--Advertisement--

13 साल की बच्ची के सामने खौफनाक कत्ल, जिंदगी की भीख मांगता रहा शख्स

जिसने भी इस रोंगटे खड़े कर देने वाली थी वारदात के बारे में सुना दंग रह गया।

Danik Bhaskar | Dec 07, 2017, 09:01 AM IST

राजसमंद. राजसमंद में पहली बार दिनदहाड़े इस तरह की सनसनीखेज वारदात सामने आई है। जिसने भी इस घटना के बारे में सुना दंग रह गया। पुलिस के अनुसार अभियुक्त शंभुलाल रेगर अपने खेत में ले जाकर ठेकेदार अफराजुल उर्फ भुट्टू का गेंती से नृशंस वार करता रहा और एक आदमी वीडियो बनाता रहा। इस दौरान 13 साल की एक बालिका भी वीडियो में दिखती रही। तलाश में पुलिस की टीमें दौड़-भाग कर रही हैं...

- जिला कलेक्टरी से कुछ ही दूर हुए इस हत्याकांड ने पुलिस और प्रशासन के आला अफसरों तक को स्तब्ध कर दिया। हालात को देखते हुए बड़ी तादाद में शहर में सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं।

- सभी थानों को अभियुक्त का फोटो भेजकर अलर्ट किया गया और उसकी तलाश में पुलिस की टीमें दौड़-भाग कर रही हैं। शहर में बुधवार को उस समय सनसनी फैल गई जब वीडियो वायरल करके अभियुक्त ने खुद ही हत्या की जिम्मेदारी ले ली।

- भास्कर ने इस वीडियो की तस्दीक करने के लिए एसपी मनोज कुमार से बातचीत की तो उन्होंने इसे हत्याकांड से जुड़ा मामला ही माना।

- इस मामले में हत्या की वजह पूछी गई तो आईजी अानंद श्रीवास्तव ने कहा कि वीडियो में अभियुक्त जो कह रहा है, वही सच लग रहा है। बाकी बात तो गिरफ्तारी के बाद पता चलेगी। जिस तरह वीडियो बनाया गया है, उससे साफ है कि हत्या के इस कांड में अभियुक्त का सहयोग करने वाले एक या अधिक लोग और भी हैं। एसपी ने बताया, आरोपी की तलाश में जिलेभर में नाकाबंदी करवा ली गई है।

- आरोपी की जल्द से जल्द गिरफ्तारी के लिए जहां गृहमंत्री ने एसआईटी गठित की है, वहीं पुलिस ने जगह-जगह फोर्स तैनात किया है। आरोपी की तलाश में पुलिस देर रात तक दबिशें देती रहीं।

कुत्ते और कौए नोंच रहे थे शव
- दोपहर एक बजे राजनगर थानाधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे तब कुएं पर बनी कोटड़ी के रास्ते में अधजला शव कुत्ते और कौए नोच रहे थे। मौके पर एसपी मनोजकुमार, एएसपी मनीष त्रिपाठी, डीएसपी राजेंद्रसिंह भी पहुंचे। एफएसएल टीम ने घटनास्थल से गेंती, इसका टूटा हुआ हत्था, धारिया सहित साक्ष्य जुटाए हैं।
- पुलिस का कहना है कि हत्या में प्रयुक्त गेंती, इसका हत्था और धारिया नए हैं। आशंका है कि आरोपी ने वारदात से ठीक पहले ही इन्हें खरीदा है।

रोंगटे खड़े कर देने वाली थी वारदात

हत्या के वीडियो को सही मानें तो अभियुक्त शंभु और उसके सहयोगी बहाना बनाकर ठेकेदार को खेत पर ले गए। अफराजुल खेत में वह जगह देखने आगे बढ़ता है, जहां निर्माण करने के लिए पहले से बताया गया था। अभी तक मिली अपुष्ट जानकारी के अनुसार अफराजुल बाइक से आया और अभियुक्त स्कूटी से। अफराजुल आगे बढ़ा तो शंभु स्कूटी के आगे के रखी गेंती और अन्य सामान उठाया।

