• Home
  • Rajasthan
  • Udaipur
  • रंग और नूर में डूबा तीज त्योहारों वाला मेवाड़
--Advertisement--

रंग और नूर में डूबा तीज त्योहारों वाला मेवाड़

उदयपुर| तीज-त्योहारों वाले मेवाड़ में रंग और नूर बरसेगा। शुरुआत गुरुवार शाम 7.41 से रात 9 बजे के बीच प्रदोष काल में...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 07:00 AM IST
उदयपुर| तीज-त्योहारों वाले मेवाड़ में रंग और नूर बरसेगा। शुरुआत गुरुवार शाम 7.41 से रात 9 बजे के बीच प्रदोष काल में होलिका दहन के साथ हो जाएगी। सिटी पैलेस के माणक चौक में शाम 7.40 बजे दहन होगा। जगदीश चौक पर दहन से पहले सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। इसके साथ ही शहर में सैकड़ों जगह होली जलेगी। धुलंडी पर रंगोत्सव होगा। नवजातों की ढूंढ के सामूहिक व एकल आयोजन होंगे। अंचल में गेर की गम्मत भी जमेगी। महिलाएं दशा माता का दस दिवसीय व्रत-कथा अनुष्ठान शुरू करेंगी। इधर, शहर में सिन्धी बिलोची समाज का सामूहिक होली शोक निवारण कार्यक्रम शुक्रवार सुबह 8 से 8.30 बजे तक शक्तिनगर स्थित कम्युनिटी हाॅल के बाहर होगा। स्कूल-कॉलेजों में त्योहारी छुटि्टयों से पहले बुधवार को ही छात्र-छात्राओं ने जमकर होली खेली।

आरएनटी मेडिकल कॉलेज (बाएं) और स्कूलों में बुधवार को छात्र-छात्राओं ने खेली होली।

यह होगा खास


जगदीश मंदिर से भगवान विष्णु को लवाजमे के साथ चौक में होलिका दहन स्थल लाया जाएगा, जहां दहन से पहले लोक प्रस्तुतियां होंगी। श्रीनाथजी मंदिर में शाम 7.40 बजे होलिका दहन होगा। शुक्रवार सुबह 10 बजे शृंगार दर्शन होंगे। डोलोत्सव के दर्शन मध्याह्न 12 बजे से होंगे।


पुष्टि मत की प्रथम पीठ के श्रीनाथजी (नाथद्वारा) और तृतीय पीठ के द्वारकाधीश मंदिर (कांकरोली) में डोल उत्सव शनिवार को होगा। धुलंडी पर नाथद्वारा में बादशाह की सवारी निकलेगी। इससे पहले गुरुवार को शाम 7.39 बजे होलिका दहन होगा। इसी समय द्वारकाधीश मंदिर का लवाजमा दहन के लिए होली थड़ा पहुंचेगा। चारभुजा और रूपनारायण में होलिका दहन के बाद डोलोत्सव का 15 दिन का मेला शुरू होगा।


कृष्णधाम सांवलियाजी में डेढ़ महीने बाद भंडार खुलेगा। धुलंडी पर मध्याह्न 12 बजे फूल डोल की शोभायात्रा निकलेगी। मंगला आरती सुबह साढ़े पांच बजे होगी। सुबह 10 से सवा 11 बजे तक राज भोग की आरती होगी।