Hindi News »Rajasthan News »Udaipur News» Negligence Of Education Directorate Secondary Education Directorate Bikaner

काम कर रहे 734 लेक्चरर्स को गैरमौजूद बता नियुक्ति रद्द करने के आदेश दिए

BHASKAR NEWS | Last Modified - Nov 11, 2017, 05:21 AM IST

अधिकारियों ने इसे विभाग के शाला दर्पण पोर्टल पर नियुक्ति संबंधी जानकारी अपडेट नहीं होने का कारण बताया।
काम कर रहे 734 लेक्चरर्स को गैरमौजूद बता नियुक्ति रद्द करने के आदेश दिए
उदयपुर.माध्यमिक शिक्षा निदेशालय बीकानेर की लापरवाही के कारण जिन ग्रेड फर्स्ट लेक्चरर्स ने 5 माह पहले स्कूलों में ज्वाइनिंग कर लिया था, उन्हें अब बिना ज्वाइन किया हुआ बताकर नियुक्ति निरस्त करने के आदेश जारी कर दिए।
स्कूलों में कार्यरत ऐसे लेक्चरर्स को जब यह आदेश मिला तो उनके होश उड़ गए। उन्होंने तुरंत अपने प्रिंसिपल के मार्फत उच्चाधिकारियों से इसकी शिकायत की। अधिकारियों ने इसे विभाग के शाला दर्पण पोर्टल पर नियुक्ति संबंधी जानकारी अपडेट नहीं होने का कारण बताया। लेक्चरर्स का कहना है कि उनके स्कूल की उनकी ज्वाइनिंग संबंधी जानकारी पोर्टल पर पहले से अपडेट थी। बावजूद बिना जांचे उनकी नियुक्ति निरस्त करने के आदेश जारी कर दिए। दरअसल, निदेशालय ने सप्ताहभर पहले 734 लेक्चरर्स के पदभार ग्रहण नहीं करने का उल्लेख करते हुए उनकी नियुक्ति निरस्त करने के आदेश जारी किए और इन पदों पर आरक्षित सूची से भर्ती कराने की कार्रवाई शुरू कर दी।

लेक्चरर्स के विरोध पर निदेशालय ने वापस मांगी ज्वाइनिंग सूचना :
भारी विरोध के बाद निदेशालय ने ऐसे लेक्चरर्स से वापस ई-मेल के जरिए सूचना मांगी है जिनके नाम ज्वाइन करने के बावजूद नियुक्ति निरस्त करने के आदेश जारी किए। निदेशालय बीकानेर में संयुक्त निदेशक (कार्मिक) नूतन बाला कपिला से जब इस बारे में पूछा गया तो वे बोलीं कि स्कूलों ने शाला दर्पण पर लेक्चरर्स नियुक्ति संबंधी जानकारी अपडेट नहीं की थी जबकि लेक्चरर्स ज्वाइन कर चुके थे। कुछ लेक्चरर्स मॉडल स्कूल में चले गए। कपिला ने बताया कि ऐसे लेक्चरर्स से वापस ई-मेल के जरिए ज्वाइनिंग संबंधी सूचना मांगी है। ज्वाइन किया है तो किसी की नियुक्ति निरस्त नहीं की जाएगी।

सैलरी उठा रहे, आईडी-पासवर्ड बन चुके, फिर भी विभाग को पता नहीं
मैं चार माह से वेतन उठा रही हूं और मेरा आईडी-पासवर्ड भी मिल चुका। ये जानकारी विभाग के शाला दर्पण पोर्टल पर भी शुरू से अपडेट है फिर भी हमें नियुक्ति निरस्तगी के आदेश देकर मानसिक रूप से परेशान किया जा रहा है। मेरे ही स्कूल के एक लेक्चरर बीकानेर निदेशालय में सात दिन ट्रेनिंग के लिए गई थी। उसका भी नाम निरस्तगी आदेश में डाल दिया।
- उर्मिला पारीख, लेक्चरर

दो बार अपडेट करा चुकी नियुक्ति, विभाग बोल रहा अपडेट नहीं
जून 2017 में ज्वाइन किया था और उसी समय ये जानकारी पोर्टल पर अपडेट करा दी थी। मैं दो बार निदेशालय नियुक्ति का मेल भेज चुकी हैं लेकिन यह जानकारी वहां प्राप्त हो पा रही है या नहीं। इसका भी पता नहीं लग पा रहा। विभाग अपनी गलती हम पर थोप रहा है।
- अनीता अग्रवाल, लेक्चरर
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Udaipur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: kam kar rahe 734 lekchrrs ko gaairmaujud btaa niyukti rdd karne ke aadesh die
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      More From Udaipur

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×