कुछ ही देर बाद उसने अफराजुल की पीठ पर गेंती के ताबड़तोड़ वार शुरू कर दिए। अफराजुल वहीं गिर गया और जिंदगी की भीख मांगता रहा।

वीडियो में वह कहता सुनाई देता है :

सर, मुझे मत मारो। मैंने क्या गलती की हैω लेकिन अभियुक्त कुछ नहीं सुनता और उस पर वार पर वार करता रहा। अफराजुल के गले, पेट और हाथों पर वार हुए। कुछ ही देर में वह ढेर हो गया। इसके बाद उसके शरीर पर पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी। इसके बाद अभियुक्त मौके से भाग गया।

जो वीडियो में है, वही सामने आया है : आईजी

उदयपुर रेंज आईजी आनंद श्रीवास्तव ने बताया कि हत्या के आरोपी की गिरफ्तारी का लगातार प्रयास किया जा रहा है। शांति व्यवस्था में किसी भी तरह का व्यवधान न हो, इस लिहाज से एेहतियातन बंदोबस्त किए गए हैं। हत्या का कारण वही लगता है, जो अब तक युवक वीडियो में बोल रहा है। गिरफ्तारी के बाद ही कुछ पता चल पाएगा।

वीडियो से तो शंभु ही अभियुक्त है : एसपी
एसपी मनोज कुमार के अनुसार पहले तो अज्ञात के खिलाफ ही मामला दर्ज किया गया था। फरियादी ने नामजद रिपोर्ट नहीं दी थी। लेकिन सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो को ध्यान से देखें तो राजनगर के रहने वाले शंभुलाल ने ही हत्या की है। उसकी तलाश की जा रही है। शुुरुआती जांच में व्यक्तिगत रंजिश की बात ही सामने आई है। शंभु और अफराजुल से पहले से ही परिचित थे। इसीलिए वह उसे बुलाकर लेकर गया। आरोपी के पकड़े जाने पर ही हत्या के कारणों का पता चल पाएगा।

ऐहतियात: चार डिप्टी, अतिरिक्त जाप्ता

ऐहतियात के तौर पर शहर में कुंभलगढ़ डिप्टी चंदनसिंह महेचा, नाथद्वारा डिप्टी कानसिंह भाटी, राजसमंद डिप्टी राजेंद्र राठौड़ को तैनात कर दिया है। जिले के सभी थानाधिकारियों को आरोपी की फोटो भिजवाकर गिरफ्तारी के प्रयास करने के निर्देश दिए हैं। शहर में राजसमंद पुलिस लाइन का अतिरिक्त जाप्ता लगा दिया है।

और तीन वीडियो भी वायरल किए

आप इनके प्रेम जाल में नहीं फंसे। ...लव जेहाद में फंसी एक अबला लड़की की मदद के कारण मुझे अपनी जिंदगी दाव पर लगानी पड़ी है। ...फिल्मों के माध्यम से हमारे देवी-देवताओं को अपमानित किया जा रहा है। हमारे इतिहास को बदला जा रहा है। हमें पीके और पद्मावती जैसी फिल्में बनने से रोकनी होगी। ये पाकिस्तान में बैठकर हमें अंडर वर्ड के नाम से डरा-धमका रहे हैं।

माई नेम इज शंभु भवानी..., प्लीज अरेस्ट मी, एंड कीप माई डॉटर इन प्रिजन विद मी...

पुलिस के अनुसार शंभुलाल ने खुद के सोशल मीडिया अकाउंट पर मर्डर के लाइव वीडियो के साथ देवनागरी में लिखे तीन पेज का एक पत्र भी जारी किया है। इसमें लिखा है : हेलो फ्रेंड्स, माइ नेम इज शंभु भवानी। इसमें उसने धार्मिक रूप से भड़काऊ बातें लिखी हैं। साथ ही लिखा है: प्लीज अरेस्ट मी एंड कीप माई डॉटर इन प्रिजन विद मी।

आरक्षण और धारा 370 की भी बात
एक अन्य वीडियो में उसने धारा 370, आरक्षण और अन्य मुद्दों को लेकर भी भड़काऊ बातें कही हैं।