--Advertisement--

13 दिन बाद मिट्टी से निकाली खलासी की लाश, रिवर्स लेते डंपर पलटने से दबा था

डंपर पलटने के बाद अगले दिन चालक ले गया डंपर लेकिन शव दबे होने की किसी को नहीं दी सूचना

Danik Bhaskar | Dec 28, 2017, 08:49 AM IST

उदयपुर. शहर के पासईंट भट्टे की मिट्टी में धंसा 13 दिन पुराना शव देख बुधवार को इलाके में सनसनी फैल गई। हिरणमगरी थाना पुलिस को मिट्टी से शव निकालने में खासी मशक्कत करनी पड़ी। पुलिस ने जानकारी ली तो पता चला कि मृतक युवक 13 दिन से लापता था और परिजन उसे तलाशने के लिए थाने से लेकर एसपी तक को बार-बार परिवाद दे चुके थे। खलासी की मौत भट्टे पर डंपर रिवर्स लेने के दौरान वाहन पलटने और उससे मिट्टी के ढेर में दब जाने से हुई थी। पुलिस ने चालक के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

- पुलिस ने बताया कि 14 दिसंबर को सराड़ा निवासी राजेश पुत्र गोमा मीणा और डंपर ड्राइवर सराड़ा निवासी हकरा पुत्र रूपा मीणा मिट्टी भर डंपर लेकर डाकन कोटड़ा के पास ईंटों भट्टे पर खाली करने जा रहे थे।

- भट्टे पर मिट्टी खाली करने से पहले ड्राइवर ने डंपर को रिवर्स लिया तो पीछे खड़े खलासी राजेश पर मिट्टी गिर गई। मिट्टी खाली करता डंपर अचानक पलट गया। जिससे राजेश मिट्टी के ढेर में दब गया।

- यह हादसा देख ड्राइवर डंपर छोड़कर भाग गया। अगले दिन ड्राइवर आया और डंपर को क्रेन से उठवाकर ले गया लेकिन दबे युवक राजेश के बारे में किसी को कुछ नहीं बताया।

माहौल खराब होने के डर से चालक गांव नहीं ले गया डंपर

- हकरा चालक और डंपर मालिक भी है। उसने घटना स्थल से हादसे के दूसरे दिन डंपर उठा तो लिया लेकिन सांप्रदायिक माहौल खराब न हो इसलिए डंपर गांव तक लेकर नहीं गया।

- परिजन राजेश को तलाशते हुए जब ड्राइवर के पास पहुंचे तो उसने कोई जवाब नहीं दिया। परिजन थाने में पहुंचे और गुमशुदगी की रिपोर्ट के लिए परिवाद दिया। साथ ही एसपी को भी परिवाद दिया।

- जब हादसे का पता चला तो परिजनों ने हत्या की आशंका जताई। गांव का माहौल न बिगड़े इसलिए मृतक के घर पर पुलिस जाब्ता तैनात किया गया है।

बदबू आई तो खुदाई में निकला शव
बुधवार को भट्टे के मजदूरों को हल्की बदबू आई तो उनको किसी जानवर का शव सड़ने का अनुमान लगा। लेकिन जब मिट्टी के ढेर की खुदाई की गई तो शव दिखने पर सभी घबरा गए और इलाके में सनसनी फैल गई। बाद में लोगों ने पुलिस को सूचना दी। डिप्टी, हिरण मगरी थानाधिकारी सहित जाब्ता मौके पर पहुंचा। काफी देर मशक्कत के बाद शव मिट्टी के ढेर से निकाला जा सका। बाद में उसकी राजेश के रूप में शिनाख्त हुई। पुलिस ने डंपर ड्राइवर हकरा मीणा के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।