--Advertisement--

पद्मावत: करणी सेना का सुबह 9 से 12.30 बजे तक उदयपुर बंद का आह्वान, खुले रहेंगे स्कूल और काॅलेज

आईजी पहुंचे चिताैड़गढ़, करणी सेना ने कहा-सिनेमाघरों में फिल्म नहीं दिखाएंगे तो कोई विरोध नहीं

Danik Bhaskar | Jan 25, 2018, 07:16 AM IST

उदयपुर. पद्मावत फिल्म बुधवार को रिलीज हो रही है और कल गणतंत्र दिवस मनाया जाएगा। पुलिस के लिए दो दिन चुनौतीपूर्ण रहेंगे। इसलिए संभाग के 128 थानों सहित पुलिस लाइन के 8 हजार 720 पुलिसकर्मी अलर्ट पर हैं। श्री राजपूत करणी सेना ने पद्मावत फिल्म के विरोध को लेकर सुबह 9 से 12.30 बजे तक आधे दिन के उदयपुर बंद का आह्वान किया है।

श्री राजपूत करणी सेना के प्रदेश उपाध्यक्ष कुलदीप सिंह ताल और जिलाध्यक्ष देवेन्द्र नाथ सिंह फलीचड़ा ने कहा कि कार्यकर्ता सुबह 9 सूरजपोल चौराहे पर इकट्ठे होंगे और वहां से रैली निकालेंगे। स्कूल, कॉलेज सहित शिक्षण संस्थाओं को बंद से मुक्त रखा गया है। इधर, बजरंग दल के विद्यार्थी प्रांत प्रमुख परमवीर सिंह दुलावत ने भी बंद का समर्थन किया है। राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के पदाधिकारी दिग्विजय सिंह बाठेड़ा ने कहा कि सिनेमाघर फिल्म नहीं दिखाएंगे ताे किसी प्रकार का विरोध नहीं होगा।

घूमर गीत और नृत्य पर कोई प्रतिबंध नहीं, पद्मावत के गीत को लेकर डीईओ को एहतियात के निर्देश

एडीएम सिटी सुभाषचंद्र शर्मा ने सभी जिला शिक्षाधिकारियों को आदेश देकर स्कूलों में गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान पद्मावत फिल्म के गीत और नृत्य को लेकर एहतियात बरतने के को कहा है। आदेश में प्रशासन को राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना मेवाड़ की ओर से मिले ज्ञापन का हवाला दिया गया है जिसमें इस फिल्म के घूमन गाने को स्कूलों में नहीं बजाने का निवेदन किया गया है। डीईओ (मा.प्रथम) नरेश डांगी और (प्रा) गिरीजा वैष्णव ने कहा कि लोक गीत घूमर पर किसी प्रकार की कोई रोक नहीं है, जो आदेश प्रशासन की ओर से मिले हैं वे पद्मावती फिल्म के घूमर गाने और नृत्य को लेकर हैं।

स्कूल-कॉलेज बंद नहीं रहेंगे : कलेक्टर

जिला मजिस्ट्रेट बिष्णु चरण मल्लिक ने बंद के आह्वान को देखते हुए कार्यपालक मजिस्ट्रेट नियुक्त किए हैं। मल्लिक ने बताया कि स्कूल-कॉलेज बंद नहीं रहेंगे। एडीएम सिटी सुभाष चन्द्र शर्मा को प्रभारी बनाया गया है। उपखंड अधिकारियों और तहसीलदारों को अलर्ट किया गया है।

प्रदेश में मल्टीप्लेक्स स्क्रीन पर नहीं दिखाएंगे पद्मावत

मल्टीप्लेक्स एसोसिएशन आॅफ इंडिया ने बुधवार को प्रदेशभर के मल्टीप्लेक्स में पद्मावत फिल्म नहीं दिखाने को लेकर प्रेस नोट जारी किया है। एसोसिएशन के अध्यक्ष दीपक आशेर ने कहा कि मॉल और मल्टीप्लेक्स में अाने वाले लोगों की सुरक्षा महत्वपूर्ण है।

दो माह में दूसरी बार हालात संवेदनशील : मेवाड़ के 128 थानों के 9 हजार पुलिसकर्मी अलर्ट पर

उदयपुर सहित संभाग के सभी पांच जिलों के सिनेमाघर संचालकों ने पहले से ही प्रशासन को लिखित में फिल्म दिखाने से मना कर दिया है। वहीं राजसमंद जिले में एक भी सिनेमाघर नहीं है। हालांकि उदयपुर जिले में करणी सेना ने भी साफ किया है कि अगर सिनेमाघरों में फिल्म नहीं दिखाई जाएगी तो किसी प्रकार का विरोध नहीं किया जाएगा। इसके बाद भी पुलिस तनाव की संभावित स्थिति को देखते हुए जगह-जगह जाप्ता तो तैनात कर रही है। चितौड़गढ़ जिला इस मुद्दे को लेकर सबसे ज्यादा संवेदनशील होने के कारण आईजी आनंद श्रीवास्तव कानून व्यवस्था संभालने के लिए वहां डटे हुए हैं। संभागीय आयुक्त भवानी सिंह देथा भी संभागभर में व्यवस्था पर नजर बनाए हुए हैं।

चित्तौड़ में 3 गिरफ्तारी हुई है, बाकी जिले शांत हैं: आईजी

महिलाओं के जौहर की बात सामने आई थी, इसलिए मंगलवार को तीन लोगों की गिरफ्तारी हुई। चितौड़गढ़ में ही माहौल संवेदनशील है, बाकी सभी जिलों में शांति है।
-आनंद श्रीवास्तव, आईजी, उदयपुर रेंज