• Home
  • Rajasthan
  • Udaipur
  • चार साल का सबसे छोटा बजट लाएगा निगम, 10 को बोर्ड बैठक में लगेगी मुहर
--Advertisement--

चार साल का सबसे छोटा बजट लाएगा निगम, 10 को बोर्ड बैठक में लगेगी मुहर

नगर निगम का वर्ष 2018-19 का बजट बीत चार साल में सबसे छोटा होगा। इस वर्ष निगम में शहर विकास के लिए 248.15 करोड़ का बजट रखा है।...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 07:05 AM IST
नगर निगम का वर्ष 2018-19 का बजट बीत चार साल में सबसे छोटा होगा। इस वर्ष निगम में शहर विकास के लिए 248.15 करोड़ का बजट रखा है। बोर्ड की 10 मार्च को होने वाली बैठक में इस पर मुहर लगेगी। हालांकि एजेंडा बुधवार को ही जारी कर दिया गया है। पिछले साल के मुकाबले निगम का यह बजट करीब 61 करोड़ रुपए कम होगा। खास बात यह है कि पिछली बार की तरह इस साल भी सबसे ज्यादा फंड स्वास्थ्य विभाग को दिया गया है।

सिर्फ काइन हाउस और सार्वजनिक मरम्मत में बढ़ा बजट : गत वर्ष के मुकाबले इस वर्ष सिर्फ काइन हाउस और सार्वजनिक मरम्मत के लिए बजट बढ़ाया गया है। अन्य सभी विभागों में पहले के मुकाबले बजट कम ही रखा है। इस बार बजट से पहले निगम के पास 3.5 करोड़ रुपए बचे थे, जिसे जोड़कर 248 करोड़ का बजट तय किया गया है। हालांकि इससे पहले हर बजट में बड़ी रकम बचती थी। पिछले साल 74 करोड़ और उससे पहले 95 करोड़ रुपए शेष बचे थे।

निगम के पास पैसा नहीं है, बकाया भी नहीं है, इसलिए कम : महापौर

मेयर चंद्रसिंह कोठारी ने बताया कि इस बार निगम के पास पैसा ही नहीं है। इसलिए इस बार 248 करोड़ का बजट रखा है। हर साल पहले का पैसा बचता था। इस बार सिर्फ 3.5 करोड़ बचे हैं, इसलिए बजट कम रखा है।

अन्य योजनाओं में भी पैसा है, स्वास्थ्य पर अच्छा पैसा रखा है : आयुक्त

नगर निगम आयुक्त सिद्धार्थ सिहाग ने बताया कि 10 मार्च को होने वाली बोर्ड की बैठक में बजट पर मुहर लगेगी। इस बार बजट 248 करोड़ का है, मगर केंद्र और राज्य से मिलने वाला पैसा इसमें शामिल नहीं है।

भास्कर में सबसे पहले : जानिए कहां कितना प्रावधान रखा है शहर की सरकार ने

स्वास्थ्य






विद्युत






काइन हाउस


सार्वजनिक मरम्मत/निर्माण































नगर निगम बजट

इस बार 248 करोड़ होगा बजट, पिछली बार से 61 करोड़ कम

फायर



उद्यान




पिछला और इस साल का बजट

विभाग 2018-19 2017-18

सामान्य प्रशासन 6.46 6.61

कर वसूली 2.23 2.10

स्वास्थ्य 54.15 54.02

गैराज 9.78 11.02

फायर 4.26 5.94

विद्युत 13.23 18.97

काइन हाउस 1.15 1.10

उद्यान 8.82 8.89

सार्वजनिक मरम्मत 27.14 25.40

पुस्तकालय 1.03 1.20

सार्वजनिक विकास 16.80 32.80

अन्य नए विकास 30.10 50.50

स्मार्ट सिटी योजना 15 30

अमृत योजना 10 0

आरयूआईडीपी 15 0

अनुदान से विकास 25.87 -- पिछला बकाया 3.5 --

कुल - 248.15 करोड़ (ऊपर दी गई राशि करोडा़ें में)