--Advertisement--

पेट्रोल 75 तो डीजल 67 रुपए लीटर पहुंचा, 6 माह में 7 रुपए की वृद्धि

राज्यों की दरों में असमानता का फायदा बस, ट्रक जैसे बड़े वाहन मालिकों को मिल रहा है।

Dainik Bhaskar

Jan 19, 2018, 05:50 AM IST
petrol and diesel prices hike

उदयपुर. पाई-पाई करके डीजल, पेट्रोल की दरें लेकसिटी में 75 रुपए प्रति लीटर कब हाे गई इसका अहसास उपभोक्ताओं को नहीं हो पाया। गुरुवार को लेकसिटी में पेट्रोल प्रति लीटर 75 (74.68 रुपए) और डीजल की प्रति लीटर रेट 67 (66.76 रुपए) रुपए तक पहुंच गई। वहीं, मुंबई व दिल्ली में पेट्रोल की रेट 80 रुपए लीटर का आंकड़ा छू गई।

- लेकसिटी के पेट्रोल पंप संचालकों के अनुसार यह अब तक की सर्वाधिक रेट है। बीते छह माह में उदयपुर में पेट्रोल और डीजल की रेट में जहां सात रुपए वृद्धि हुई वहीं एक वर्ष में पेट्रोल के दाम 15 रुपए प्रति लीटर आैर डीजल के दाम 14 रुपए प्रति लीटर बढ़ गए। वहीं अगस्त 2017 में पेट्रोल का औसत मूल्य 67 रुपए 83 पैसे और डीजल 59 रुपए 43 पैसे था।

- उपभोक्ता संरक्षण के प्रति जागरूक मारुति सेवा समिति के अध्यक्ष प्रमोद कुमार झंवर का कहना है कि नियमित रेट जारी करने की युक्ति सरकार के लिए फायदेमंद साबित हो रही है। पेट्रोल पंपों पर रोजाना सुबह-शाम लंबी कतार में लगने वाले उपभोक्ता न तो दरों में नियमित उतार-चढ़ाव देखते हैं न रेट्स के मासिक बदलाव की जानकारी मिलती है। जब रोजाना दरें जारी नहीं की जाती थी तो दो-तीन माह में पांच-छह रुपए मूल्य वृद्धि की खबर आने पर लोग बौखला जाते थे। डीजल-पेट्रोल मूल्य वृद्धि का विरोध होता था।

#हर दिन 10-15 पैसे बढ़ने से उपभोक्ताओं को नहीं होता दाम बढ़ने का अहसास

क्रूड ऑयल की दरें घटने के बावजूद पेट्रोल महंगा

नगर निगम के पूर्व प्रतिपक्ष नेता चार्टर्ड अकाउंटेंट दिनेश श्रीमाली का कहना है कि एनडीए सरकार ने डीजल-पेट्रोल की मनमानी रेट बढ़ा कर राजस्व कमाने का जरिया बना दिया है। श्रीमाली ने आंकड़े पेश करते हुए बताया कि जब क्रूड ऑयल का अंतरराष्ट्रीय मूल्य 113 डॉलर प्रति बेरल था तब हमारे यहां पेट्रोल की दर 67.83 रुपए और डीजल 59.43 रुपए प्रति लीटर दाम थे। वर्तमान में क्रूड ऑयल का मूल्य 70 डॉलर प्रति बेरल है। पेट्रोल के दाम 75 और डीजल 67 रुपए प्रति लीटर है।

पेट्रोल, डीजल पर केंद्र के साथ राज्य सरकार का टैक्स भी लागू है। राज्य सरकार टैक्स कम करके उपभोक्ताओं को तीन-चार रुपए प्रति लीटर की दर से राहत दे सकती है। राजस्थान के मुकाबले मध्यप्रदेश और गुजरात में दरें तीन-चार रुपए प्रति लीटर कम है। कोटड़ा, डूंगरपुर, बिछीवाड़ा क्षेत्रों के लोग गुजरात के पेट्रोल पंपों से और छोटी सादड़ी, बड़ी सादड़ी, निम्बाहेड़ा, प्रतापगढ़ के उपभोक्ता एमपी के पंपों से सस्ते दाम में डीजल-पेट्रोल भराते हैं। राज्यों की दरों में असमानता का फायदा बस, ट्रक जैसे बड़े वाहन मालिकों को मिल रहा है।
-राज राजेश्वर जैन, सचिव, उदयपुर पेट्रोल डीलर्स एसोसिएशन

X
petrol and diesel prices hike
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..