--Advertisement--

बार चुनाव: भरत वैष्णव को 273 वोटों से हराया, BJP देहात महामंत्री रामकृपा शर्मा अध्यक्ष बने

1773 में से पड़े 1551 वोट, दीपक की जमानत जब्त

Danik Bhaskar | Dec 18, 2017, 04:42 AM IST

उदयपुर. बार एसोसिएशन के रविवार को हुए चुनाव में अध्यक्ष पद पर भाजपा का सिक्का चला। भाजपा के देहात जिला महामंत्री के पद पर काबिज राम कृपा शर्मा ने अन्य दो उम्मीदवार भरत कुमार वैष्णव और दीपक शर्मा को पछाड़ कर 273 वोट से जीत दर्ज की। उनके निकटतम प्रतिद्वंद्वी भरत कुमार वैष्णव को जहां 511 वोट ही मिले वहीं दीपक शर्मा की जमानत जब्त हो गई। उनको जमानत बचाने के लिए 258 वोटों की जरूरत थी लेकिन उनको मात्र 249 वोट ही मिल पाए।

- वहीं उपाध्यक्ष पद पर सत्येंद्र सांखला ने गजेंद्र नाहर को 134 वोटों से, महासचिव पद पर चेतन पुरी गोस्वामी ने आशुतोष पुरी गोस्वामी को 65 वोटों से, वित्त सचिव पद पर हरीश शर्मा ने मनीष खंडेलवाल को 733 वोटों से और पुस्तकालय सचिव पद पर हेमंत पालीवाल ने सैयद रिजवाना रिजवी को 649 वोटों से शिकस्त देकर जीत दर्ज की।

- नव निर्वाचित अध्यक्ष रामकृपा शर्मा उसी गुट से थे, जिन्होंने ने चार बार अध्यक्ष बनने का रिकॉर्ड बनाने वाले भरत जोशी को हराया था। रामकृपा की जीत सुनते ही समर्थित वकीलों ने कोर्ट परिसर में जश्न मनाया और आतिशबाजी की।

इस बार पहले से ज्यादा वोटिंग
वोटिंग सुबह 10 बजे से शुरू हो गई थी जो 2 बजे समाप्त हुई। जहां पिछली बार 1826 वोट थे और 1537 वोट डले, वहीं इस बार 1773 वोट में से 1551 वोट डले, जो पिछली बार से ज्यादा है।

हाई कोर्ट बैंच के लिए 365 दिन लड़ेंगे लड़ाई : नव निर्वाचित अध्यक्ष

बार एसोसिएशन के अध्यक्ष निर्वाचित होने के बाद रामकृपा शर्मा ने कहा कि पूर्व से चली आ रही हाईकोर्ट बैंच की मांग को लेकर 365 दिन लड़ाई लड़ी जाएगी। पिछले साल किए गए प्रस्तावित विकास को आगे बढ़ाया जाएगा। कोर्ट में वकीलों के बैठने के लिए और पार्किंग की समस्याओं को दूर करने के लिए कार्य करेंगे।

दो महिलाएं मैदान में थीं, एक भी नहीं जीतीं
चुनाव में अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, महासचिव, वित्त सचिव और पुस्तकालय सचिव पद पर 15 उम्मीदवार खड़े हुए जिसमें से मात्र दो महिला अधिवक्ता पुस्तकालय सचिव पद पर चुनाव लड़ने के लिए मैदान में उतरी थी लेकिन उनके सामने हेमंत पालीवाल ने भारी वोटों से उनको पछाड़ दिया। दीपिका चौधरी को 268, सैयद रिजवाना रिजवी को 309 वोट मिली वहीं हेमंत पालीवाल को 958 वोट मिले।

भाजपा जिलाध्यक्ष दिनेश भट्ट पहुंचे कोर्ट, वकीलों ने विरोध किया

वोटिंग के दौरान भाजपा जिलाध्यक्ष दिनेश भट्ट और पार्षद लव देव बागड़ी रामकृपा शर्मा को समर्थन देने के लिए कोर्ट परिसर में पहुंचे थे। इसके बाद अध्यक्ष पद के उम्मीदवार दीपक शर्मा के खेमे ने दिनेश भट्ट और लव देव बागड़ी का विरोध किया। उन्होंने कहा कि किसी भी पार्टी के पदाधिकारी चुनाव के दौरान समर्थन देने नहीं पहुंच सकते। इसके बाद दोनों कोर्ट परिसर से लौट गए।

इतने वोट से पूर्व में इन्होंने की जीत दर्ज
हीरालाल कटारिया रावरतन सिंह से करीब 112 वोट से हारे, अमरसिंह सोलंकी रोशन लाल जैन से 55 वोट से हारे, प्रवीण खंडेलवाल भरत जोशी से 248 वोट से हारे, भरत जोशी महेन्द्र नागदा से 306 वोट से हारे, वहीं भरत वैष्णव रामकृपा शर्मा से 273 वोट से हारे।