• Home
  • Rajasthan
  • Udaipur
  • उदयपुर में होगी राष्ट्रीय जनजाति प्रतिभा खोज स्पर्धा
--Advertisement--

उदयपुर में होगी राष्ट्रीय जनजाति प्रतिभा खोज स्पर्धा

उदयपुर | यूथ बोर्ड अध्यक्ष भूपेन्द्र सैनी ने कहा कि जनजाति प्रतिभा खोज की राष्ट्रीय प्रतियोगिता उदयपुर में होगी।...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 07:00 AM IST
उदयपुर | यूथ बोर्ड अध्यक्ष भूपेन्द्र सैनी ने कहा कि जनजाति प्रतिभा खोज की राष्ट्रीय प्रतियोगिता उदयपुर में होगी। बोर्ड ने इस आयोजन के जरिए विलुप्त होती सांस्कृतिक विरासत को सहेजने में बड़ी भूमिका निभाई है। सैनी बुधवार को राजस्थान युवा बोर्ड, जनजाति युवा सांस्कृतिक प्रतिभा खोज प्रतियोगिता के राज्य स्तरीय कार्यक्रम के उद्घाटन स़मारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि बजट में युवा बोर्ड को 56 लाख रुपए मंजूर हुए हैं। इससे बोर्ड को फायदा होगा। अध्यक्षता संभागीय आयुक्त भवानी सिंह देथा ने की। विशिष्ट अतिथि भाजयुमो प्रदेश उपाध्यक्ष गजपाल सिंह राठौड़, राजीव चौबीसा (डूंगरपुर), दीप शिखा (बांसवाड़ा), युवा बोर्ड सदस्य महेन्द्र औदीच्य थे। समापन सत्र के मुख्य अतिथि सांसद अर्जुनलाल मीणा ने कहा कि पहली बार किसी युवा बोर्ड के अध्यक्ष ने जनजाति के युवाओं की खोज-खबर ली है। अध्यक्षता जिला कलेक्टर बिष्णु चरण मल्लिक ने की। विशिष्ट अतिथि बोर्ड के सदस्य सुशील कुल्हरि, राजेन्द्रसिंह शेखावत, विनोद जाखड़, राष्ट्रीय जनजाति आयोग के पूर्व सदस्य हरिकृष्ण डामोर थे। बोर्ड सदस्य डाॅ. जिनेन्द्र शास्त्री ने बताया कि कार्यक्रम में प्रदेश के 180 जनजाति कलाकारों ने प्रस्तुति दी।

यह रहे परिणाम : एकल लोक नृत्य, शास्त्रीय एकल नृत्य, तंबूर, कठपुतली, बांसुरी, मांडना, नाटक में उदयपुर प्रथम रहा। सामूहिक लोकनृत्य, आशु भाषण में डूंगरपुर, तबला, हारमोनियम, सामूहिक लोक गायन, एकल गायन में प्रतापगढ़, चित्रकला में बांसवाड़ा ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। एकल लोक नृत्य, मांडना में डूंगरपुर, सामूहिक लोक नृत्य, सामूहिक लोक गायन में उदयपुर द्वितीय, तबला, आशुभाषण, हारमोनियम में बारां जिला द्वितीय रहा। नाटक में प्रतापगढ़, एकल गायन में सिरोही जिला द्वितीय रहा। एकल नृत्य में बांसवाड़ा, सामूहिक लोक नृत्य, सामूहिक लोक गायन में प्रतापगढ़, तबला, हारमोनियम, आशुभाषण, चित्रकला में उदयपुर जिला, नाटक, एकल गायन में डूंगरपुर तृतीय स्थान पर रहा।