पंचायत समिति से 7 ग्राम पंचायतों को लिया गया है। जिले में कुल 119 पंचायतें हैं जिसमें से 94 स्मार्ट गांव को प्राथमिकता दी गई है जो ओडीएफ हैं। परिषद की तरफ से मॉडल के रूप में 9 ग्राम पंचायतों का प्रोजेक्ट बनाकर भेजा गया था जिसे सरकार ने मंजूर कर लिया है। इसमें गांव से एकत्र कचरे को खाद का रूप देकर खेती के लिए उपयोग करने का प्लान भी बनाया गया है। घर-घर कचरा संग्रहण के लिए साइकिल का उपयोग किया जाएगा। योजना के तहत जिस पंचायत में 500 परिवार या घर हैं उस पंचायत को 20 लाख रुपए और 300 घरों की पंचायत को 15 लाख रुपए मिलेंगे। इस बजट से डोर टू डोर कलेक्शन के लिए साइकिल रिक्शा, जगह-जगह कचरा पात्र, सेफ्टी उपकरण, क्रॉस ड्रेनेज, तरल पदार्थ के स्ट्रक्चर आदि खरीदे जाएंगे।

गांवों में ही कचरों का होगा निस्तारण, बदबू नहीं आएगी

सीईओ कमर चौधरी ने बताया कि जो 9 ग्राम पंचायतों के लिए प्लान बनाया था उसमें कचरे से खाद बनाने का भी प्लान था। इसमें ग्राम पंचायतों में तीन गड्ढे किए जाएंगे। उसमें जो कचरा सड़ सकता है वह डालेंगे। उससे बदबू नहीं आए उसके लिए भी उपाय किया गया है। हालांकि कचरे से खाद बनने के बाद उसको खेती में किस प्रकार से काम में लिया जाएगा उसके बारे में स्पष्ट नहीं है।

स्वच्छता पर आज होगी जिला स्तरीय कार्यशाला

स्वच्छता निरंतर, महावारी स्वच्छता प्रबंधन और पोषण अभियान को लेकर आज सुखाड़िया रंगमंच पर जिला स्तरीय कार्यशाला होगी। कार्यशाला में गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया सहित सभी अधिकारी, विधायक, प्रधान और सरपंच उपस्थित होंगे।