--Advertisement--

गोशाला में अनूठी शादी: बिजनेसमैन अपनी बेटी सहित 16 लड़कियों के करेंगे पीले हाथ

कुचामन सिटी की बीड गोशाला में आज होगा सामूहिक विवाह, तुलसी विवाह भी होगा

Danik Bhaskar | Dec 10, 2017, 06:41 AM IST

उदयपुर. नागौर जिले के कुचामनसिटी में रविवार को अनूठी सामूहिक शादी होगी। यहां की बीड़ गौशाला में गायों की परिक्रमा कर 17 जोड़े विवाह बंधन में बंधेंगे। आयोजन में सौ पौधे लगाकर पर्यावरण संरक्षण का संदेश भी दिया जाएगा। उद्योगपति राधेश्याम झंवर अपनी बेटी सुरभि के साथ गरीब तबके की 16 बेटियों की भी शादी करवा रहे हैं।

- सुरभि कन्यादान महोत्सव में यज्ञ मंडप के स्थान पर 15 हजार वर्ग फीट का सभा मंडप बनाया गया है। जिसके बीच में गौ माता को विराजित कर शादी के मंत्रोच्चार होंगे। सभा मंडप में 18 चंवरिया बनाई गई है। 17 जोड़ों के अतिरिक्त तुलसी माता और ठाकुरजी का विवाह होगा। सभा मंडप के चारों तरफ भी गायें रहेंगी। पथमेड़ा गौशाला से जुड़े राधेश्याम झंवर स्वयं कोई भी श्रेय नहीं लेते हैं, सारा श्रेय ठाकुरजी को देते हुए कहते हैं, सब वे ही करवा रहे हैं।

#गो सरंक्षण और पर्यावरण का देंगे संदेश

गो संरक्षण : गौशाला में आयोजन और गौ परिक्रमा से शादी का पहले संदेश गौ सरंक्षण ही है।
समानता : सामूहिक शादी में 16 अन्य जोड़े एससी और ओबीसी वर्ग के गरीब परिवार से हैं। झंवर ने बताया कि स्वरुचि भोज में सभी वर्ग एक जाजम पर भोजन करेंगे। इससे जाति भेदभाव से उठकर समानता का संदेश दिया जाएगा। सभी जोड़ों को उपहार में आभूषण सहित घरेलू सामान दिया जाएगा।
अन्न : भोज में 7 से अधिक आइटम नहीं होंगे। इससे शादी में दिखावा और अपव्यय रोकने का संदेश दिया जाएगा।
पर्यावरण : कन्यादान महोत्सव के बाद प्रेमोपहार वृक्षारोपण कार्यक्रम रखा गया है। इसके तहत करीब पचास हजार वर्ग फीट जमीन पर पौधरोपण किया जाएगा। उक्त क्षेत्र को पहले से तारबंदी कर सुरक्षित कर लिया गया है। तीन साल तक देख-रेख की जाएगी।
जल : आयोजन में आरओ का पानी इस्तेमाल नहीं किया जाएगा। पारंपरिक तरीके से शुद्ध पानी उपयोग में लिया जाएगा। झंवर का मानना है कि आरओ की प्रक्रिया में बहुत सा पानी व्यर्थ जाता है।