--Advertisement--

फिल्म के विरोध की आग फैली: मेवाड़ के सिनेमाघर संचालकों की ‘पद्मावत’ को ना

फिलहाल पद्मावत नहीं दिखाने के आदेश मुंबई मुख्यालय से मिल चुके हैं।

Dainik Bhaskar

Jan 24, 2018, 05:02 AM IST
padmaavat film will not release in mewar

उदयपुर. 25 जनवरी को रिलीज हो रही विवादों से घिरी पद्मावत फिल्म को भले ही सुप्रीम कोर्ट ने हरी झंडी दे दी हो लेकिन मेवाड़ के सिनेमाघरों ने इसे प्रदर्शित करने से मना कर दिया है। संभाग के सभी सिनेमाघर संचालकों का कहना है कि यह फिल्म मेवाड़ के मान के साथ ही समाज विशेष को ठेस पहुंचा रही है इसलिए इसका प्रदर्शन नहीं करने का निर्णय लिया है। ज्यादातर संचालकों ने इस संबंध में प्रशासन को लिखित में पत्र भी जारी कर दिया है।

आईजी, उदयपुर रेंज आनंद श्रीवास्तव ने बताया कि संभाग के सभी पुलिस अधीक्षकों को कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए निर्देश दिए हैं। साथ ही जिलों में निगरानी रखने के लिए थाने के अलावा अलग से जाब्ता भी तैनात किया जाएगा। साथ ही संभाग के सभी एसपी ने भी कहा कि कानून व्यवस्था को देखते हुए 25 जनवरी को सभी सिनेमाघरों के बाहर पुलिस जाप्ता भी तैनात रहेगा।


इधर, करणी सेना ने पद्मावत फिल्म के विरोध पर मंगलवार शाम को उदयपुर में प्रतापनगर चौराहे पर टायर जलाया और 15 मिनट तक हाइवे जाम कर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के कारण अहमदाबाद और नाथद्वारा रोड की तरफ लंबा जाम लग गया और लोगों को परेशानी हुई।

इधर, राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के पदाधिकारी दिग्विजय सिंह बाठेड़ा ने बताया कि फिल्म किसी भी हाल में नहीं चलने दी जाएगी। स्कूलों सहित संस्थाओं में भी इस फिल्म में घूमर गाना बजाने का भी विरोध किया गया। भींडर मित्र मंडल ने भी बैठक कर फिल्म का विरोध किया है।

फिल्म के विरोध की आग फैली: करणी सेना ने हाईवे किया जाम, सिनेमाघरों के बाहर भी प्रदर्शन

सिनेमाघरों के बाहर पोस्टर चस्पा कर कहा- हम नहीं दिखाएंगे फिल्म

उदयपुर : अशोका पैलेस के मैनेजर शेर आलम ने बताया कि मेवाड़ के गौरव का आदर करते हुए पद्मावत अशोका सिनेमा में प्रदर्शित नहीं करेंगे। इसके पोस्टर लिखकर हॉल के बाहर चस्पा दिए हैं।

- आईनोक्स संचालक का कहना है कि फिलहाल पद्मावत नहीं दिखाने के आदेश मुंबई मुख्यालय से मिल चुके हैं। पीवीआर के संचालकों ने इस संबंध में चुप्पी साथ रखी है। हालांकि सेलिब्रेशन और लेकसिटी मॉल के बाहर फिल्म पद्मावत नहीं दिखाने के पोस्टर चस्पा किए हैं।


चितौड़गढ़ : चन्द्रलोक टॉकिज मैनेजर रमेश पुरी ने कहा कि जनभावनाओं को देखते हुए फिल्म का प्रदर्शन नहीं किया जाएगा। चितौड़गढ़ एसपी प्रसन्न कुमार का कहना है कि सिनेमाघर संचालकों ने फिल्म प्रदर्शित करने मना कर दिया है फिर भी जाप्ता तैनात रहेगा।


प्रतापगढ़ : अर्चना टॉकिज के इंदरमल सुथार और समता टॉकिज के सुरेन्द्र बोरदिया ने कहा कि प्रशासन काे लिखित में दे दिया है कि फिल्म प्रदर्शित नहीं होगी। एसपी शिवराज मीणा ने बताया कि लोगों के प्रदर्शन के बाद सिनेमाघर संचालकों ने मना कर दिया है।


राजसमंद : एसपी मनोज कुमार चौधरी ने बताया कि राजसमंद में सिनेमाघर नहीं है फिर कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए निर्देश दे दिए हैं।


डूंगरपुर : राजश्री टॉकिज के फकरुद्दीन ने कहा कि फिल्म से समाज को ठेस पहुंच रही है, इसलिए इसका प्रदर्शन नहीं होगा।

एसपी शंकरदत्त शर्मा का कहना है कि अब तक विवाद जैसी स्थित बनने के कोई इनपुट नहीं मिले हैं। थानाधिकारी निगरानी रखे हुए हैं।

बांसवाड़ा : नक्षत्र मॉल स्थित मुक्ता सिनेमाघर के मनोज माथुर और सागवाड़ा के सुरभि मल्टीप्लेक्स के दिनेश कोड़निया ने कहा कि हम मेवाड़ की जनता के साथ हैं।

एसपी कालूराम रावत ने बताया कि बांसवाड़ा के सिनेमाघर संचालकों ने फिल्म नहीं दिखाने को लेकर लिखित में पत्र जारी कर दिए हैं।

ऐसे निर्णय मानता कौन है: पूर्व मंत्री भाटी

निजी कार्यक्रम में उदयपुर आए पूर्व मंत्री देवीसिंह भाटी ने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट से पहले भी कई बार ऐसे निर्णय अाए हैं, लेकिन ये मानता कौन है। इतनी बड़ी जनभावना केंद्र सरकार को नजर क्यों नहीं आ रही। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि राजस्थान में किसी थियेटर संचालक में हिम्मत है ताे वह फिल्म चलाकर दिखाए।

padmaavat film will not release in mewar
padmaavat film will not release in mewar
padmaavat film will not release in mewar
X
padmaavat film will not release in mewar
padmaavat film will not release in mewar
padmaavat film will not release in mewar
padmaavat film will not release in mewar
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..