Hindi News »Rajasthan »Udaipur» आरएनटी के एडिशनल प्रिंसिपल डॉ. रैगर को चंद्र ग्रहण के बाद लाभ चौघड़िया में मिली विवादित चैम्बर से

आरएनटी के एडिशनल प्रिंसिपल डॉ. रैगर को चंद्र ग्रहण के बाद लाभ चौघड़िया में मिली विवादित चैम्बर से मुक्ति

आरएनटी मेडिकल कालेज के एडिशनल प्रिंसिपल-2 डॉ. ललित रैगर को अब चंद्रग्रहण के बाद गुरुवार को दोपहर 1.05 बजे लाभ के...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 07:45 AM IST

आरएनटी मेडिकल कालेज के एडिशनल प्रिंसिपल-2 डॉ. ललित रैगर को अब चंद्रग्रहण के बाद गुरुवार को दोपहर 1.05 बजे लाभ के चौघडिय़ा में विवादित चैम्बर से मुक्ति मिल गई है। यही नहीं, पूर्व एडिशनल प्रिंसिपल और वर्तमान में डूंगरपुर मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. शलभ शर्मा की नेम प्लेट से भी पीछा छूट गया है। क्योंकि प्रिंसिपल डॉ. डीपी सिंह के आदेश पर एडि. प्रिंसिपल डॉ. रैगर का दफ्तर एडिशनल प्रिंसिपल-1 डॉ. एके वर्मा के चैम्बर में और डॉ. वर्मा का दफ्तर डॉ. रैगर के चैम्बर में शिफ्ट कर दिया है। डॉ. रैगर के पूर्व चैम्बर के बाहर टंगी डॉ. शर्मा की नेम प्लेट भी हटा दी गई है। यह देख आरएनटी के कई छात्र-कर्मचारी तो चौंक ही गए। वहां मौजूद दो कर्मचारी परस्पर बोल रहे थे कि डॉ. रैगर को चंद्र ग्रहण के बाद अब राहत मिली है। ज्योतिषविद् डॉ. अलकनंदा शर्मा ने बताया कि ज्योतिष के मुताबिक लाभ के चौघडिय़ा में नया दफ्तर शिफ्ट करने पर लाभ के अवसर प्राप्त होते रहते हैं। डॉ. रैगर और डॉ. वर्मा ने बताया कि चैम्बर लाभ का चौघडिय़ा देखकर ही शिफ्ट किए गए हैं।

यह था मामला : एक ही कमरे में आमने-सामने बैठते थे दो एडि. प्रिंसिपल

एक कमरे के दफ्तर में डूंगरपुर मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. शर्मा आरएनटी के एडि. प्रिंसिपल-2 डॉ. रैगर की मुख्य सीट के सामने बैठकर यहां काम-काज करते थे। मजे की बात यह थी कि डॉ. रैगर के एक कमरे के दफ्तर के बाहर दो नेम प्लेट भी लगी थीं। ऊपर वाली प्लेट पर डॉ. शलभ शर्मा, प्रिंसिपल और नीचे वाली प्लेट पर डॉ. ललित रैगर एडीशनल प्रिंसिपल-द्वितीय लिखा था। दैनिक भास्कर ने गत 1 दिसंबर के अंक ‘डॉक्टरों के 147 पद खाली, एडिशनल प्रिंसिपल के पद पर तीन-तीन अफसर, दो तो एक ही कमरे में बैठते हैं’ खबर प्रकाशित कर यह मामला उजागर किया था। इसके बाद डॉ. शर्मा को चिकित्सा शिक्षा निदेशालय ने यहां से हटाकर डूंगरपुर ही लगा दिया है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Udaipur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×